वैलनेस
स्टोर

त्योहार की थकान मिटाने का बेहतरीन उपाय है फुट मसाज, यहां हैं इसके फायदे और सही तकनीक

Updated on: 10 December 2020, 12:08pm IST
थकान मिटाने और रिलैक्स करने के लिए मसाज से बेहतर क्या होगा! पर सिर्फ यही नहीं, तलवों की मसाज आपको और भी बहुत से फायदे पहुंचाती है।
विदुषी शुक्‍ला
  • 84 Likes
क्रैम्प होने पर तलवों की मसाज करें। चित्र- शटरस्टॉक।

काम करते-करते गर्दन, कंधे और पीठ दर्द करने लगते हैं। आप अक्सर मसाज पार्लर जाकर या घर पर ही पीठ की मसाज करवाती होंगी। लेकिन इतना काफी नहीं है। आपके पूरे शरीर का वजन उठाते हैं आपके पैर और उन्हें भी रिलैक्स करना जरूरी है।

कोविड-19 के कारण आप प्रोफेशनल मसाज नहीं करवा सकती हैं। लेकिन इसका यह अर्थ नहीं कि आप फुट मसाज के फायदों से वंचित रह जाएं। हम आपको बताते हैं घर पर ही फुट मसाज करने का तरीका और इसके स्वास्थ्य के लिए फायदे।

इस तरह करें फुट मसाज

मसाज के लिए सबसे जरूरी है मसाज का तेल। फुट मसाज के लिए आपको बहुत हैवी तेल इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं है। तिल या नारियल का तेल बेस तेल के रूप में इस्तेमाल करें। दो चम्मच नारियल तेल में दो से चार बूंद लैवेंडर या यूकेलिप्टस एसेंशियल ऑयल मिलाएं। मसाज के तेल को हल्का गुनगुना करें ताकि यह त्वचा में बेहतर सोख पाए और मांसपेशियों को भी आराम मिले।

यह मसाज आप खुद भी कर सकती हैं, लेकिन अगर आप किसी की मदद लें तो आप ज्यादा रिलैक्स कर पाएंगी।

1. सबसे पहले दोनों हाथों में तेल लगाएं और एक तलवे को हाथों में पकड़ें। हल्के हाथ से तलवे पर तेल लगाएं।

2. पहले तलवे की ऊपरी साइड को मसाज करें। पैरों की उंगलियों को पकड़ें और हाथ के अंगूठे से प्रेशर लगाते हुए टखने तक ले जाएं। इस तरह दबाव डालते हुए 4 से 5 बार दबाएं।

3. अपने टोज यानी पैर की उंगलियों की टिप्स को हल्के हाथ से खीचें और दबाएं। फिर हर उंगली के बीच मसाज करें।

4. अब अंगूठे को गोल घुमाते हुए एड़ी की मसाज करें।

5. अब तलवे की निचली साइड पर आये। एड़ी के पास अपने दोनों हाथ रखें और अंगूठों से ऊपर की ओर दबाव डालते हुए मसाज करें।

6. अब मुट्ठी बांधें और उससे तलवे पर गोल आकार में मसाज करें। यह मांसपेशियों में मौजूद तनाव को कम करेगा।

7. अंत में उंगलियों पर दबाव बनाते हुए पैर को दबाएं। अब ऊनी मोजे पहन लें और तेल को अब्सॉर्ब होने दें।

हर तलवे की मसाज कम से कम 10 मिनट तक करनी चाहिए।

पैर दर्द से राहत दिलाने के अलावा और भी हैं फुट मसाज के फायदे

1 ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है

फुट मसाज आपके तलवों ही नहीं पूरे पैर में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है। डायबिटीज के मरीजों के लिए नियमित फुट मसाज बहुत फायदेमंद होती है।

2 मांसपेशियों को रिलैक्स करती है

हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के शोध पत्र में प्रकाशित रिसर्च के अनुसार हमारी स्थिर जीवनशैली के कारण हमारे पैरों की मांसपेशियों का कोई भी व्‍यायाम नहीं हो पाता। जिसके कारण मांसपेशियां कड़क होने लगती हैं। सोने से पहले 10 मिनट की मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, जिसके कारण मांसपेशियों की एक्सरसाइज भी हो जाती है और मसल्स रिलैक्स भी हो जाती हैं।

3 सिर दर्द में राहत देती है

डेनमार्क की एक स्टडी में पाया गया कि रिफ्लेक्सोलॉजी तकनीक से की गई फुट मसाज माइग्रेन और अन्य सिर दर्द में राहत देती है।

4 पैर में छाले, कॉर्न इत्यादि नहीं होते

खराब चप्पल, टेढ़े-मेढ़े फर्श पर चलने से पैर में कॉर्न व कैलस हो जाते हैं। कॉर्न और कैलस सख्त डेड स्किन सेल्स होते हैं, जो ब्लड सर्कुलेशन की कमी के कारण एक जगह इकट्ठा होकर गांठ बना लेते हैं। ये बहुत दर्दनाक होते हैं। नियमित फुट मसाज से आप कॉर्न और कैलस का जोखिम कम कर सकती हैं।

5 पीएमएस के लक्षणों को कम करती है

फुट मसाज आपको रिलैक्स करती है और दर्द से छुटकारा मिलता है। यही कारण है कि पीएमएस के लक्षण जैसे चिड़चिड़ापन, मूड स्विंग इत्यादि को खत्म करने के लिये भी फुट मसाज फायदेमंद है।

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।