उम्र कोई भी हो, ये 6 फूड्स तुरंत दूर कर सकते हैं आयरन की कमी से होने वाली एनीमिया की समस्या

पीरियड्स में हैवी ब्लीडिंग होने से लेकर प्रेगनेंसी तक, ज्यादातर महिलाएं अलग-अलग कारणों से एनीमिया का सामना करती हैं। अगर आप भी खून की कमी हो रही है, तो इन फूड्स को जरूर करें आहार में शामिल।
यहां जानिए खून की कमी से होने वाले एनीमिया से उबरने के उपाय। चित्र: शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Published on: 28 November 2022, 12:26 pm IST
ऐप खोलें

एनीमिया की स्थिति शरीर में खून की कमी के कारण देखने को मिलती है। इस स्थिति में शरीर में हिमोग्लोबिन (Low HB) की कमी हो जाती है और रेड ब्लड सेल्स गिरने लगते हैं। जिस वजह से समय से पहले थकान महसूस होना, सिर दर्द, छाती में दर्द, चक्कर आना, हाथ पैर में कंपन होना और ठंडा पड़ जाने जैसे लक्षण नजर आते हैं। यदि इस समस्या को समय रहते नियंत्रित न किया जाए, तो यह कई अन्य स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म दे सकती है। यहां हम उन फूड्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो एनीमिया की समस्या (what is the fastest way to cure anemia) से राहत दिला सकते हैं।

एनीमिया (Anemia) का सबसे बड़ा कारण गलत खानपान की आदत और शरीर में आयरन की कमी (Iron deficiency) हो सकती है। ऐसे में एक हेल्दी डाइट और सही लाइफस्टाइल को फॉलो करना सबसे ज्यादा जरूरी है। चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ सुपरफूड्स (Foods to cure anemia) के बारे में जो आपके शरीर में आवश्यक पोषक तत्वों की कमी को पूरा करेंगे और एनीमिया की स्थिति को उत्पन्न होने से रोकेंगे।

पहले जानें किन कारणों से होता है एनीमिया

एनीमिया का सबसे बड़ा कारण आपके शरीर में हिमोग्लोबिन (Hemoglobin) और रेड ब्लड सेल्स (Red blood cells) की कमी हो सकती है। गलत खानपान के कारण शरीर में आवश्यक पोषक तत्वों की कमी, पीरियड्स के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग होना और पाइल्स की स्थिति भी एनीमिया की समस्या को जन्म दे सकती हैं।

वहीं पाचन क्रिया के असंतुलित होने पर हेल्दी फूड्स खाने के बाद भी शरीर को आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिल पाते। प्रेगनेंसी के दौरान भी रेड ब्लड सेल्स में गिरावट देखने को मिलती है।

यहां हैं वे सुपरफूड्स जो आयरन की कमी से होने वाले एनीमिया से उबरने में आपकी मदद कर सकते हैं

भारतीय योगा गुरु, योगा इंस्टीट्यूट की डायरेक्टर और टीवी की जानी-मानी हस्ती डॉक्टर हंसाजी योगेंद्र एनीमिया के कारणों और इस स्थिति से बचने के लिए कुछ महत्वपूर्ण डाइट के बारे में बताया है। तो चलिए जानते हैं एनीमिया से बचने के लिए किन खाद्य पदार्थों को डाइट में शामिल करना जरूरी है।

अन्य खाद्य पदार्थों को बनाने में भी शहद का इस्तेमाल कर सकती हैं। । चित्र: शटरस्टॉक

1. शहद (Honey)

हंसा जी के अनुसार शहद में भरपूर मात्रा में आयरन, मैग्नीज, विटामिन सी और कॉपर मौजूद होता हैं। इसके साथ ही खट्टे फल जैसे की नींबू, संतरा, इत्यादि में विटामिन सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है। यह सभी शरीर में आयरन की मात्रा को बनाए रखते हैं जिस वजह से एनीमिया की स्थिति पैदा नहीं होती। हर सुबह गर्म पानी में शहद और नींबू का रस निचोड़ कर पिएं। इसके साथ ही अन्य खाद्य पदार्थों को बनाने में भी शहद का इस्तेमाल कर सकती हैं।

2. चुकंदर (Beetroot Juice)

नियमित रूप से एक गिलास चुकंदर का जूस एनीमिया की समस्या से निजात पाने में आपकी मदद कर सकता है। चुकंदर आयरन, कैलशियम, कॉपर, विटामिन सी, विटामिन बी1, बी2, बी3, बी6 और बी12 का एक बेहतरीन स्रोत है। चुकंदर में मौजूद यस्तवी पोषक तत्व शरीर में हिमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाते हैं। इसी के साथ शरीर में हिमोग्लोबिन की पर्याप्त मात्रा होने से रेड ब्लड सेल्स बनते हैं और एनीमिया की स्थिति पैदा नहीं होती।

यह भी पढ़े – एलोवेरा के साथ करें अपने दिन की शुरुआत, न अपच होगी, न झड़ेंगे बाल

3. पालक (Spinach)

पालक एनीमिया की स्थिति के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें भरपूर मात्रा में आयरन मौजूद होता है और यह शरीर में हिमोग्लोबिन को बनाए रखता है। जिस वजह से रेड ब्लड सेल्स इंप्रूव होते हैं। आप पालक को जूस सलाद और सब्जी के रूप में ले सकती हैं। हंसा जी योगेंद्र के अनुसार हरी पत्तेदार सब्जियों को कच्चा न खाएं।

4. खजूर और किशमिश (Dates & raisins)

खजूर में पर्याप्त मात्रा में आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम और जिंक मौजूद होते हैं। इसके साथ ही इसमें विटामिन ए, विटामिन के, मैग्नीशियम और फोलेट की भरपूर मात्रा पाई जाती है। साथ ही साथ किशमिश आयरन और विटामिन सी से भरपूर होता है। वहीं विटामिन सी शरीर में आयरन को बनाए रखती हैं। तो आप खजूर और किशमिश को ब्रेकफास्ट और स्नैक्स दोनों ही रूप में ले सकती हैं।

अनार और उसका जूस हैं सभी के लिए फायदेमंद। चित्र: शटरस्टॉक

5. अनार (Pomegranate)

अनार को हिमोग्लोबिन को बढ़ाने के लिए एक सबसे प्रभावी फल माना जाता है। वहीं अनार में पर्याप्त मात्रा में आयरन होने के साथ ही इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई और विटामिन के की भरपूर मात्रा पाई जाती है। इसके साथ ही यह फाइबर, फोलेट, पोटैशियम और अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्वों का एक बेहतरीन स्रोत है।

हंसा जी के अनुसार अनार में एस्कॉर्बिक एसिड मौजूद होता है, शरीर में एस्कॉर्बिक एसिड की मात्रा खून में आयरन के स्तर को बढ़ाती हैं। इसके साथ ही पपीता, खरबूज, तरबूज, इत्यादि भी आयरन का एक बेहतरीन स्रोत है।

6. काला तिल (Black sesame seeds)

काले तिल में आयरन कॉपर और जिंक की भरपूर मात्रा पाई जाती है। इसके साथ ही इसमें विटामिन बी6, विटामिन ई और फोलेट भी मौजूद होते हैं ऐसे में इसका सेवन शरीर में हिमोग्लोबिन को बूस्ट करने में आपकी मदद करेगा। आप इसे रोस्ट करके खा सकती हैं, साथ ही अन्य खाद्य पदार्थों में मिलाकर भी इसका सेवन करना उचित रहेगा।

यह भी पढ़े – अमरूद ही नहीं इसके पत्ते भी हैं फायदेमंद, एक्सपर्ट से जानें कब और कैसे करना है इनका सेवन

लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story