स्किन और मूड ही नहीं, आपके पीरियड साइकल को भी प्रभावित करता है विटामिन बी 12, जानिए कैसे

विटामिन बी 12 वॉटर साल्यूबल विटामिन है जो शरीर में रेड ब्लड सेल्स को प्रोडयूस करता है। शरीर में इसकी कमी को पूरा करने के लिए आहार में मांस, मछली और डेयरी उत्पादों को शामिल करना आवश्यक है।
सभी चित्र देखे Vitamin B 12 ki kami period me deri ka kaaran ho skta hai
अनियमित पीरियड साइकिल की समस्या की रोकथाम के लिए विटामिन बी 12 का सेवन आवश्यक है। चित्र : अडोबी स्टॉक
ज्योति सोही Updated: 29 Oct 2023, 20:31 pm IST
  • 141

शरीर को हेल्दी बनाए रखने के लिए डाइट में सभी विटामिन्स और मिनरल्स को एड करना ज़रूरी है। इससे बॉडी कई शारीरिक समस्याओं के जोखिम से बची रहती है। अन्य पोषक तत्वों के समान विटामिन बी 12 भी हमारे शरीर के लिए बेहद ज़रूरी है। इसकी कमी से न केवल मूड स्विंग की समस्या बढ़ जाती है बल्कि पीरियड साइकिल भी अनियमित होने लगती है। शरीर में रेड ब्लड सेल्स को बनाने वाला विटामिन बी 12 खून की कमी को पूरा करता है। जानते हैं कि इसकी कमी से किस प्रकार पीरियड साइकिल होती है प्रभावित (How Vitamin B 12 affect your periods)।

क्या है विटामिन बी 12

विटामिन बी 12 (Vitamin B 12) वॉटर साल्यूबल विटामिन है जो शरीर में रेड ब्लड सेल्स को प्रोडयूस करता है। शरीर में इसकी कमी को पूरा करने के लिए आहार में मांस, मछली और डेयरी उत्पादों को शामिल करना चाहिए। बतौर सप्लीमेंट भी विटामिन बी 12 (Vitamin B 12) का सेवन किया जा सकता है। विटामिन बी 12 नर्वस सिस्टम को भी उचित बनाए रखता है। विटामिन बी 9 यानि फोलेट के साथ मिलकर ये शरीर में आयरन के फंक्शन को सुचारू कर देता है। इससे बॉडी में लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण होता है।

क्यों इतना खास है विटामिन बी 12

बॉडी के इंटरनल सिस्टम को मज़बूत रखने के लिए शरीर में विटामिन बी 12 (Vitamin B 12) की मात्रा का नियमित होना आवश्यक है। नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ हेल्थ ऑफिस ऑफ डाइटरी सप्लीमेंट के अनुसार रोजमर्रा के जीवन में महिलाओं और पुरूषों को 2.4 एमसीजी विटामिन बी 12 की आवश्यकता होती है।

इसके अलावा वे महिलाएं जो गर्भावस्था से गुज़र रही हैं, उन्हें विटामिन बी 12 की मात्रा का सेवन डॉक्टरी सलाह के बाद करना चाहिए। इसकी मात्रा शरीर में घट जाने से ब्लड में रेड ब्लड सेल्स कम हो जाते हैं। जिससे शरीर में खून की कमी बढ़ने लगती है और शरीर एनीमिया का शिकार हो जाता है। वे महिलाएं जिनकी पीरियड साइकिल अनियमित रहती हैं। उन्हें  विटामिन बी 12 का सेवन अवश्य करना चाहिए।

जानिए क्यों आपकी सेहत के लिए जरूरी है विटामिन बी 12 (How Vitamin B 12 affect your periods)

पेसिफिक सेंटर फॉर नेचुरोपेथिक मेडिसिन के अुनसार विटामिन बी 12 (Vitamin B 12) को कोबालामिन (cobalamin) भी कहा जाता है। इस पोषक तत्व की प्राप्ति के लिए डाइट में अंडे, मांस और अनाज को शामिल करना आवश्यक है। वे महिलाएं जिन्हें पीरियड के दिनों में रक्त स्त्राव की कमी रहती है। उन्हें विटामिन बी 21 का सेवन अवश्य करना चाहिए। शरीर में इस पोषक तत्व की कमी होने से पीरियड साइकिल डिस्टर्ब होने के अलावा डिप्रेशन और थकान जैसी समस्याएं बढ़ने लगती हैं। इसके सेवन से मांसपेशियों की मज़बूती बनी रहती है।

1. पीरियड साइकिल को बनाए रेगुलर

अनियमित पीरियड साइकिल की समस्या की रोकथाम के लिए विटामिन बी 12 (Vitamin B 12) का सेवन आवश्यक है। दरअसल, विटामिन बी 12 की उचित मात्रा से शरीर में रेड ब्लड सेल्स की मात्रा नियंत्रित रहती है। इससे इरेगुलर पीरियड साइकिल रेगुलर होती है। साथ ही लो बल्ड फ्लो की समस्या से भी बच सकते हैं। एनीसबीआई के रिसर्च के अनुसार मासिक चक्र के दौरान महिलाएं 80 मिलीलीटर ब्लड खो देती हैं। इससे शरीर में खूब की मात्रा कम हो जाती है।

यूं तो कई विटामिन और मिनरल इसके लिए मददगार साबित होते हैं। इसके लिए शरीर में खासतौर से विटामिन बी 12, फोलिक एसिड और आयरन का होना आवश्य है। इससे हैवी फ्लो की समस्या भी हल हो जाती है।

Periods irregular hone par yeh food khayein
अनियमित पिरियड्स होने पर इन फूड्स को अपनी डाईट का हिस्सा ज़रूर बनाएं। चित्र:शटरस्टॉक

2. मूड स्विंग से बचाए

शरीर में विटामिन बी 12 (Vitamin B 12) की भरपूर मात्रा पाए जाने से बार बार मूड सि्ंवग की समस्या से बचा जा सकता है। इसके अलावा मेंटल हेल्थ से जुड़ी अन्य समस्याओं की रोकथाम के लिए भी आवश्यक है। इंस्टीट्यूट ऑफ बिहेवियरल न्यूरोसाइंसेस एंड साइकोलॉजी के अनुसार 18 से लेकर 25 साल तक की आयु के लोगों में तनाव की समस्या पाई जाती है। युवाओं में होने वाली इस समस्या से बचने के लिए विटामिन बी 12 का सेवन ज़रूरी है।

3. त्वचा का रखें ख्याल

ओरेगोन युनिवर्सिटी ऑफ अमेरिका के अनुसार वे महिलाएं, जिनके चेहरे पर झुर्रियां, पिगमेंटेशन और एक्ने की समस्या बढ़ने लगती है। उन लोगों को विटामिन बी 12 का सेवन अवश्य करना चाहिए। दरअसल, इससे शरीर में कोलेजन की मात्रा बढ़ने लगती है। जो स्किन संबधी समस्याओं को कम कर देता है। साथ ही स्किन सेल्स में बढ़ोतरी होती है। इसके अलावा त्वचा का माइश्चर भी बरकरार रहता है।

sundar dikhne ke liye vitamin b 12 zaruri hai
अन्हेल्दी लाइफ स्टाइल अपनाने से भी हमारी स्किन की सुंदरता खत्म होती है। चित्र : अडोबी स्टॉक

4. थकान और सिर दर्द से राहत

शरीर में रेड ब्लड सेल्स की कमी के चलते बार बार थकान की समस्या बढ़ने लगती है। दरअसल, बॉडी में ऑक्सीजन की कमी होने से आलस्य और सिरदर्द जैसी समस्याएं भी बढ़ने लगती है। इन समस्याओं को पूरा करने के लिए आरबीसी का होना ज़रूरी है। इसका सामान्य स्तर होने से नींद न आने की समस्या भी हल हो जाती है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

ये भी पढ़ें- प्रदूषण पहुंचा रहा है त्वचा को नुकसान, तो जानिए आप अपनी स्किन को कैसे प्रोटेक्ट कर सकती हैं

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख