और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

क्या है कोविड आर्म? यहां जानिए क्या यह सिर्फ वैक्‍सीनेशन का साइड इफेक्ट है या कोई गंभीर समस्या

Published on:15 March 2021, 16:31pm IST
क्या कोविड आर्म खतरनाक है? क्या यह आपके हाथ को पूरी तरह से स्थिर कर सकता है? घबराएं नहीं, क्योंकि हमारे पास आपके सभी प्रश्नों का उत्तर देने के लिए एक विशेषज्ञ मौजूद हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 79 Likes
यहां जानिए कोविड आर्म क्या है। चित्र-शटरस्टॉक।

जब से कोविड-19 दुनिया से टकराया है, तब से कई तरह की अफवाह फैल रहीं हैं। बेशक, पिछले साल हमने क्वारंटाइन, कोविडियोट और अभी हाल ही में, कोविड टंग जैसे शब्द सीखे हैं। कोविड-19 ने हमें हर रोज कुछ नए शब्‍दों की भरमार की है। अब जब इसका टीका आ गया है, तो टीके का एक साइड-इफेक्ट है जो सभी का ध्यान आकर्षित कर रहा है- और वह है “कोविड आर्म”।

कोविड आर्म क्या है?

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के अनुसार,’कोविड आर्म’ बाजुओं पर चकत्ते (arm rash) के अलावा और कुछ नहीं है, जो वैक्सीन लगवाने के बाद आपकी बाजू पर उभरने लगते हैं। 

जब हमने वॉकहार्ट अस्पताल, मुंबई के क्रिटिकल केयर मेडिसिन आईसीयू के सलाहकार और आईसीयू के निदेशक बिपिन जिभकेट से कोविड आर्म के बारे में पूछा, तो उन्होंने कहा कि यह काफी सामान्य है और किसी भी व्यक्ति को कोविड वैक्सीन लगने के बाद हो सकता है।

यह भी पढें: एक नहीं, कई तरह का हो सकता है बुखार, आपको जानने चाहिए इनके कारण और लक्षण 

डा. जिभकेट बताते हैं “एक बार जब आप एक वैक्सीन लगवाती हैं, तो साइट पर सूजन या दर्द जैसे कुछ साइड-इफेक्ट्स होते हैं, जिनका उपचार किया जा सकता है। लेकिन, फि‍लहाल कई लोगों ने कोविड वैक्सीन लगवाने के बाद एक और दुष्प्रभाव देखा है। यह इंजेक्शन की जगह के आसपास एक बड़ा घाव है। इस प्रकार, एक कोविड आर्म का अर्थ है आपके द्वारा टीका लगवाए जाने के बाद आपके हाथ पर चकत्ते होना। वे कहते हैं यह उतना बुरा भी नहीं है जितना लगता है।

डॉ. जिभकेट बताते हैं कि इसको लेकर घबराने वाली कोई बात नहीं है। वे कहते हैं, “वैक्सीन के बाद जो चकत्ते दिखाई देते हैं, वे लाल, दर्दनाक और खुजली वाले होते हैं, जिससे आप असहज हो सकते हैं। एक बार टीका लगने के बाद, तुरंत होने वाली त्वचा की प्रतिक्रिया से भ्रमित न हों। कोविड आर्म कुछ दिनों या हफ्तों के भीतर दिखाई देता है, क्योंकि यह एक विलंबित प्रतिक्रिया है। लेकिन, इससे आपको कोविड-19 के लिए टीकाकरण लेने या इसका दूसरा शॉट लेने से नहीं रुकना नहीं चाहिए।”

वैक्सीन के बाद क्‍यों होती है कोविड आर्म 

मूल रूप से, अतिसंवेदनशीलता के कारण वहां दाने हो जाते हैं। यह त्‍वचा की तात्‍कालिक अतिसंवेदनशीलता है। जिसमें तत्काल आधार पर एलर्जी की प्रतिक्रिया देखी जाती है और दूसरा त्वचीय अतिसंवेदनशीलता में देरी होती है जो प्रतिरक्षा कोशिकाओं और टी कोशिकाओं की प्रतिक्रिया के कारण होती है। इससे त्वचा पर दिखाई देने में कुछ समय लग सकता है।

वैक्‍सीनेशन तभी पूरा माना जाएगा जब आपने दोनों डोज ले ली हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
कोविड आर्म को लेकर चिंता करने वाली कोई बात नहीं है। चित्र: शटरस्‍टॉक

अच्छी खबर यह है कि इसका इलाज हो सकता है 

“सूजे हुए या चकत्‍ते वाले हिस्‍से पर बर्फ लगाना फायदेमंद हो सकता है। जबकि अन्य उपचार विकल्प एंटीहिस्टामाइन, सामयिक स्टेरॉयड, गैर-स्टेरायडल एंटी-इंफ्लेमेटरी दवाएं (एनएसएआईडी) और मौखिक स्टेरॉयड हैं। आपको एंटीबायोटिक दवाओं का उपयोग केवल तभी करना चाहिए, जब यकीनन आपको कोविड आर्म ही हो। खुद से दवाएं लेने से भी बचें, क्योंकि इससे मामला बिगड़ सकता है।

हमारा विश्वास करें, यह कोई बड़ी बात नहीं है

जब हमने डॉ. जिभकेट से पूछा, यदि “कोविड आर्म” वास्तव में एक चिंता का विषय है, तो इस पर वे कहते हैं, “हरगिज नहीं! ये हानिरहित चकत्‍ते हैं। इसमें कोई बड़ी बात नहीं है। यह कुछ दिनों के बाद चले जाएंगे। सिर्फ इसलिए कि आप एक कोविड आर्म से डरते हैं, टीकाकरण से पीछे न हटें। क्योंकि यह एक प्रबंधनीय दुष्परिणाम है।”

इसलिए चिंता न करें अगर आपको वैक्सीन के एक शॉट के बाद “कोविड आर्म” हुई भी है तो भी दूसरी डोज लेने में आनाकानी न करें।

यह भी पढें: आयुर्वेद में पलाश को कहा गया है औषधीय फूल, जानिए यह कैसे हो सकता है लाभकारी

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।