गंभीर समस्याओं का संकेत हो सकती है जीभ पर नजर आने वाली सफेद रंग की कोटिंग, इसे न करें नजरंदाज

अगर आपकी जीभ पूरी तरह से साफ और अपने प्राकृतिक रंग में नहीं होती और इसपर सफेद रंग की कोटिंग चढ़ी हुई नजर आती है, तो यह आपके अनहेल्दी पाचन क्रिया का संकेत हो सकता है।
सभी चित्र देखे jaane jibh ka pilapan dur karne ke kuchh tips
जानें जीभ की सफ़ेद परत को दूर करने के कुछ सामान्य टिप्स। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 9 Jun 2024, 16:00 pm IST
  • 111

क्या आपको मालूम है आपके जीभ आपकी सेहत का हाल बताते हैं। जीभ केवल खाद्य पदार्थों के स्वाद ही नहीं बल्कि आपके अंदरूनी सेहत के बारे में भी बताती है। क्या आपने कभी सुबह उठकर अपने जीभ को आईने में देखा है? यदि नहीं! तो इसे जरूर देखें। अगर आपकी जीभ पूरी तरह से साफ और अपने प्राकृतिक रंग में नहीं होती और इसपर सफेद रंग की कोटिंग चढ़ी हुई नजर आती है, तो यह आपके अनहेल्दी पाचन क्रिया का संकेत हो सकता है। वहीं यह कई अन्य समस्याओं की ओर भी इशारा करता है।

आयुर्वेद एक्सपर्ट डॉक्टर ऐश्वर्या संतोष ने जीभ पर सफेद रंग की कोटिंग नजर आने के कारण बताते हुए इन्हें अवॉइड करने के कुछ टिप्स भी दिए हैं। तो चलिए जानते हैं, आखिर ऐसा क्यों होता है (causes of white tongue) और इस स्थिति को कैसे अवॉइड करना है।

पहले जानें जीभ पर नजर आने वाले सफेद कोटिंग के कारण (causes of white tongue)

यदि सुबह उठने के साथ आपकी जीभ सफेद रंग की नजर आती हैं, तो यह दर्शाता है कि आपको अपनी पाचन क्रिया पर ध्यान देने की आवश्यकता है। आपका जीभ खाद्य पदार्थों के स्वाद को महसूस करने के साथ ही आपको आपकी बॉडी के हाल भी बताता है। जैसे कि यह दोषा इंबैलेंस, डाइजेस्टिव डिस्टरबेंस, बॉडी इन्फ्लेमेशन और अन्य कई समस्याओं को दर्शाता है।

यह भी पढ़ें: अल्कोहल इनटेक बढ़ा सकता है डायबिटीज के मरीजों की मुश्किल, जानें इन दोनों के बीच का कनेक्शन

यदि आपकी जीभ पर भी सफेद रंग की कोटिंग नजर आती है, तो इसका मतलब यह है, कि आपकी पाचन क्रिया सही से कार्य नहीं कर रही। जो खाद्य पदार्थ आप खा रही हैं, वे पूरी तरह से डाइजेस्ट नहीं हो रहे हैं और न ही वे सही तरीके से मेटाबोलाइज हो रहे हैं। जिसकी वजह से काफी ज्यादा टॉक्सिन एकम्यूलेशन होता है, और बॉडी में कफा इंबैलेंस हो जाता है।

causes of white tongue
यह आपके अनहेल्दी पाचन क्रिया का संकेत हो सकता है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

इसके अलावा इन कारणों से हो सकती है ये समस्या

ओरल हाइजीन मेंटेन न करना, खास कर ब्रशिंग और फ्लॉसिंग के प्रति लापरवाही बरतना।
ड्राई माउथ
डिहाईड्रेशन
मुंह से सांस लेने की आदत
लंबे समय तक फीवर होना
स्मोकिंग और तंबाकू चबाना
अधिक मात्रा में शराब पीना

इसे अवॉइड करने के लिए सबसे पहले पाचन संतुलन पर ध्यान दें (digestive health and white tongue)

इसे अवॉइड करने के लिए एक्सपर्ट के बताएं कुछ खास टिप्स को फॉलो करें।

1. नियमित रूप से रोजाना अपने दिन की शुरुआत अजवाइन या सूखे अदरक की चाय के साथ करें।
2. हमेशा गर्म खाना खाने की कोशिश करें।
3. रात के डिनर का समय निर्धारित करें और जल्दी खाएं। देर रात खाने की आदत नुकसान पहुंचाती है।
4. खाना खाने के बाद 10 मिनिट जरूर टहलें।
5. दोपहर के भोजन से ठीक पहले अदरक का एक टुकड़ा हिमालयन पिंक सॉल्ट के साथ खाएं।
6. खाने के साथ कोल्ड ड्रिंक न पिएं, बल्कि गर्म पानी पिएं और उसे भी घूंट-घूंट करके पिएं।
7. महीने में एक बार उपवास जरूर करें। यह बस पाचन क्रिया को आराम देता है, साथ-साथ बॉडी टॉक्सिंस को रिलीज करने में भी मदद करता है।
8. पूरा पेट भरने तक न खाएं, चाहें आपको वापस खाना पड़े परंतु सीमित मात्रा में ही भोजन करें।
9. खाना खाने के बाद मसालेदार छाछ पिएं।
10. रात का खाना जितना हो सके हल्का रखें।
11. खाने के बाद कम से कम 2 घंटे तक न सोएं।

apni jeebh ko saaf karein
अपनी जीभ को साफ करें। चित्र : शटरस्टॉक

ओरल हाइजीन भी है जरूरी

यदि आपकी जीभ पर सफेद रंग की परत चढ़ी हुई नजर आती है, तो ओरल हाइजीन पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता हो सकती है। नियमित रूप से दो बार ब्रश करने की कोशिश करें, वहीं अपनी जीभ को भी रोजाना साफ करें। तंबाकू या सिगरेट का सेवन करती हैं, तो इससे आज ही दूरी बना लें। खाने के बाद कुल्ला जरूर करें। चीनी आधारित खाद्य पदार्थों के कंजप्शन को कम करें।

यह भी पढ़ें: ब्लड शुगर स्पाइक को रोकने के लिए आजमाएं ये पांच खास आयुर्वेदिक नुस्खे

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

  • 111
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख