वैलनेस
स्टोर

खट्टे फलों के अलावा वे कौन सी 4 चीजें हैं जिनका सेवन बढ़ा सकता है एसिड रिफ्लक्स, आइए जानें

Updated on: 12 January 2021, 14:43pm IST
एसिड रिफ्लक्स ऐसी स्थिति है जो सीने के निचले क्षेत्र में जलन पैदा करती है। यह स्थिति तब होती है जब पेट का एसिड भोजन की नली में वापस आ जाता है।
निधि गहलोत
  • 78 Likes
हेल्‍दी रेसिपी आपको पाचन संबंधी समस्‍याओं से बचाएगी। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्या आपके भी पेट में एसिड की मात्रा बढ़ जाती है? क्या आपको भी बार-बार पेट और सीने में जलन होती है? अगर आपका जवाब हां है, तो आपको एसिड रिफ्लक्स की समस्या हो सकती है। लोगों में एसिड रिफ्लक्स की परेशानी तब होती है जब उनके पेट में मौजूद खाना उनके एसोफेगस तक पंहुच जाता है।

एसिड रिफ्लक्स (Acid reflux) को हार्टबर्न (Heartburn), एसिड रेगरगीटेशन (acid regurgitation) और गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स (gastroesophageal reflux) भी कहा जाता है। अगर आपको एसिड रिफ्लक्स की समस्या एक सप्ताह में दो से अधिक बार होती है, तो आपको गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स बीमारी जिसे जीईआरडी (GRED) भी कहते हैं, होने की संभावना है।

एसिड रिफ्लक्स की परेशानी वाले लोगों की सबसे बड़ी समस्या यह होती है कि वह क्या खाएं और क्या ना खाएं। आइए जानते है ऐसे कुछ खाद्य उत्पाद जो एसिड रिफ्लक्स की समस्या को बढ़ा सकते हैं

1 दूध और दूध से बने उत्पाद

यूनाइटेड स्टेट नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसीन और यूनाइटेड स्टेट नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के 2011 में प्रकाशित एक जर्नल के मुताबिक कैल्शियम से भरपूर उत्पाद जैसे कि दूध, मक्खन और चीज़ से एसिड रिफ्लक्स की समस्या बढ़ सकती है। दरअसल यह उत्पाद सैचुरेटेड फैट्स से भरपूर होते हैं, जिसकी वजह से हमारे पेट में एसिड की मात्रा बढ़ जाती है।

ये 4 चीजें बढ़ा सकती है एसिड रिफ्लक्स। चित्र: शटरस्टाक
ये 4 चीजें बढ़ा सकती है एसिड रिफ्लक्स। चित्र: शटरस्टाक

2 मीट

मीट के अंदर कोलेस्ट्रॉल और फैटी एसिड काफी अधिक मात्रा में होते हैं। एलिमेंट्री फार्माकोलॉजी एंड थेराप्यूटिस के एक शोध के अनुसार जो लोग ज्यादा मात्रा में कोलेस्ट्रॉल और सैचुरेटेड फैटी एसिड का सेवन करते हैं उनमें जीईआरडी के लक्षण ज्यादा होते हैं।

अगर आपको एसिड रिफ्लक्स की परेशानी है और आप इसको और नहीं बढ़ाना चाहते हैं, तो अपने खाने में कोलेस्ट्रोल की मात्रा कम कर दीजिए।

यह भी पढ़े: कोकोआ में मौजूद फ्लावनॉल्स कर सकते हैं आपके दिमाग को तेज, हम बताते हैं कैसे

3 चॉकलेट

चॉकलेट भले ही हमें बहुत स्वादिष्ट लगती है। कुछ अध्ययनों के अनुसार डार्क चॉकलेट हमारे मूड को भी सुधारती है। परंतु चॉकलेट में मौजूद थेओब्रोमाइड और कैफीन हमारी निचली एसोफेगल मांसपेशियों को सिकुड़ने से रोकता है जिसकी वजह से रिफ्लक्स की समस्या बढ़ सकती है।

चॉकलेट रिफ्लक्स की समस्या बढ़ा सकती है। चित्र : शटरस्‍टॉक
चॉकलेट रिफ्लक्स की समस्या बढ़ा सकती है। चित्र : शटरस्‍टॉक

4 खट्टे फल

संतरे, नींबू और अंगूर जैसे खट्टे फल एसिड से भरपूर होते हैं। यह फल पाचन तंत्र में परेशानी पैदा कर सकते हैं। इन खाद्य पदार्थों से जरूरत से ज्यादा एसिड बनता है। हमेशा याद रखें कि संतरे का रस, नींबू पानी, अंगूर का रस और खट्टे फलों के रस से बने उत्पाद आपके शरीर में एसिड रिफ्लक्स की समस्या को बढ़ा सकते हैं।

यह भी पढ़े: सर्दियों में आपको गर्म रखने के साथ ही आपके दिल के लिए भी फायदेमंद है म्‍यूल्‍ड वाइन, हम बता रहे हैं इसके 5 फायदे

5 एल्कोहल

यूनाइटेड स्टेट नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसीन और यूनाइटेड स्टेट नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ में प्रकाशित एक शोध के अनुसार शराब के सेवन से एसिड रिफ्लक्स के सिस्टम्स बढ़ सकते हैं। यह एसोफेगल मुकोसा को भी हानि पहुंचा सकता है।

कई मामलों में ऐसा भी देखा गया है कि एल्कोहल का सेवन बंद कर देने से जीईआरडी के सिम्पटम्स को भी कम किया जा सकता है। इसलिए जिन लोगों में जीईआरडी के सिम्टम्स होते हैं उन्हें एल्कोहल का सेवन बंद कर देना चाहिए।

निधि गहलोत निधि गहलोत

उपन्‍यास पढ़ना और अच्‍छी फि‍ल्‍में देखना दोनों ही मेरे शौक हैं। फि‍टनेस के लिए डांस से बेहतर कुछ नहीं। बारिश के मौसम में एक कप चाय का प्याला और मेरी पसंदीदा किताब मेरे दिन को बेहतर बनाने के लिए बहुत है।