वैलनेस
स्टोर

जानिए उन 3 सप्‍लीमेंट कॉम्‍बीनेशन के बारे में, जिन्‍हें आपको हमेशा साथ में लेना चाहिए

Published on:10 May 2021, 18:20pm IST
अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए कुछ आवश्यक विटामिन और खनिजों को लिया जाना बहुत ही आवश्यक है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 88 Likes
इम्युनिटी को मजबूत करते है्, चित्र- शटरस्टॉक.

हम में से कई लोग अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए हर दिन विभिन्न विटामिन, खनिज और अन्य सप्लीमेंट का सेवन करते हैं। इम्युनिटी और स्वास्थ्य लाभ के लिए कई आवश्यक विटामिन और खनिजों की आवश्यकता होती है।

क्या आप जानती हैं कि इनको विशेष रूप से एक साथ लेने पर आपको बेहतर स्वस्थ परिणाम मिल सकते हैं। जैसे हृदय की स्थिति से निपटने के लिए, हड्डियों की ताकत में सुधार करने से, मैग्नीशियम, कैल्शियम और विटामिन डी के लिए ये सप्लीमेंट हमारे शरीर में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

पत्तेदार सब्जियां, मछली, नट और केले जैसे प्राकृतिक खाद्य पदार्थों के विटामिन और खनिज हमारे शरीर को स्वस्थ रखने का सबसे अच्छा साधन है। हालांकि, हमारे शरीर में कभी भी महत्वपूर्ण पोषक तत्व की कमी से नकारात्मक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया हो सकती है।

इसलिए, बाजार में उपलब्ध सप्लीमेंट उन आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद करते हैं। इसके अलावा, कुछ स्वास्थ्य-संबंधी लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए सप्लीमेंट का भी सेवन किया जा सकता है, जैसे मांसपेशियों में समस्या होने पर उसकी रिकवरी के लिए और हड्डियों को मजबूत करने के लिए।

आप हमेशा स्वस्थ रहें इसलिए, हम तीन सप्लीमेंट कॉम्‍बीनेशन प्रस्तुत कर रहे हैं जिन्‍हें आपको हमेशा साथ में लेना चाहिए

1 मैग्नीशियम और विटामिन डी 3

मैग्नीशियम और विटामिन डी 3 सप्लीमेंट्स एक साथ लिए जा सकते हैं। ये सुनिश्चित करने के लिए कि आपका शरीर पर्याप्त रूप से काम कर रहा है, मैग्नीशियम विटामिन डी 3 को अवशोषित करने के लिए हमारे शरीर के लिए महत्वपूर्ण है, लिवर और किडनी में एंजाइमों को विटामिन डी 3 को तोड़ने के लिए मैग्नीशियम की आवश्यकता होती है। विटामिन डी 3 प्रतिरक्षा प्रणाली(इम्यून सिस्टम) को बढ़ाता है, रक्तचाप को नियंत्रित करता है, हड्डियों, दांतों और मांसपेशियों को मजबूत करता है। दूसरी ओर, मैग्नीशियम हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है, मांसपेशियों के तनाव और मांसपेशियों की ऐंठन से राहत दिलाता है।

2 ओमेगा 3 और विटामिन ई

ये दो पोषक तत्व आपको दिल से संबंधित समस्याओं से निपटने में मदद कर सकते हैंसाथ ही साथ कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी नियंत्रित रख सकते हैं। ओमेगा -3 और विटामिन ई दो महत्वपूर्ण पोषक तत्व हैं, जो कोरोनरी धमनी रोग (सीएडी) से पीड़ित लोगों के लिए बहुत लाभ देते हैं। 

वास्तव में, यूएस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, ओमेगा 3 और विटामिन ई के सह-प्रशासन सीएडी रोगियों में सीरम इंसुलिन और इंसुलिन प्रतिरोध को कम कर सकते हैं। 

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए नियमित लें. चित्र : शटरस्टॉक

इसके अलावा, इन दो सप्लीमेंट्स के मेल से कोलेस्ट्रॉल की समस्या से ग्रसित लोगों VLDL (बहुत कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन) के स्तर को काफी कम कर सकते हैं। कुल मिलाकर, इन सप्लीमेंट्स का उपयोग करके तनाव के स्तर को भी कम किया जा सकता है क्योंकि ओमेगा -3 मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करता है।

ओमेगा -3 मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करता है, चित्र-शटरस्टॉक.

3. मैग्नीशियम और जिंक

जब इन को साथ में लिया जाता है, तो मैग्नीशियम और जिंक के पारस्परिक लाभ होते हैं। मैग्नीशियम शरीर से जिंक के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है, जबकि जिंक ये सुनिश्चित करता है कि शरीर मैग्नीशियम को अच्छे से अवशोषित करे। जिंक भोजन को पचाने, प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने, प्रोटीन को इकट्ठा करने और हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ रखने के लिए महत्वपूर्ण होता है।

इन दोनों पोषक तत्वों को एक साथ लेने का सबसे बड़ा फायदा ये है कि ये तत्व शरीर द्वारा अवशोषित होने के लिए एक दूसरे के साथ प्रतिस्पर्धा नहीं करते हैं। असल में, ये नींद के लिए बहुत बेहतर होते हैं। मांसपेशियों की समस्या को जल्दी ठीक करते हैं, त्वचा के नुकसान को ठीक करने में मदद करते हैं, पचन क्रिया को तेज करते हैं

तो, इन सप्लीमेंट्स के मिश्रण के साथ अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए तैयार हो जाओ, लेकिन सप्लीमेंट्स लेने से पहले डॉक्टर का परामर्श जरूर लें। क्योंकि सप्लीमेंट्स शरीर पर उल्टा प्रभाव भी कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें-Mother’s Day 2021: मां की वे पांच अनमोल बातें आज भी मुझे सेहतमंद रखने में हैं मददगार

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।