वैलनेस
स्टोर

डोंट वरी लेडीज, अपच और गैस के कारण भी हो सकता है छाती में दर्द, समझिए ये कैसे परेशान करता है

Published on:9 August 2021, 16:47pm IST
अपनी ब्रेस्ट और हार्ट हेल्थ के प्रति आपको अतिरिक्त रूप से सजग होना जरूरी है। इसलिए आपको अन्य कारणों से होने वाले छाती के दर्द को भी समझना चाहिए।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 87 Likes
chest pain ke karan
गैस के कारण भी होता है छाती में दर्द. चित्र : शटरस्टॉक

जी हां.. छाती में दर्द हमेशा हार्ट अटैक का संकेत नहीं होता है! पेट में गैस और अपच भी कभी-कभी इस तरह की बेचैनी पैदा कर सकते हैं। जिसके चलते आपको सीने में दर्द (Chest Pain) होने लगता है। छाती में गैस का दर्द आमतौर पर चिंता का कारण नहीं होता। इसके बावजूद इससे दबाव या परेशानी हो सकती है। इसलिए, इसकी तह तक पहुंचना ज़रूरी है कि आखिर क्यों यह बार – बार परेशानी का कारण बनता है।

कैसा होता है छाती में गैस का दर्द

लोग अक्सर सीने में गैस के दर्द को छाती क्षेत्र में जकड़न या बेचैनी के रूप में वर्णित करते हैं। दर्द के साथ-साथ हल्की जलन या छुरा घोंपने की अनुभूति हो सकती है। दर्द पेट में भी जा सकता है। इसके साथ कुछ और भी लक्षण हो सकते हैं जैसे –

सूजन
खट्टी डकार
पेट फूलना
भूख में कमी
जी मिचलाना

कैसे करें गैस पेन और हार्ट पेन में अंतर

गैस के दर्द की अनुभूति चिंताजनक हो सकती है, क्योंकि दिल से संबंधित दर्द, जैसे कि दिल का दौरा पड़ने जैसा महसूस हो सकता है। पेट या कोलन के बाएं हिस्से में जमा होने वाली गैस, हार्ट पेन की तरह महसूस हो सकती है। इसलिए, हार्ट पेन के संकेत को समझें। ताकि आप इसमें अन्तर समझ सकें –

chest pain ke karan
गैस के दर्द और हार्ट अटैक में अंतर समझें। चित्र-शटरस्टॉक।

पहले समझिए हार्ट पेन (Heart Pain) के संकेत

छाती पर दर्द के साथ दबाव
सांस के साथ दर्द होना
हल्का-हल्का महसूस करना या उबकाई आना
घबराहट

क्यों होता है गैस के कारण छाती में दर्द

फूड इन्टोलरेंस – जब किसी को फूड इन्टोलरेंस होती है, तो यह पाचन तंत्र को परेशान कर सकता है, जिससे अतिरिक्त गैस हो सकती है। लैक्टोज इन्टोलरेंस और ग्लूटेन इन्टोलरेंस गैस का कारण हैं। इसकी वजह से आपको सूजन, पेट में दर्द और अत्यधिक गैस का अनुभव हो सकता है।

फ़ूड पॉइज़निंग – दूषित भोजन खाने से फूड पॉइजनिंग हो सकती है, जो सीने में गैस के दर्द का कारण बन सकती है। इसकी वजह से आपको उल्टी और दस्त भी हो सकते हैं।

तो, अब आप जान गई होंगी कि छाती में भी गैस का दर्द हो सकता है। इसलिए घबराएं नहीं, ज़रुरत पड़ने पर डॉक्टर से सलाह लें!

यह भी पढ़ें : बेहतर पाचन से लेकर दमकती त्वचा तक, त्रिफला का सेवन आपको देता है ये 5 स्वास्थ्य लाभ

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।