ऐप में पढ़ें

बॉलीवुड दीवा भाग्यश्री भी करती हैं दांतों के लिए सरसों के तेल और सेंधा नमक का इस्तेमाल, जानिए ये कैसे काम करता है

Published on:2 December 2021, 12:15pm IST
अपनी खूबसूरती और अदाओं के लिए प्रसिद्ध भाग्यश्री हेल्दी डाइट और एक्सरसाइज के साथ ओरल हाइजीन का भी ख्याल रखती हैं। जानिए भाग्यश्री द्वारा बताई गई आसान ओरल हाइजीन टिप्स।
Mustard oil aur rock salt daanto ke liye faydemand hai
दांतों के लिए सरसों तेल और सेंधा नमक है फायदेमंद। चित्र:शटरस्टॉक

खूबसूरत मुस्कान के लिए सबसे ज्यादा जरूरी हैं खूबसूरत दांत। अगर आपके दांत पीले, दाग धब्बे लिए हुए हों, तो  मुस्कान चेहरे की सुंदरता बढ़ाने की बजाए उसे और खराब कर देगी। अपनी ब्यूटीफुल स्माइल के लिए जानी जाने वाली अभिनेत्री भाग्यश्री भी मानती हैं कि अच्छी मुस्कान ही चेहरे की सुंदरता में चार चांद लगा सकती है। पर इसके लिए ओरल हाइजीन का ख्याल रखना बहुत जरूरी है। भाग्य श्री इसके लिए सरसों के तेल और नमक के इस्तेमाल की सलाह देती हैं। 

ओरल हाइजीन और आपका स्वास्थ्य 

इस बात में कोई संदेह नहीं हैं, कि शरीर के सभी अंगों की तरह ओरल हाइजीन का ख्याल रखना भी महत्वपूर्ण है। ओरल हाइजीन के लिए बाजार में विभिन्न प्रकार के टूथपेस्ट, टूथब्रश, माउथ वॉश एवं डेंटल फ्लॉस जैसी सुविधाएं उपलब्ध हैं। एक खराब मौखिक स्वास्थ्य आपकी सेहत के लिए हानिकारक है। मुंह में मौजूद बैक्टीरिया आपके पाचन को भी प्रभावित कर सकता है। जिसका असर आपके समग्र स्वास्थ्य पर पड़ता है। 

ओरल हाइजीन के इसी महत्व को समझाने और इसके आसान टिप्स के साथ बॉलीवुड अभिनेत्री भाग्यश्री ने मंगलवार को एक इंस्टाग्रा पोस्ट सांझा की। 

Oral hygiene ke liye do baar brush kare
ओरल हाइजीन के लिए दो बार ब्रश जरूर करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

उनकी पोस्ट में लिखा था, “एक खूबसूरत मुस्कान से एक खूबसूरत चेहरा बनता है…इसे बरकरार रखने के लिए आपको अपने दांतों की देखभाल करनी होगी। सही खाना खाने और उसके बाद अपने मुंह को साफ करने के साथ-साथ ओरल हाइजीन भी बहुत जरूरी है। सरसों के तेल के साथ सेंधा नमक का एक साधारण मिश्रण आपके दांतों को मोती जैसा बनाए रखने में मदद कर सकता है।” 

देखिए भाग्यश्री की इंस्टाग्राम पोस्ट!

किसी वरदान से कम नहीं हैं सरसों तेल और सेंधा नमक 

दांतों की सफाई के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले पुराने घरेलू उपचारों में से एक सरसों का तेल और नमक है। इन दोनों सामग्रियों का मिश्रण आपके दांतों के लिए प्राकृतिक क्लीनजर का काम करेगा। सरसों का तेल और नमक एक सदियों पुराना घरेलू उपाय है, जिसका उपयोग आपके मसूड़ों को साफ करने और आपके दांतों पर जमी गंदगी को हटाने के लिए किया जाता है। 

नमक आपके दांतों के धब्बे, पीलेपन को दूर करने और दांतों को चमकदार बनाने में मदद करता है। इसके अलावा, इसमें फ्लोराइड का एक प्राकृतिक स्रोत होता है, जो आपके दांतों और मसूड़ों के लिए एक बोनस है। वहीं दूसरी ओर सरसों का तेल आपके मसूड़ों को मजबूत बनाने में मदद करता है और प्लाक को हटाना आसान बनाता है।

 स्वस्थ ओरल हाइजीन के लिए अन्य टिप्स 

1. दांतों को ब्रश किए बिना न सोएं

यह कोई जादू या रहस्य की बात नहीं है कि अक्सर डेंटिस्ट दिन में कम से कम दो बार ब्रश करने की सलाह देते हैं। फिर भी आप में से कई लोग रात में आलस और थकान की वजह से ब्रश करने से बचते हैं। यह आपकी ओरल हाइजीन के बिगड़ने का प्रमुख कारण है। सोने से पहले ब्रश करने से दिन भर जमे हुए कीटाणुओं से छुटकारा मिलता है। 

2. अपनी जीभ की सफाई करना न भूलें 

अस्वच्छ जीभ प्लाक का कारण हो सकती है। इससे न केवल मुंह से दुर्गंध आती है, बल्कि ओरल हाइजीन से संबंधित अन्य परेशानियां भी हो सकती हैं। हर बार जब आप दांत ब्रश करते हैं, तो अपनी जीभ को भी साफ करना न भूलें। 

3. फ्लॉसिंग को ब्रश करने जितना महत्वपूर्ण समझें 

बहुत से लोग फ्लॉसिंग के फायदों को नहीं जानते हैं। जो लोग रोजाना ब्रश करते हैं, वे फ्लॉसिंग करना जरूरी नहीं समझते। फ्लॉसिंग दांतों में फंसे भोजन या सलाद के टुकड़ों को हटाने में मददगार है। इसके अतिरिक्त यह मसूड़ों में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने, सूजन को कम करने और प्लाक के जोखिम को कम करने में सहायक है। स्वस्थ ओरल हाइजीन के लिए आपको दिन में कम से कम एक बार फ्लॉसिंग करनी चाहिए। 

Gargle karna bhi ek acha upaay hai
गरारे करना भी एक अच्‍छा उपाय है। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. गरम पानी से गरारे करें 

गरम पानी आपके मुंह में जमे कीटाणुओं को मिटाने में मदद करता है। बेहतर परिणाम के लिए आप इसमें नमक मिला सकते हैं। दांतों के साथ यह आपके मुंह के अंदर की स्वच्छता को बनाएं रखता है। यह मुंह में एसिड की मात्रा को कम करता है, मसूड़ों में और आस पास के क्षेत्रों को साफ करता है, और दांतों में जरूरी मिनरल्स का संचार करता है। 

यह भी पढ़ें: विश्व एड्स दिवस 2021: विशेषज्ञ से जानिए एक एचआईवी पॉजिटिव मां अपने बच्चे की रक्षा कैसे कर सकती है

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !