अगर ये आपके बेबी की पहली दिवाली है, तो इन 5 सुरक्षा उपायों को बिल्कुल भी नजरंदाज न करें

Published on: 3 November 2021, 18:00 pm IST

उत्सव और उल्लास के साथ सुरक्षा के उपाय अपनाना भी बहुत जरूरी है। खासतौर से उन नन्हें शिशुओं के लिए जो पहली बार इस चकाचौंध और शोर शराबे का सामना कर रहे हैं।

babies ke liye safety tips
आपके बेबी की पहली दिवाली है, तो इन 5 सुरक्षा उपायों को बिल्कुल भी नजरंदाज न करें। चित्र : शटरस्टॉक

दिवाली, सर्दियों की दस्तक और हवा में प्रदूषण (Air Pollution) ये तीनों चीजें अमूमन एक साथ आती हैं। कोविड – 19 (Covid – 19) है कि जाने का नाम ही नहीं ले रहा। जबकि डेंगू – मलेरिया भी अपना प्रकोप दिखाने लगे हैं। ऐसे में अगर आप अभी – अभी मां बनी हैं और आपके बेबी की यह पहली दिवाली है, तो आपको कुछ खास चीजों का ध्यान रखना पड़ेगा। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ बेबी केयर टिप्स के बारे में।

कोविड बेबी और पहली दिवाली

यह ध्यान रखने वाली बात है कि आपका बच्चा कोरोना काल में पैदा हुआ है। न वह ज़्यादा लोगों के संपर्क में आया है और न ही उसे इतना शोर-शराबा (Noise Pollution) सुनने की आदत होगी। ऐसे में वातावरण में बढ़ता प्रदूषण और पटाखों (Crackers) का शोर उन्हें परेशान कर सकता है। साथ ही, यह सब उसकी सेहत के लिए भी अच्छा नहीं है।

मगर चिंता न करें, क्योंकि हम बता रहे हैं आपके बेबी की देखभाल के लिए कुछ टिप्स, जो इस दिवाली उसे सभी समस्याओं से बचाएंगे। तो चलिये जानते हैं इनके बारे में –

babies ke liye safety tips
आपके बेबी की यह पहली दिवाली है, तो आपको कुछ खास चीजों का ध्यान रखना पड़ेगा। चित्र : शटरस्टॉक

1. संक्रमण से बचाने के लिए शिशु को लोगों से दूर रखें

दिवाली (Diwali 2021) पर घर में दूर – दूर से मेहमान आते हैं। हमेशा किसी न किसी का घर में आना लगा ही रहता है। हम समझते हैं कि हर किसी को बेबी को देखना है, उसे खिलना है। मगर यह सब आपके बच्चे को संक्रमण (Infection) के जोखिम में डाल सकता है। इसलिए बेबी को सिर्फ उन्हीं लोगों के पास रहने दें, जो घर पर रहते हों और बाकी सब को दूर ही रखें।

2. मच्छरदानी का उपयोग करना न भूलें

अपने बेबी को डेंगू – मलेरिया (Dengue – Malaria) जैसी घातक बीमारियों से बचाने के लिए उसे हमेशा मच्छरदानी (Mosquito Net) में ही रखें। उसे हमेशा एक साफ और सुरक्षित वातावरण में ही रखें। बच्चे के बिस्तर को साफ रखें और उसके द्वारा छूई गई चीजों को बार – बार डिसइन्फेक्ट करते रहें।

3. बाहर के शोर से बचाएं

दिवाली पर पटाखों की आवाज़ आपके शिशु को विचलित कर सकती है। उसके लिए यह सब काफी नया है। इसलिए जितना हो सके उसे घर से बाहर न निकालें। यदि बाहर का शोर अंदर तक आ रहा है, तो उसके कानों में रुई की गोलियां (Cotton Balls) डालें।

दूषित वातावरण से दूर रखें। चित्र : शटरस्टॉक

4. बेबी को दूषित वातावरण से दूर रखें

आजकल एयर क्वालिटी (Air Quality) काफी खराब है और कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। ऐसे में आपको बेबी का खास ख्याल रखने की ज़रूरत है। अगर आप उसे बाहर ले जा रही हैं, जो मास्क न पहनाएं क्योंकि इससे उसका दम घुट सकता है। बजाय इसके किसी हल्के कपड़े या चुन्नी से उसका चेहरा ढकें।

5. अंत में सबसे ज़रूरी है खुद को साफ रखना

मेयो क्लीनिक के अनुसार अपने बच्चे को संभालने से पहले अपने हाथ धोएं (या हैंड सैनिटाइज़र का उपयोग करें)। नवजात शिशुओं में अभी तक एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली (Immunity System) विकसित नहीं हो पाती है, इसलिए उन्हें संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है। सुनिश्चित करें कि आपके बच्चे को संभालने वाले हर व्यक्ति के हाथ साफ हों।

यह भी पढ़ें : क्या बढ़ते प्रदूषण में आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है एयर प्यूरीफायर? आइए पता करते हैं

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें