वैलनेस
स्टोर

इग्‍नोर न करें शरीर के इन 6 संवेदनशील हिस्सों की हाइजीन, हम बता रहें इनकी देखभाल के आसान तरीके

Published on:27 January 2021, 13:01pm IST
सिर्फ वही नहीं, आपके शरीर के कुछ और हिस्‍से भी हैं, जिन्‍हें खास देखभाल और स्‍वच्‍छता की जरूरत होती है।  हम बता रहे हैं इसके बारे में सब कुछ।
विनीत
  • 87 Likes
आपको अपने शरीर के इन संवेदनशील हिस्सों की अधिक देखभाल करने की जरूरत है। चित्र-शटरस्टॉक।

शरीर के कुछ हिस्सों की धुलाई, सफाई और देखभाल न करने से गंभीर स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। उदाहरण के लिए, यदि हम अपने हाथ नहीं धोते हैं, तो हमें श्वसन संबंधी बीमारियों और दस्त जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इसके अलावा भी, शरीर के कई अन्य ऐसे हिस्से भी हैं जिन्हें हमारी सोच से ज्यादा बेहतर स्वच्छता की आवश्यकता होती है।

हम आपको शरीर के 6 ऐसे महत्वपूर्ण हिस्सों के बारे में बता रहे हैं, जिनकी आपको अधिक देखभाल करने की जरूरत है। क्या आप इन्हें जानने के लिए उत्सुक हैं? चलिए तो बिना समय बर्बाद किए हम आपको बताते हैं।

यहां हैं शरीर के वे 6 हिस्से जिनकी आपको अधिक देखभाल करने की जरूरत है

  1. पेट की नाभि में आपकी सोच से ज्यादा बैक्टीरिया होते हैं

अब इसका विश्लेषण करने की कोशिश करें कि आप कितनी बार अपनी नाभि को साफ करती हैं। दरअसल, यह नहाने के बाद भी अक्सर मैली रह जाती है। यह सुनने में थोड़ा डरावना लग सकता है, लेकिन शोधकर्ताओं का कहना है कि नाभि में आमतौर पर विभिन्न प्रकार के 67 बैक्टीरिया होते हैं।

इसकी देखभाल कैसे करें:

  • सप्ताह में कम से कम एक बार इसे साफ करने की कोशिश करें।
  • नाभि को साफ करने के लिए एक कॉटन स्वाब का इस्तेमाल करें। इसे अल्कोहल में डुबाएं और धीरे-धीरे नाभि की आंतिरिक सतहों को रगड़ें। अल्कोहल को धोने के लिए पानी में भीगी हुई एक फ्रेश कॉटन बॉल का इस्तेमाल करें और इससे अच्छे से अल्कोहल को साफ करें।
  1. आपको अपने क्यूटिकल्स को काटने की जरूरत नहीं है

नाखून के किनारे की त्वचा या क्यूटिकल्स (cuticles) को काटना, एक अच्‍छे मैनीक्योर का हिस्‍सा हो सकता है। पर असल बात यह है क्यूटिकल्स होने के पीछे भी एक कारण होता है। वह आपके नाखूनों को सुरक्षा प्रदान करते हैं।

आपके नाखूनों का रंग आपकी सेहत के संकेत देता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
आपके नाखूनों का रंग आपकी सेहत के संकेत देता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

अगर आपके नाखूनों के पास क्यूटिकल्स नहीं हैं, तो आपके नाखूनों पर सफेद धब्बे या रेखाएं होंगीं। इसके अलावा जितना अधिक इन्हें काटा जाता है, वे उतने ही अलग होते जाते हैं।

उनकी देखभाल कैसे करें:

  • संतरे की लकड़ी के टूथपिक का प्रयोग करें और नाखूनों को लंबा दिखाने के लिए क्यूटिकल्स को धीरे से पीछे धकेलें।
  • क्यूटिकल्स को ड्राई होने से बचाने के लिए उन्हें मॉश्चराइज करें। अपने मैनीक्योरिस्ट से अपने नाखूनों के उस हिस्से की देखभाल को लेकर परामर्श लें।
  1. अंडरआर्म्स में गंध का कारण

कभी-कभी हमारे अंडरआर्म्स हमारे सबसे रोमांचक क्षणों के दौरान हमें धोखा दे सकते हैं। एक विशेष प्रकार का बैक्टीरिया है जो अंडरआर्म में गंध का कारण बनता है। यह एक दिलचस्प खोज है कि जितना अधिक आप डिओडोरेंट (दुर्गन्ध दूर करनेवाला) का इस्तेमाल करती हैं, उतने ही अधिक आपके अंडरआर्म्स बैक्टीरिया में बढ़ते हैं।

इसकी देखभाल कैसे करें:

  • अगर आपके अंडरआर्म्स में बदबू नहीं हैं, तो डिओडोरेंट का अधिक इस्तेमाल न करें।
  • पॉलिएस्टर से बने कपड़े न पहनें।
  • विशेष स्पोर्ट्सवियर (sportswear) खरीदें, जो आपके शरीर को सांस लेने में मदद करें।
  • जिस तरह से आप अपने कपड़े धोती हैं वह महत्वपूर्ण है, क्योंकि 30 डिग्री सेल्सियस पर और हल्के डिटर्जेंट के साथ कपड़े धोने पर बैक्टीरिया अभी भी आपके कपड़ों में रह सकते हैं।
  1. अपनी जीभ को साफ करना भी है जरूरी

सिर्फ आपके दांतों को ही नहीं, बल्कि जीभ को भी विशेष उपचार की आवश्यकता होती है। वैज्ञानिकों का कहना है कि इसे नियमित रूप से साफ करने से प्लाक बिल्डअप और अन्य ओरल हेल्थ कंडीशन को कम किया जा सकता है।

गंदी जीभ पेट संबंधी समस्‍याओं का भी कारण हो सकती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

इसकी देखभाल कैसे करें:

  • टूथब्रश की तुलना में जीभ के स्क्रेपर्स (Tongue scrapers) और क्लीनर अधिक प्रभावी होते हैं।
  • अपनी जीभ के लिए नरम ब्रिसल्स वाला टूथब्रश चुनें।
  • अपने दांतों को साफ करते समय हर बार अपनी जीभ को भी साफ करें।
  • अपनी जीभी को आगे और पीछे की ओर दोनों तरफ से ब्रश से साफ करें।
  1. आपके निपल्स भी देते हैं स्वास्थ्य के संकेत

पुरुषों और महिलाओं दोनों को निप्पल की समस्या हो सकती है, क्योंकि वे बहुत संवेदनशील होते हैं। सप्ताह में कम से कम एक बार उन पर ध्यान देना और उनकी उपस्थिति में किसी भी बदलाव की निगरानी करना महत्वपूर्ण है।

उनकी देखभाल कैसे करें:

  • कभी भी डिस्चार्ज, त्वचा में बदलाव, असामान्य गांठ और दर्द, गंध, या खुजली जैसे लक्षणों को नजरअंदाज न करें।
  • अगर आपको कोई भी चेतावनी संकेत दिखाई देता है, तो तुरंत एक डॉक्टर को दिखाएं।
  • लोशन या निप्पल क्रीम जैसे लेनोलिन से उन्हें मॉइश्चराइज करें।
  1. अपने कान के पीछे के हिस्से को नजरअंदाज न करें

हम अपने कानों को वैक्स से साफ करते हैं, लेकिन एक और हिस्सा है जिस पर अक्सर किसी का ध्यान नहीं जाता है, वह है हामारे कानों के पीछे का हिस्सा। यदि आप उस हिस्से की देखभाल नहीं करती हैं, तो एक बुरी गंध और कानों के पीछे दानों का सामना करना पड़ सकता है।

हम में से अधिकांश लोग कान के पीछे के हिस्से पर ध्यान नहीं देते हैं। चित्र-शटरस्टॉक।

इसकी देखभाल कैसे करें:

  • बस इस क्षेत्र को साबुन और गर्म पानी से धोएं।
  • सोने से पहले अपने झुमके या ईयर रिंग्स को उतार दें।

लेडीज, आपके शरीर के ये छह हिस्‍से काफी संवेदनशील होते हैं। इसलिए इनकी हाइजीन का ख्‍याल भी आपको अपने बाकी शरीर की तरह ही रखना है।

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।