क्या प्यूबर्टी के बाद भी बढ़ सकता है बच्चों का कद? आइए जानते हैं इस बारे में सब कुछ

Published on: 11 November 2021, 08:00 am IST

जैसे ही बच्चे किशाेरावस्था में पहुंचते हर पेरेंट्स को यह चिंता होने लगती है कि उनके बच्चे का समग्र शारीरिक विकास हो। इसलिए इस उम्र में कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है।

ऐसा जरूरी नहीं कि प्यूबर्टी की उम्र के बाद आप के बच्चो का कद न बढ़े , चित्र : शटरस्टॉक

आप अपने बच्चे की हाइट को लेकर कई बार चिंतित होते होंगे। कई प्रयास के बाद भी प्यूबर्टी के बाद कद का बढ़ना अक्सर रुक जाता है। दरअसल इस उम्र में पहुंचने के बाद हार्मोन्स में परिवर्तन के कारण ओपन ग्रोथ प्लेट रुक जाती है। इसी वजह से लड़कियों की लंबाई 14 वर्ष और लड़कों की लंबाई 16 से 18 वर्ष के दौरान ही बढ़ती है। लेकिन क्या ऐसा संभव है कि इस उम्र के बाद भी हाइट बढ़ सके? चलिए आज इस बारे में विस्तार से बात करते हैं। 

प्यूबर्टी और बच्चों का कद 

काफी हद तक यह सच भी है कि प्यूबर्टी की उम्र तक ही हाइट बढ़ती है, लेकिन ऐसा जरूरी नहीं कि प्यूबर्टी की उम्र के बाद आप के बच्चो का कद बिल्कुल भी न बढ़े। अगर डाइट और फिटनेस पर ध्यान दिया जाए, तो प्यूबर्टी के बाद भी 5 से 7 इंच हाइट बढ़ सकती है।

क्यों रुक जाता है कद का बढ़ना ? ( Why does the height not increase) 

किसी भी व्यक्ति की लंबाई कम होने के पीछे का सबसे मुख्य कारण न्यूट्रीशन है। खराब खानपान हमारे हाइट को बढ़ने से रोकता है। इस उम्र के ज्यादातर बच्चों की खानपान संबंधी आदतें बदलने लगती हैं। जिसका नतीजा हमें अपनी बढ़ती उम्र के साथ देखने को मिलता है। अगर महिलाओं की बात करें, तो महिलाओं में पोषण का स्तर काफी कम होता है। 

प्यूबर्टी  के बाद भी बढ़ सकती है आप के बच्चे की हाइट  चित्र : शटरस्टॉक
प्यूबर्टी के बाद भी बढ़ सकती है आप के बच्चे की हाइट चित्र : शटरस्टॉक

कई बार गर्भावस्था में महिलाओं को सही खान-पान नहीं मिल पाता। जिसका असर मां के साथ गर्भस्थ शिशु की सेहत पर भी पड़ता है। गर्भावस्था और छोटी उम्र में कुपोषण के कारण भी बच्चों का कद छोटा रह जाता है। इन सबके अलावा हाइट का एक कनेक्शन जेनेटिक्स के साथ भी होता है। माता-पिता व परिवार के अन्य सदस्यों की लंबाई के अनुसार भी बच्चे का कद तय होता है। 

पौष्टिक तत्व का सेवन है जरूरी

इस बात से शायद ही कोई अन्जान होगा कि शरीर के सही विकास के लिए अच्छा और पौष्टिक आहार लेना बहुत आवश्यक होता है। शरीर के समग्र विकास के साथ कद बढ़ना इतना आसान नहीं है। इसलिए खाने में ऐसे पौष्टिक तत्व शामिल करना जरूरी है जो हड्डियों को मजबूत बनाकर बढ़ने में सहायता करते हैं। 

शरीर के विकास के लिए प्रोटीन की बड़ी भूमिका है। इसलिए हमें प्रोटीन युक्त भोजन करना चाहिए। इसके अलावा कैल्शियम, विटामिन-डी, मैग्नीशियम और फास्फोरस जैसे माइक्रोन्यूट्रिएंट्स भी शरीर के डेवलपमेंट के लिए जरूरी है। 

बच्चे के समग्र शारीरिक विकास और कद के लिए आहार में शामिल करें ये 5 चीजें 

  1. बादाम (Almond )

almond api height ke liye bhi kam kar sakta hai
बादाम आपकी हाइट बढ़ने के लिए फायदेमंद है। चित्र : शटरस्टॉक

बदाम बच्चों की सेहत के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होता है। इसका कारण है बादाम में मौजूद विटामिन और मिनरल।विटामिन और मिनरल शरीर की लंबाई के लिए जरूरी हैं। बादाम में  हेल्दी फैट्स के अलावा फाइबर, मैग्नीज और मैग्नीशियम होता है, जो एंटीऑक्सीडेंट के रूप में बढ़ते जाते हैं। बादाम हड्डियों के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसलिए सर्दियों में सूखे बदाम और गर्मियों में भीगे बादाम का सेवन करना चाहिए।

  1. हरी सब्जी ( green vegetables ) 

हरी सब्जियों में विटामिन सी, मैग्नीशियम और पोटैशियम, कैल्शियम, आयरन के अलावा विटामिन के भी पाया जाता है। जो हड्डियों के घनत्व को बढ़ाकर लंबाई बढ़ाने में सहायता करता है।

  1. शकरकंद ( Sweet potato ) 

सर्दियों के मौसम में शकरकंद काफी फायदेमंद होती है। यह विटामिन ए से भरपूर होती है, जो हड्डियों की सेहत को सुधार कर लंबाई बढ़ाने में मददगार है। शकरकंद में इनसोल्युबल और सॉल्युबल दोनों ही प्रकार के तत्व मौजूद होते हैं। जो डाइजेस्टिव हेल्थ को प्रमोट करता है और आंतों के लिए अच्छे बैक्टीरिया का विकास करता है।

4.अंडा ( Egg ) 

ande ko store karne ka sahi tareeka
जानिए अंडों से क्या है हाइट का कनेक्शन चित्र : शटरस्टॉक

पोषण के मामले में अंडा सबसे आगे है। अंडा खाने से भरपूर मात्रा में प्रोटीन मिलता है। जो हड्डियों की सेहत के लिए बहुत जरूरी है। अंडे के पीले भाग यानी ( यॉक) भी  शरीर की ग्रोथ के लिए काफी लाभदायक है।

  1. दालें ( pulses ) 

कई प्रकार की दलों में भारी मात्रा में पोषक तत्व मौजूद होते हैं। जो शरीर के लिए काफी ज्यादा लाभदायक हैं। प्रयास करें कि अपने बच्चे के शरीर के बेहतर विकास के लिए उसे हर रोज दाल का सेवन करवाएं। 

यह भी पढ़े : अगर बच्चा करता है खाने में आनाकानी, तो इन टेस्टी तरीकों से उसके आहार में शामिल करें हरी सब्जियां

 

अक्षांश कुलश्रेष्ठ अक्षांश कुलश्रेष्ठ

सेहत, तंदुरुस्ती और सौंदर्य के लिए कुछ नई जानकारियों की खोज में

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें