मिट्टी के बर्तनों में खाना पकाने से होते हैं ये 5 फायदे, आयुर्वेद भी करता है इसका समर्थन

आयुर्वेद के अनुसार मिट्टी के बर्तन में खाना पकाने के कई फायदे होते हैं। प्राचीन समय में इसे काफी फॉलो किया जाता था, पर धीरे धीरे इसका प्रचलन कम होता चला गया। तो क्यों न इसे दोबारा से शुरू किया जाये।
Yahan jaane mitti ke bartan me khana pakane ke 5 fayde
यहां जानें मिट्टी के बर्तन में खाना पकाने के 5 फायदे। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 13 May 2024, 17:50 pm IST
  • 123

गर्मी के मौसम में मटके का पानी पीने की सलाह दी जाती है। मिट्टी में कूलिंग प्रॉपर्टीज पाई जाती है, साथ ही यह ऑर्गेनिक होता है, और इनमें कई खास पोषक तत्वों की गुणवत्ता पाई जाती है। इस प्रकार इसके इस्तेमाल से बॉडी हीट को मेंटेन करना आसान हो जाता है। तो क्यों न मिट्टी के मटके का पानी पीने के साथ ही मिट्टी के बर्तन में खाना भी पकाया जाए। आयुर्वेद के अनुसार मिट्टी के बर्तन में खाना पकाने के कई फायदे होते हैं। प्राचीन समय में इसे काफी फॉलो किया जाता था, पर धीरे धीरे इसका प्रचलन कम होता चला गया।

हालांकि, धीरे धीरे लोग सेहत के प्रति जागरूक हो रहे हैं, और मिट्टी के बर्तन का दोबारा से उपयोग करना शुरू कर रहे हैं। आयुर्वेद एक्सपर्ट चैताली राठौड़ ने गर्मी में मिट्टी के बर्तनों में खाना बनाने की सलाह देते हुए, इसके कुछ महत्वपूर्ण फायदे भी बताए हैं। तो चलिए जानते हैं इसके कुछ महत्वपूर्ण फायदे (benefits of cooking in earthen vessels)।

यहां जानें मिट्टी के बर्तन में खाना खाने के फायदे (benefits of cooking in earthen vessels)

1. भोजन का पीएच संतुलन बना रहता है

एक सामग्री के रूप में मिट्टी में अल्कलाइन गुण होते हैं। यह भोजन में मौजूद एसिड के साथ क्रिया करके भोजन के पीएच संतुलन को बनाए रखते हैं। टमाटर जैसे एसिडिक फूड्स मिट्टी के बर्तन से प्राकृतिक मिठास ले लेती हैं, और मिट्टी के बर्तनों में पकाने पर भोजन को एक बेहतरीन स्वाद प्रदान करती हैं।

clay
पोषक तत्वों के नेचुरल फॉर्म को बनाए रखने में मदद करता है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

2. भोजन में 100% पोषण बनाए रखे

मिट्टी के बर्तनों में खाना पकाने के दौरान एवोपोरेट होने वाली सभी स्टीम और वेपर को बनाए रखने का एक अनूठा गुण होता है। यह भोजन के सभी पोषक तत्वों के नेचुरल फॉर्म को बनाए रखने में मदद करता है। इससे खाने में अधिक तेल या पानी डालने की आवश्यकता कम हो जाती है। इस प्रकार खाना बनाने के लिए इसका इस्तेमाल करना फायदेमंद माना जाता है।

यह भी पढ़ें: जामुनी रंग के ये 6 सुपरफूड्स ला सकते हैं आपकी त्वचा में निखार, जानिए इनके फायदे

3. कम तेल का इस्तेमाल होता है 

मिट्टी के बर्तनों में फैट फ्री खाना बनाना संभव है, क्योंकि उनमें नॉनस्टिक गुण होते हैं। इससे मिट्टी के बर्तनों में खाना पकाने के दौरान तेल के कम उपयोग में मदद मिलती है, जिसके परिणामस्वरूप आपके खराब कोलेस्ट्रॉल में कमी आती है और आपकी वजन खासकर कमर पतली हो जाती है। एक अतिरिक्त लाभ यह है कि इससे आपको नमक का उपयोग कम करने में भी मदद मिलती है।

matke mein paani peenee ke fayde
मानव शरीर की प्रकृति एसिडिक होती है, जबकि मिट्टी एल्कालाइन होती है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

4. अधिक स्वादिष्ट बनता है खाना

मिट्टी के बर्तनों में पकाया गया भोजन अन्य बर्तनों की तुलना में अधिक स्वादिष्ट होता है। क्युकी मिट्टी के बर्तन में बने भोजन में नमी की मात्रा बरकरार रहती है, जिससे आपका भोजन पारंपरिक खाना पकाने की तुलना में अधिक रसदार, कोमल और ताज़ा बनता है। यह मिट्टी में खाना पकाने के लिए अद्वितीय है और मसालों और सीज़निंग को भोजन में अधिक गहराई तक ले जाने में मदद करता है, जिससे खाद्य पदार्थों का स्वाद बढ़ जाता है।

5. हृदय स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है

मिट्टी के बर्तन में खाना पकाने का सबसे अच्छा हिस्सा तेल का कम उपयोग है। मिट्टी के बर्तनों में खाना पकाने की प्रक्रिया अन्य बर्तनों की तुलना में धीमी होती है। यह गुण खाद्य पदार्थों में मौजूद प्राकृतिक नमी और प्राकृतिक तेल को बनाए रखने में मदद करता है, जिससे यह आपके दिल के लिए बेहतर बनता है। हृदय के मरीजों को खासकर मिट्टी के बर्तन में बने खाने का सेवन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: Banana Bread Pudding : केले और ब्रेड से बनाएं पुडिंग और एन्जॉय करें अपना चीट डे

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
  • 123
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
अगला लेख