ज़्यादा गला खराब रहना और जल्दी सांस फूलना हैं चेस्ट इन्फेक्शन के लक्षण, जानिए क्या हो सकता है उपचार

Published on: 9 July 2022, 18:00 pm IST

क्या आपका भी अक्सर गला खराब रहता है? और किसी भी गतिविधि के दौरान बहुत जल्दी सांस फूलने लगती हैं? यादी हां, तो आपको चेस्ट इन्फेक्शन हो सकता है। जानिए इसके बारे में सब कुछ।

chest infection se kaise bachein
जानिए चेस्ट इन्फेक्शन को कैसे कम करें. चित्र : शटरस्टॉक

क्या आपका अक्सर गला खराब रहता है? और किसी भी गतिविधि के दौरान बहुत जल्दी सांस फूलने लगती हैं? तो बता दें कि यह सब चेस्ट इन्फेक्शन यानी सीने में किसी प्रकार के संक्रमण के कारण हो सकता है। बरसात के मौसम में यह समस्या और भी ज़्यादा संवेदनशील रूप ले सकती है, क्योंकि वातावरण में नमी और ह्यूमिडिटी बढ़ जाती है। इसलिए आपको यह समझना ज़रूरी है कि चेस्ट इन्फेक्शन (ways to stop chest infection) से कैसे निपटा जाए और कब आपको डॉक्टर को दिखाने की ज़रूरत है। नहीं तो ये कई अन्य गंभीर समस्याओं का कारण बन सकता है। तो चलिये जानते हैं चेस्ट इन्फेक्शन के बारे में सब कुछ।

क्या है चेस्ट इन्फेक्शन?

छाती में संक्रमण (chest infection) एक तरह का संक्रमण है, जो आपके निचले बड़े वायुमार्ग (ब्रांकाई) और आपके फेफड़ों को प्रभावित करता है। निमोनिया और ब्रोंकाइटिस सबसे आम छाती में संक्रमण हैं। ब्रोंकाइटिस आमतौर पर एक वायरल संक्रमण के कारण होता है। निमोनिया आमतौर पर बैक्टीरिया के संक्रमण के कारण होता है। निमोनिया गंभीर हो सकता है और अस्पताल में भर्ती की आवश्यकता हो सकती है।

जानिए क्या हैं चेस्ट इन्फेक्शन के लक्षण

छाती में संक्रमण के मुख्य लक्षणों में शामिल हैं:

लगातार खांसी
पीले या हरे रंग का कफ (गाढ़ा बलगम)
खांसी के साथ खून आना
सांस फूलना
गले में खराश
तेज़ बुखार का बने रहना
दिल की तेज़ धड़कन
सीने में दर्द या जकड़न
भ्रमित और भटका हुआ महसूस करना

इतना ही नहीं आप सीने में किसी संक्रमण की वजह से कुछ सामान्य लक्षणों का भी अनुभव कर सकती हैं, जैसे सिरदर्द, थकान, पसीना, भूख न लगना, या जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द।

chest me infection
कई कारणों से छाती में हो सकता है दर्द। चित्र : शटरस्टॉक

छाती में संक्रमण इन लक्षणों के साथ भी शुरू हो सकता है, लेकिन आपको डॉक्टर को दिखाने की आवश्यकता नहीं है यदि आपको ये एकमात्र लक्षण है। सिर्फ क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD) और ब्रोन्किइक्टेसिस हो सकता है। इन स्थितियों वाले लोग गंभीर जटिलताओं को विकसित करने की अधिक संभावना रखते हैं।

आपको छाती में संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है यदि आप:

बुजुर्ग हैं
गर्भवती हैं
बच्चे हैं या बूढ़े
यदि आपको अस्थमा या मधुमेह है
अगर आपकी इम्युनिटी कमजोर है

यदि आपको छाती में संक्रमण है, तो आपको यह करना चाहिए:

भरपूर आराम करें

अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखें। ताकि शरीर में तरल पदार्थ की कमी न हो और आपके फेफड़ों में जमा बलगम पतला हो जाए और खांसी में थोड़ा आराम मिले।

भाप लें

यह आपकी छाती से बलगम को साफ करने में मदद कर सकता है। बच्चे की खांसी के लिए कभी भी गर्म पानी का प्रयोग न करें।

bhaap lene ke fayde
आपके स्वास्थ्य के लिए भाप लेने के फायदे। चित्र : शटरस्टॉक

सीधे न लेटें

अपनी छाती को बलगम से मुक्त रखने और सांस लेने में आसान बनाने के लिए रात में सपाट लेटने से बचें।

सही दवा लें

उच्च तापमान को कम करने और किसी भी दर्द और सिरदर्द को कम करने के लिए पैरासिटामोल, इबुप्रोफेन या एस्पिरिन लें।

स्मोकिंग से परहेज करें

यदि आप धूम्रपान करती हैं, तो आपको अच्छे के लिए धूम्रपान बंद करने का प्रयास करना चाहिए। धूम्रपान करने वालों में ब्रोंकाइटिस, छाती में संक्रमण और फेफड़ों के गंभीर रोग अधिक आम हैं।

यदि इन सब के बावजूद आपका स्वास्थ्य ठीक नहीं हो रहा है तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।

यह भी पढ़ें : बरसात में बच्चों को रहता है इंसेक्ट बाइट का खतरा, ये 5 उपाय देंगे इनसे इंस्टेंट रिलीफ

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें