सिरदर्द को न लें हल्के में किसी गंभीर स्वास्थ्य समस्या का हो सकता है संकेत

सिरदर्द होना एक सामान्य शारीरिक समस्या है। हम कई घरेलू नुस्खों की मदद से सिरदर्द से राहत पाने का प्रयास करते हैं। ये समस्या गंभीर रूप धारण कर सकती हैं। आइए जानते हैं, क्यों न लें सिरदर्द को हल्के में।
kyun hota hai sirdard
माइग्रेन की वजह से सिररदर्द होना बहुत लोगों को परेशान करता है। चित्र : शटर स्टॉक
ज्योति सोही Updated: 23 Oct 2023, 09:04 am IST
  • 141

दिनभर कम्प्यूटर के सामने बैठना और काम करना, सिरदर्द (headache) का मुख्य कारण है। अधिकतर लोग इसे मामूली समझकर अवॉइड कर देते हैं। अमूमन मामूली से लगने वाला हैडेक किसी बड़ी समस्या का संकेत भी हो सकता है। सिर में उठने वाला दर्द धीरे धीरे पूरे शरीर में फैल जाता है और एक जानलेवा बीमारी का कारण भी साबित हो सकता है। दरअसल, बहुत सी शारीरिक बीमारियां ऐसी है, जिनमें सिरदर्द होना एक आम बात है। आइए जानते हैं, सिरदर्द का कारण (Reasons of headache)

कुछ प्राथमिक कारण जो सिरदर्द का कारण साबित हो सकते हैं

मायो क्लीनिक के मुताबिक शराब, खासतौर से रेड वाइन सिरदर्द का कारण साबित हो सकती है।
प्रोसेस्ड मीट भी सिरदर्द का कारण साबित हो सकता है। दरअसल, इसमें नाइट्रेट की मात्रा अधिक होती है।
नींद में बदलाव या नींद की कमी के कारण भी इस तरह की समस्या बढ़ सकती है।
रात में सोने के खराब पोस्चर के कारण भी ऐसी समस्या होती है।
मायो क्लीनिक के हिसाब से वेटलॉस के लिए कुछ लोग मील्स छोड़ देते हैं। जो परेशानी को बढ़ाने का काम करता है।
तनाव और किसी बात को लेकर होने वाली परेशानी भी सिरदर्द बढ़ा सकती है।

mental depression can cause headache
डिप्रेशन बन सकता है सर दर्द का कारण। चित्र शटरस्टॉक।

एसिडिटी

समय पर सही डाइट न लेने से बॉडी में गैस की समस्या उत्पनन होने लगती है। जंक फूड हमारे शरीर को कई प्रकार से प्रभावित करता है और एसिडिटी उसका प्रमुख कारण है। इसके चलते सिरदर्द और कई बार पीठ में दर्द होने लगता है।

ज्यादा शराब पीना

ज्यादा शराब पीना भी शरीर में कई परिवर्तन लेकर आता है। इससे न केवल रक्त प्रवाह प्रभावित होता है और पूरा ब्लड सर्कुलेट नही हो जाता है। सिर की नसों तक खून नहीं पहुंच पाने से सिरदर्द होने लगता है। इसके अलावा स्मोकिंग भी शरीर को नुकसान पहुंचाती है और ज्यादा स्मोक करना शरीर के लिए नुकसानदायक हो सकता है।

एक्यूप्रेशर का लाभ

रेकी एक्सपर्ट आचार्य गिरीश के मुताबिक हाथों और पैरों की उंगलियों पर दाल के दाने या रिंग्स के माध्यम से एक्यूप्रेशर दिया जाता है। इससे सिरदर्द का लाभ पहुंचता है। इसके लिए दोनों हाथों को एक दूसरे पर रखें उसके बाद हाथों के अंगूठें और मध्यमा उंगली को लेकर मसाज करें। रेकी एक्सपर्ट के मुताबिक इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराने से सिरदर्द को काफी राहत मिल जाती है।

gas ke karan bhi ho sakta hai sardard
गैस के कारण भी हो सकता है सरदर्द। चित्र : शटरस्टॉक

वॉटर इनटेक है ज़रूरी

शरीर में पानी की कमी भी सिरदर्द का कारण बन जाती है। ऐसे में हल्का गुनगुना पानी एक एक घूंट कर पीएं। इससे शरीर में वॉटर लेवल सामान्य होने लगता है। उसके बाद सिरदर्द से धीरेधीरे राहत मिलने लगती है।

लौंग की महक

लौंग को थोड़ा सा भून लें और फिर उसे एक मलमल के कपड़े में बांध लें। उसको कुछ देर सूंघे। आप पाएगें कि आपको धीरे धीरे राहत मिल रही है।

अन्य नुस्खे

सेब को चार फांकों में काटकर उस पर नमक लगाएं। सेब पर नमक को छिड़ककर खाने से भी सिरदर्द से राहत मिलती है।
पानी में पुदीने की पत्तियां और ब्लैक पैपर डालकर कुछ देर उबालें और फिर उसे काढ़े के तौर पर पीएं। इससे भी दर्द कम हो जाता है।
इसके अलावा डॉक्टरी जांच भी बेहद ज़रूरी है। अगर आपको सिर दर्द से राहत नहीं मिल रही है। तो डॉक्टर से सपर्क अवश्य करें।
अगर आप किसी गंभीर बीमारी के शिकार हैं, तो सिरदर्द को हल्के में लेने से बचें।

ये भी पढ़ें- Eye drops : आंखों की रोशनी छीन सकते हैं नकली आंसू लाने वाले आईड्रॉप्स, सीडीसी ने दी चेतावनी

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख