वैलनेस
स्टोर

क्या निपल्‍स पर बाल होना सामान्य है? हम बता रहे हैं इस बारे में सब कुछ

Updated on: 18 March 2021, 19:18pm IST
क्या निप्पल पर बाल आपको परेशान करते हैं? ज़्यादातर मामलों में ये सामान्य है, लेकिन कभी-कभी ये किसी स्वास्थ्य समस्या का भी संकेत हो सकता है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 80 Likes
निप्‍पल्‍स पर बाल होना 30 फीसदी महिलाओं की समस्‍या है। चित्र: शटरस्‍टॉक

आपको आश्चर्य हो सकता है कि आपके स्तनों पर बाल होना सामान्य है। चिंता न करें, आप इसका अनुभव करने वाली एकमात्र महिला नहीं हैं! असल में यह ऐसा मुद्दा है जिसके बारे में कभी भी बात नहीं की जाती है क्योंकि महिलाओं को इसके बारे में बात करने से शर्म आती है।

अगर आपके निपल्स पर बाल हैं तो इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं है! क्योंकि 30% महिलाओं के निपल्स पर बाल होते हैं, इसमें आप अकेली नहीं है! जब हम विशेष रूप से निप्पल के बालों के बारे में बात करते हैं, तो हम आपके स्तनों के आसपास के उन छोटे रोएं या बालों के बारे में बात नहीं कर रहे हैं, बल्कि ऐसे बालों के बारे में बात कर रहे हैं जो आसानी से देखे जा सकते हैं और लंबे हैं।

तो स्तनों पर बाल क्यों होते हैं?

हमारा पूरा शरीर हेयर फॉलिकल्स से ढका होता है और उन हेयर फॉलिकल्स का उद्देश्य बालों को उगाना होता है, लेकिन ग्रोथ जगह-जगह पर निर्भर करती हैं। इसलिए, अरेला (आपके निप्पल के चारों ओर पिग्मेंटेड सर्कल) में हेयर फॉलिकल्स होना पूरी तरह से सामान्य है।

ज्यादातर मामलों में, निप्पल के बाल सामान्य होते हैं, लेकिन कुछ मामलों में, यह एक अंतर्निहित चिकित्सा स्थिति का संकेत हो सकता है। यहां कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं बताई गयी हैं जो निप्पल के बालों का कारण बन सकती हैं:

हार्मोनल उतार-चढ़ाव

यदि आपने निप्पल क्षेत्र के आस-पास काले और लंबे बालों का विकास देखा है, तो यह हार्मोनल परिवर्तनों के कारण हो सकता है। प्‍यूबर्टी और मासिक धर्म से लेकर गर्भावस्था और रजोनिवृत्ति तक विभिन्न कारणों से हार्मोनल परिवर्तन हो सकते हैं। इन परिवर्तनों से आपके शरीर में कहीं भी बाल बढ़ सकते हैं, जिसमें आपके स्तन भी शामिल हैं।

हॉर्मोनल उतार-चढ़ाव के कारण भी वहां बाल हो सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
हॉर्मोनल उतार-चढ़ाव के कारण भी वहां बाल हो सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

टेस्टोस्टेरोन की अधिकता

कुछ महिलाओं को हार्मोनल असंतुलन का सामना करना पड़ता है, जिसके परिणामस्वरूप पुरुष हार्मोन जैसे टेस्टोस्टेरोन का अति उत्पादन होता है। अत्यधिक टेस्टोस्टेरोन निपल्स जैसे कुछ स्थानों में बालों के विकास का कारण बन सकता है। जब एक महिला का शरीर बहुत अधिक टेस्टोस्टेरोन पैदा करता है और इसे संतुलित करने के लिए पर्याप्त एस्ट्रोजन नहीं होता है, तो उनके निप्‍पल्‍स पर बाल होने लगते हैं।

पीसीओएस

कभी-कभी यह PCOS का भी लक्षण हो सकता है। अत्यधिक बाल विकास पीसीओएस (पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम) से संबंधित हो सकता है, जो प्रजनन हार्मोन के असंतुलन के कारण होता है। पीसीओएस के लक्षणों में अनियमित या बिना पीरियड, फेशियल और बॉडी हेयर ग्रोथ, मूड में बदलाव, मानसिक स्वास्थ्य समस्या, अल्सर और गर्भधारण के लिए संघर्ष शामिल हैं।

कुछ दवाएं

कुछ प्रकार की दवा जैसे डानाज़ोल, एनाबॉलिक स्टेरॉयड, ग्लुको कोर्तिकोइद, साइक्लोस्पोरिन, मिनोक्सिडिल और फेनीटोइन ऐसी कुछ दवाएं हैं, जिनके कारण निप्पल के आस-पास असामान्य बालों का विकास हो सकता है।

"<yoastmark

कुशिंग सिंड्रोम

एक अन्य संभावित मेडिकल स्थिति कुशिंग सिंड्रोम है, जिसमें शरीर में एक विस्तारित अवधि के लिए उच्च स्तर का कोर्टिसोल, एक ग्लुको कॉर्टिकोस्टेरॉइड हार्मोन उत्पन्न होता है। यह स्तन पर बालों के अत्यधिक विकास के साथ जुड़ा हुआ है। अन्य लक्षण उच्च रक्तचाप, मुंहासे, वजन बढ़ना, असामान्य मासिक धर्म और कम कामेच्छा हो सकते हैं।

तो, निपल्स पर बालों का होना बिल्कुल सामान्य है, लेकिन अगर ये कुछ अन्य लक्षणों के साथ है, तो अपने डॉक्टर से बात करना सबसे जरूरी है।

यह भी पढ़ें – डियर गर्ल्‍स, 30 की उम्र के बाद आपके शरीर में हो सकते हैं ये 8 बदलाव, इन्‍हें समझना है जरूरी 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।