खांसी और बुखार कहीं सीज़नल फ्लू के लक्षण तो नहीं, जानिए जरूरी एहतियात और घरेलू उपचार

सीज़नल फ्लू के कारण सिरदर्द, खांसी, जुकाम और बुखार की शिकायत होना आम है। जानते है कि किन घरेलू उपायों की मदद से हम अपने स्वास्थ्य को बेहतर और हेल्दी बनाए रख सकते हैं।
Seasonal flu se kaise paayein raahat
चित्र एडोबी स्टॉक।
ज्योति सोही Published: 29 Sep 2023, 02:17 pm IST
  • 141

मौसम में आने वाला बदलाव हर किसी को सुहाना लगता है। मगर यही सीज़नल चेंजिज़ (Seasonal changes) हमारे स्वास्थ्य को भी कई प्रकार से प्रभावित करता है। दरअसल बदल रहे मौसम के साथ शरीर के तापमान में भी बदलाव आने लगता हैं। इसके चलते सिरदर्द, खांसी, जुकाम और बुखार की शिकायत होने लगती है। कई बार लाइफस्टाइल मिसटेक्स इस समस्या का कारण बनने लगती है। जानते है कि किन उपायों की मदद से सीज़नल फ्लू से राहत मिल सकती हैं (seasonal flu home remedies)

खुद को हेल्दी रखने के लिए इन टिप्स को करें फॉलो

1. हाइड्रेटेड रहें

पानी पीने से शरीर में निर्जलीकरण से समस्या नहीं होती है, जिससे बैक्टीरिया के पनपने का खतरा टल जाता है। बॉडी को हेल्दी बनाए रखने के लिए पानी पीएं। इससे शरीर में मौजूद टॉक्सिक पदार्थों को आसानी से डिटॉक्स किया जा सकता है। इसके अलावा नारियल पानी, नींबू पानी और फलों के रस जैसे नेचुरल पेय पदार्थों का सेवन भी शरीर को कई फायदे पहुंचाता है।

Seasonal flu mei Jyada paani peeyein
पानी पीने से शरीर में बैक्टीरिया के पनपने का खतरा टल जाता है। चित्र: शटरस्टॉक

2. ताजे़ फल और सब्जियां खाएं

शरीर को हेल्दी बनाए रखने के लिए फ्रेश फलों और सब्जियों का सेवन करें। इसके अलावा फास्ट फूड व ठण्डे पेय पदार्थ पीने से भी बचें। इससे गले में होने वाले संक्रमण का खतरा बढ़ने लगता है।

3. हाइजीन का रखें ख्याल

घर पहुंचते ही हाथ पैर धोएं। इसके अलावा कपड़ों को भी बदलें। दिनभर की थकान और स्वैटिंग भी हमारी परेशानी बढ़ा सकती हैं। हाथ पैर धोने के बाद साफ कपड़ें पहनें। इससे आप खुद को तरोताज़ा महसूस करने लगते हैं।

4. सर्दी खांसी से ग्रस्त लोगों के संपर्क में आने से बचें

कई बार अगर कोई ऐसा व्यक्ति आपके संपर्क में आया है। जो पहले से ही खांसी और जुकाम का शिकार है। तो उसस ज्यादा बातचीत करने और नज़दीक जाने से बचें। इसके अलावा मास्क पहनकर रखें।

5. डॉक्टरी उपचार ज़रूरी

कई बार मामूली खांसी जुकाम किसी बड़े खतरे का भी संकेत हो सकता है। ऐसे में खुद को स्वस्थ बनाए रखने के लिए गले में दर्द व खराश महसूस होने के बाद डॉक्टरी सलाह अवश्य लें।

सर्दी और खांसी में इन घरेलू नुस्खों को अपनाएं

1. गार्गल करें

गले में होने वाली खराश से राहत पाने के लिए एक गिलास गुनगुने पानी में 1 चम्मच नमक मिलाकर उससे कुछ देर तक गार्गल करें। इससे गले को राहत और सुकून मिलता है। कुछ दिन तक सुबह उठकर लगातार इस प्रक्रिया को दोहराने से गले में होने वाली दर्द और खराश दूर होने लगेगी।

2. अदरक और शहद

एंटीफंगल और एंटी इंफलामेटरी गुणों से भरपूर अदरक सर्दी जुकाम का एक कारगर इलाज है। एक इंच अदरक को कसकर उसका रस निकालें और उसे आधा चम्मच शहद में मिला लें। अब इसे धीरे धीरे खाएं। रोज़ाना इसका सेवन करने से गले में सूजन व सर्दी खांसी की समस्या को हल किया जा सकता है। इससे संक्रमण पर आसानी से काबू किया जा सकता है।

honey apki problems ko door kar sakta hai
अदरक और शहद सर्दी खांसी में फायदेमंद चित्र: शटरस्टॉक

3. मुलेठी की चाय

मौसम में आई तब्दीली अगर सर्दी और खांसी का कारण बन रही हैं। तो इससे बचने के लिए एक कप पानी में आधा चम्मच मुलेठी को उबालकर पीएं। औषधीय गुणों से भरपूर मुलेठी का सेवन करने से गले में बनने वाले म्यूकस और संक्रमण के इलाज में फायदा मिलता है। विटामिन, मिनरल और पोटेशियम से भरपूर मुलेठी के पाउडर को शहद में मिलाकर लेने से गले को राहत मिलती है।

4. विटामिन सी का करें सेवन

विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थ शरीर का इम्यून सिस्टम मज़बूत करने में मददगार साबित होते हैं। इससे शरीर में संक्रमण का खतरा टल जाता है और खांसी जुकाम से राहत मिल जाती हैं। इसके लिए डाइट में कीवी, नींबू और संतरे को एड करें। इससे मौसम में आए बदलाव सेहत पर असर नहीं करते हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

ये भी पढ़ें- Tongue bite : कॉमन समस्या है जीभ का कटना, जानिए क्या हो सकता है इसका घरेलू उपचार

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख