कब्ज की छुट्टी कर, पेट के अल्सर से बचाता है कटहल, जानिए कैसे करना है आहार में शामिल

कटहल यूपी, बिहार, मध्य प्रदेश ही नहीं, बल्कि अब दुनिया भर में उपयोग किया जाने लगा है। इसके औषधीय लाभ इसे फूड इंडस्ट्री में फेमस बना रहे हैं।

Jackfruit-benefits
यहां जानिए पेट के स्वास्थ्य के लिए कटहल को कैसे करें आहार में शामिल। चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Published on: 17 October 2022, 18:07 pm IST
  • 147

कटहल को फल और सब्जी दोनों ही रूप में जाना जाता है। परंतु यह फल हो या सब्जी दोनों ही रूप में आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। सालों से घर में हम कटहल की बनी सब्जी खाते आ रहे हैं, परंतु आपने कभी भी इस बारे में जानने की कोशिश नहीं की होगी कि सेहत पर इसके क्या प्रभाव हैं। हालांकि, इस पर आपको बता दें की कटहल में कई ऐसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद हो सकते हैं। इसी के साथ यह डयबिटीज, ब्लड प्रेशर से लेकर पेट संबंधी समस्याएं जैसे की अल्सर (Jackfruit benefits for stomach) में भी फायदेमंद होता है।

इतना ही नहीं अक्सर लोग कटहल के बीज को निकाल कर फेंक देते हैं। वहीं कईयों के मन में यह सवाल रहता है, कि इसके बीज को खाएं या नहीं और यदि खाएं तो किस तरह खाएं। हालांकि, कटहल के साथ-साथ इसके बीज के भी अपने कई स्वास्थ्य लाभ हैं। तो चलिए आज आपको बताते हैं कटहल से जुड़ी कुछ जरूरी बातें और इसे डाइट में शामिल करने का सही तरीका।

यहां जानें कटहल में मौजूद पोषक तत्वों के बारे में

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा 2019 में कटहल को लेकर किए गए एक अध्ययन के अनुसार इसमे प्रोटीन, विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट जौसे कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व मौजूद होते हैं। वहीं यह विटामिन बी जैसे की राइबोफ्लेविन और थियामिन का एक अच्छा स्रोत है।

kathal heart ke liye laabhdayi
कटहल फायदेमंद होता है। चित्र: शटरस्टॉक

इसी के साथ कटहल में मौजूद फाइबर और रेसिस्टेंट स्टार्ट आपके शरीर में जाकर गट में मौजूद फायदेमंद बैक्टीरिया के लिए खाद्य स्रोत बनते हैं और इन्हें अच्छी तरह काम करने के लिए उत्तेजित करते हैं। इसी के साथ यह फास्फोरस और मैग्नीशियम का भी एक अच्छा स्रोत है।

अल्सर से लेकर पाचन संबंधी समस्याओं से राहत पाने में भी मददगार है कटहल

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा 2019 में कटहल पर की गई एक स्टडी के अनुसार इसमें कई प्रकार के फाइटोन्यूट्रिएंट्स जैसे की आइसोफ्लेवोन्स, लिग्नांस और सैपोनिन्स पाए जाते हैं। इसके साथ ही इसमें एंटीकैंसर, एंटीहाइपरटेंसिव, एंटीअल्सर और एंटीएजिंग प्रॉपर्टीज भी मौजूद होती है। जो इसकी गुणवत्ता को और ज्यादा बढ़ा देती हैं। यह शरीर में कैंसर सेल्स को बनने से रोकते हैं और पेट में होने वाले अल्सर की समस्या में भी फायदेमंद माने जाते हैं।

इसी के साथ न केवल कटहल बल्कि कटहल के बीज में भी सॉल्युबल और इनसोल्युबल दोनों ही तरह के फाइबर मौजूद होते हैं। जो की पाचन संबंधी समस्याओं में काफी ज्यादा फायदेमंद माने जाते हैं।

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन के अनुसार फाइबर को प्रीबायोटिक कहा जाता है। जो आंतों में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होते हैं। आंतों में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया डाइजेस्टिव हेल्थ को संतुलित रखने के साथ ही इम्यून फंक्शन को भी बूस्ट करते हैं। जिस वजह से आपके समग्र सेहत संतुलित रहती है।

इतना ही नहीं कटहल हो या उसके बीच इन दोनों में पर्याप्त मात्रा में फाइबर मौजूद होता है इस वजह से यह कब्ज, अपच इत्यादि की समस्या में कारगर होते हैं।

kathal ki sabzi ke fayde
कटहल का कोफ्ता बनाने में कम तेल-मसाले का प्रयोग करें। चित्र: शटरस्टॉक

बेहतर लाभ के लिए इन 5 तरीकों से करें कटहल को अपनी डाइट में शामिल

1. बॉईल करें

कटहल को बॉईल करके नमक के साथ खा सकती हैं। इस तरीके से इसके सभी आवश्यक पोषक तत्व शरीर में अच्छी तरह लगते हैं।

2. टॉपिंग्स के तौर पर इस्तेमाल करें

इसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काट कर अपने मन पसंदीदा खाद्य पदार्थों के ऊपर टॉपिंग्स के रूप में भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

3. रोस्टेड कटहल

कटहल को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट के घी या बटर, काली मिर्च, नमक, चाट मसाला, इत्यादि के साथ रोस्ट कर के स्नेक्स के तौर ले सकती हैं।

4. कटहल के चिप्स

कटहल का चिप्स तैयार करें। इसकी पतली पतली स्लाइस बनाएं और उन्हें घी या फिर ऑलिव ऑयल में डीप फ्राई करें। अब इसके ऊपर काली मिर्च, चाट मसाला और स्वादानुसार नमक स्प्रिंकल करें। अब स्नैक्स के तौर पर इसे सर्व कर सकती हैं।

nutrients ka powerhouse hai jackfruit
टेस्टी क्रंची पोषक तत्वों का खजाना हैं कटहल के बीज । चित्र: शटरस्‍टॉक

5. सलाद में हो सकता है उपयोग

अपने मन पसंदीदा सलाद को बनाते हुए कटहल को भी उसमें शामिल कर सकती है। यदि आप चाहे तो इसके कच्चे पतले पतले स्लाइस ले सकती हैं। या फिर कटहल को बॉईल करके इसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर भी सलाद में शामिल किया जा सकता है।

6. कटहल सूप भी रहेगा शानदार

कटहल की सब्जी तो आप सभी ने खाई होगी। अब कुछ नया ट्राई करें और कटहल सूप बनाएं। कुछ अन्य सब्जी एवं मसालों की मदद से आप कटहल के सूप को स्वादिष्ट बना सकती हैं।

कटहल के बीज हैं और भी फायदेमंद, इस तरह करें आहार में शामिल

1. कटहल के बीज का हमस

कटहल के बीज का हमस बनाने के लिए कटहल के बीज को उबालकर अन्य सब्जी जैसे कि बीन्स, आलू इत्यादि के साथ मिला दें। यह काफी ज्यादा फायदेमंद हो सकता है।

2. रोस्टेड सीड्स

कटहल के बीज को उबालकर इसके ऊपर के छिलके को हटा दें। अब आप चाहे तो इसे ड्राई रोस्ट या फिर कुछ मसालों के साथ मिक्स करके फ्राई कर सकती हैं।

jackfruit-seeds-benefits
मानसून के समय कटहल के बीज कर सकते हैं हरी सब्जियों की कमी पूरी, चित्र: शटरस्टॉक

3. चपाती बनाने में करें इस्तेमाल

कटहल के बीज को रोटी और चपाती बनाते वक्त आटे में पीसकर इस्तेमाल कर सकती हैं। इसे उबाल कर पीस लें और आटा गूंदते वक्त इसे उसमें डालकर साथ मे गूंद लें।

4. कटहल के बीज की सब्जी

जिस तरह आप कटहल की सब्जी तैयार करती हैं। ठीक उसी प्रकार कटहल के बीज की सब्जी भी तैयार कर सकती हैं।

5. कटहल के बीज का बटर

यदि आप चाहें तो घर पर हीं कटहल के बीच का बटन तैयार कर सकती हैं।

6. उबले हुए कटहल के बीज

इसे उबालकर कच्चा नमक के साथ खाएं। इसके साथ ही इसे अपने पसंदीदा खाद्य पदार्थों में टॉपिंग्स के रूप में इस्तेमाल कर सकती हैं। वहीं यदि आप चाहें तो इसे अपनी स्मूदी में भी मिक्स कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें : सिर्फ डाइट ही नहीं, फेशियल के लिए भी लाजवाब हैं चिया सीड्स, यहां जानिए इसके 3 DIY फेशियल मास्क

  • 147
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें