वैलनेस
स्टोर

युवाओं और बच्चों में भी बढ़ रही है यूरिक एसिड की समस्या,जानिए इसे कैसे कंट्रोल करना है

Updated on: 20 August 2021, 09:59am IST
निष्क्रिय जीवन शैली के साथ ही कुछ फूड्स भी हैं जो शरीर में प्यूरिन की मात्रा बढ़ा देते हैं। जिससे यूरिक एसिड बढ़ने लगता है।
मोनिका अग्रवाल
  • 97 Likes
ab yuvao aur bachcho me bhi high uric acid hone laga hai
हाई यूरिक एसिड अब सिर्फ बुजुर्गों की ही समस्या नहीं रही है। चित्र: शटरस्टॉक

यूरिक एसिड (Uric acid) आजकल स्वास्थ्य से जुड़ी बहुत बड़ी समस्या देखने को मिल रही है। आपने आज तक यह जरूर सुना होगा कि अगर आपको यूरिक एसिड की समस्या है, तो आपको टमाटर और पालक से दूरी बना कर रखनी चाहिए। लेकिन अगर आप अपनी सेहत को स्वस्थ रखना चाहती हैं तो एक हेल्दी लाइफस्टाइल की आवश्यकता है। 

क्यों बनता है यूरिक एसिड 

कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल में डाइटिशियन अनिका बग्गा  बताती हैं कि यूरिक एसिड एक मेटाबोलाइट होता है। जोकि सेल्स के ब्रेकडाउन के कारण हर रोज बनता है। अगर आपके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा अधिक बन जाती है, तो यह आपकी किडनी के लिए बहुत हानिकारक बन जाता है।

किडनी आपके शरीर से यूरिक एसिड को ठीक तरह से निकाल नहीं पाएगी। इसलिए ऐसी गतिविधियां करें जिनसे आपका शरीर खुद ही यूरिक एसिड शरीर से बाहर निकालने लगे।

यह भी पढ़ें- आईबीडी का जोखिम बढ़ा सकते हैं अल्ट्रा प्रोसेस्ड फूड, जानिए क्या हो सकता है इनका हेल्दी विकल्प

युवाओं और बच्चों में भी बढ़ रही है यूरिक एसिड की समस्या 

अमेरिकन जर्नल ऑफ हाइपरटेंशन के मुताबिक शोध में पाया गया कि यूरिक एसिड के स्तर में वृद्धि छोटे बच्चों में भी हो सकती है।

Uric acid ki samasya ab yuvao aur bachcho me bhi nazar aa rahi hai
जानिये शरीर में क्यों बनता है यूरिक एसिड. चित्र : शटरस्टॉक

शोध में सामने आया कि 3 साल से कम उम्र के बच्चों में भी यूरिक एसिड बढ़ सकता है। यूरिक एसिड एक केमिकल है, जो शरीर में उन खाद्य पदार्थों को ब्रेक करता है जिनमें प्यूरीन नामक कार्बनिक कंपाउंड होते हैं।

बच्चों में मिलने वाली यूरिक एसिड की वजह से ब्लड प्रेशर की समस्या बड़े होने तक बनी रहती है। हाइ यूरिक एसिड से गाउट, मधुमेह और क्रोनिक किडनी रोग होने की संभावना रहती है। इसलिए जरूरी है कि इस समस्या को समय रहते कंट्रोल कर लिया जाए। आपका आहार इसमें महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है।

यहां हैं लाइफस्टाइल और आहार से जुड़ी वे जरूरी जानकारी, जो यूरिक एसिड कम करने में आपकी मदद कर सकती हैं- 

सबसे जरूरी है एक्टिव रहें 

  1. आपको ज्यादा से ज्यादा एक्टिव रहने की कोशिश करनी चाहिए। 
  2. अगर आप आधे घंटे के लिए बैठ या आराम कर रही हैं, तो आपको इतने समय के बाद 3 से 5 मिनट के लिए खड़े हो जाना चाहिए। 
  3. थोड़ा घूम फिर लेना चाहिए। 
  4. अगर आप और अधिक एक्टिव रहना चाहती हैं, तो रोजाना थोड़ी देर सीढ़ियां चढ़ने की भी कोशिश करें।
  5. आपको हफ्ते में एक बार तो स्ट्रेंथ ट्रेनिंग भी अवश्य ही करनी चाहिए। 
  6. योग और स्ट्रेच रोजाना करने की कोशिश करें।

जानिए आपको क्या नहीं खाना चाहिए

यहां वे खाद्य पदार्थ हैं जिनसे आपको बचना चाहिए: 

  1. केचप, 
  2. टेट्रा पैक जूस, 
  3. चॉकलेट, 
  4. चिप्स, 
  5. बिस्कुट
  6. लगभग सभी पैकेज्ड फूड

अब बात करते हैं उन फूड्स की, जिन्हें आप खा सकती हैं 

1 उबला हुुआ पालक है आपके लिए हेल्दी 

हो सकता है आपने यह सुना हो कि पालक को यूरिक एसिड की समस्या होने पर आपको नहीं खाना चाहिए। लेकिन आप उबली हुई पालक को अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं। इन्हें आप सीमित मात्रा में खा सकती हैं।

2 दूध और दही को करें अपनी डाइट में शामिल  

दूध और दही जैसे डेयरी उत्पादों को अगर आप अपनी डाइट में शामिल करती हैं, तो इससे आपको अच्छा खासा पोषण मिलता है। इसलिए कैल्शियम और अन्य कुछ मिनरल अपनी डाइट में शामिल करने के लिए दूध और दही का सेवन जरूर करें।

3 सुपरफूड हैं अंडे

अंडे भी आपकी सेहत के लिए काफी अच्छे होते हैं और यह आपको काफी प्रोटीन भी उपलब्ध करवाते हैं। इसलिए अगर आप चाहें तो एक से दो अंडे रोजाना अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं।

4 मीट और मछली 

मीट और मछली का अधिक सेवन करना भी आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं होता। खास कर तब जब आप अधिक यूरिक एसिड के शिकार हो। इसलिए आपको मीट और मछली को हफ्ते में एक से दो बार खा लेने चाहिए।

5 अधिक से अधिक पानी पिएं  

आपको अपने शरीर से टॉक्सिंस आदि को बाहर निकलने के लिए अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए। कोशिश करें कि आप हर रोज 8 गिलास पानी तो जरूर ही पिएं।

uric acid me seasonal fruits khaye
यूरिक एसिड मे मौसमी फल खाये। चित्र-शटरस्टॉक

6 सीजनल फल खाएं  

आपको हर रोज फल और सब्जियां खानी चाहिए। जो मौसम चल रहा है उस मौसम में मिलने वाली फल सब्जियों से आपको अधिक लाभ मिलते हैं। केले को शामिल करने से आपके जोड़ों से इंफ्लेमेशन भी कम होती है।

7 नट्स को अपनी डाइट में शामिल करें 

अगर आप बिस्कुट खाने की शौकीन हैं तो आपको इसे अवॉइड करना चाहिए। इसकी बजाए आप बादाम, काजू जैसे नट्स आदि का सेवन कर सकती हैं। ताकि आपको पोषण भी मिल सके और आपके स्वास्थ्य को भी ज्यादा नुकसान न पहुंचे।

अगर आप इन सभी टिप्स को अपने रूटीन में शामिल करती हैं। तो आपकी लाइफस्टाइल हेल्दी बननी शुरू हो जाएगी। इससे यूरिक एसिड ही नहीं बल्कि बहुत सी बीमारियों से आपको छुटकारा मिलेगा।

मोनिका अग्रवाल मोनिका अग्रवाल

स्वतंत्र लेखिका-पत्रकार मोनिका अग्रवाल ब्यूटी, फिटनेस और स्वास्थ्य संबंधी विषयों पर लगातार काम कर रहीं हैं। अपने खाली समय में बैडमिंटन खेलना और साहित्य पढ़ना पसंद करती हैं।