कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल कर हार्ट को हेल्दी रखता है ऑलिव ऑयल, जानिए इससे जुड़े कुछ जरूरी फैक्ट्स

ऑलिव ऑयल का प्रयोग अपने नियमित खाद्य पदार्थों को बनाने में कर सकती हैं। पोषक तत्वों से भरपूर यह ऑयल आपके स्वास्थ्य को लंबे समय तक बनाए रखने में मदद करेगा।
olive oil se hathon ki twacha ko banayein mulayum
मम्मी की रसोई में मौजूद कुछ इंग्रीडिएंटस की मदद से बालों को मुलायम बनाया जा सकता है। चित्र : शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 27 Jul 2022, 10:00 am IST
  • 135

सालों से ऑलिव ऑयल का प्रयोग विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों को बनाने में होता चला आ रहा है। खासकर इसका इस्तेमाल मेडिटरेनियन डाइट और यूरोपियन व्यंजनों को बनाने में किया जाता है। परंतु अपने पोषक तत्वों एवं स्वास्थ्य लाभ को लेकर अब यह सभी जगहों पर प्रचलित होता जा रहा है। ऑलिव ऑयल का कलर और फ्लेवर अलग अलग हो सकता है और यह इस बात पर निर्भर करता है कि यह कितना एसिडिक है। वही अन्य ऑयल जैसे कि सीट्स, नट्स और ग्रेन्स से निकाले जाते हैं ठीक उसी तरह ऑलिव ऑयल फल से निकाला जाता है। यदि आप कोलेस्ट्रॉल और हार्ट डिजीज से बचना चाहती हैं, तो अपनी डाइट में ऑलिव ऑयल (Olive oil for heart health) जरूर शामिल करें।

यहां जाने कैसे खास है ऑलिव ऑयल

पब मेड सेंट्रल द्वारा प्रकाशित डाटा के अनुसार ऑलिव ऑयल में पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई और विटामिन के पाए जाते हैं। वहीं यह एंटीऑक्सीडेंट का एक अच्छा स्रोत होता है, जो कि इन्फ्लेमेशन और लंबे समय से चली आ रही बीमारी से निजात पाने में मदद करते है। ऑलिव ऑयल में मोनोसैचुरेटेड फैटी एसिड पाए जाते हैं। वहीं नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक रिसर्च रिपोर्ट की बात करें तो उसके अनुसार मोनोसैचुरेटेड फैटी एसिड हार्ट हेल्थ के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होती हैं। इसके साथ हार्ट से जुड़ी लगभग सभी बीमारियों से प्रोडक्ट करती हैं।

olive oil
स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है ऑलिव ऑयल. चित्र शटरस्टॉक।

ऑलिव ऑयल और सेहत

1. हार्ट हेल्थ को बनाए रखें

साइंसडायरेक्ट फार्मोकोलॉजिकल रिसर्च द्वारा प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार ऑलिव ऑयल में मौजूद पोषक तत्व दिल से जुड़ी बीमारियों में कई तरह से फायदेमंद हो सकते हैं। यह इन्फ्लेमेशन को कम करता है और शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी नियंत्रित रखता है।

2. कैंसर होने की संभावना को कम करें

पब मेड सेंट्रल द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार एंटी इन्फ्लेमेटरी इनग्रेडिएंट्स का कंजंक्शन कैंसर की संभावना को कम कर देता है। ऑलिव ऑयल में भी एंटी इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टी पाई जाती है। वही ऑलिव ऑयल में एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो कैंसर पैदा करने वाली ऑक्सीडेटिव डैमेज को रोकते हैं।

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा 2011 में किए गए एक रिव्यु के अनुसार ऑलिव ऑयल का कंसम्पशन ब्रेस्ट कैंसर ऑल डाइजेस्टिव सिस्टम मैं होने वाले कैंसर की संभावना को बहुत कम कर देता है।

olive oil benefits
हार्ट के लिए हेल्दी होता है ऑलिव आयल। चित्र-शटरस्टॉक।

3. इन्फ्लेमेशन रिड्यूस करें

कई स्टडीज का कहना है कि बॉडी में यदि सीआरपी (c-reactive protein) लेवल हाई हो तो इंफ्लामेशन होने की संभावना बनी रहती है। ऐसे में एक्स्ट्रा वर्जिन ऑयल को अपनी डाइट में शामिल करें, इसमें मौजूद एंटी इन्फ्लेमेटरी कंपाउंड जैसे कि ओलियोकैंथल सीआरपी लेवल को कम करते हैं। ऑलिव ऑयल का सेवन शरीर में इन्फ्लेमेशन को बढ़ने से रोकता है।

4. अल्जाइमर की समस्या में कारगर

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन के अनुसार अल्जाइमर दुनिया का सबसे कॉमन न्यूरोजेनरेटिव डिजीज है जो कि आगे चलकर डिमेंशिया जैसी बीमारी का कारण बन सकता है। पब मेड सेंट्रल द्वारा प्रकाशित एक डेटा के अनुसार अल्जाइमर ब्रेन में बीटा एमाइलॉयड नामक प्रोटीन को बिल्ड कर देता है। ऐसे में स्टडीज की माने तो ऑलिव ऑयल से युक्त पदार्थों का सेवन डिमेंशिया होने की संभावना को कम कर देता है। परंतु अभी इस बात की पूरी तरह से पुष्टि नहीं की गई है।

यह भी पढ़ें : वज़न घटाने में मददगार साबित हो सकता है इलायची का पानी, जानिए कैसे करना है इस्तेमाल

  • 135
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख