लॉग इन

तनाव, अवसाद और हेयर फॉल की वजह हो सकती है फोलिक एसिड की कमी, जानिए इसे कैसे दूर करना है 

फोलिक एसिड प्रेगनेंसी के अलावा, अन्य कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं से बचाव  करने में मदद करता है। इसलिए जरूरी है इसके बारे में जानना। 
फोलिक एसिड शरीर के डैमेज सेल्स की मरम्मत करता है। यह रेड ब्लड सेल फार्मेशन में मदद करता है। चित्र : शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Updated: 11 Oct 2022, 20:20 pm IST
ऐप खोलें

अकसर प्रेगनेंट होने पर डॉक्टर महिलाओं को फोलिक एसिड लेने की सलाह देते हैं। ये सप्लीमेंट के रूप में होता है। गर्भावस्था के दौरान यह कई तरह की शारीरिक समस्याओं से बचाव करता है। इसे गर्भ में पल रहे बच्चे के स्वास्थ्य की सुरक्षा करने वाला माना जाता है। पर सिर्फ यही नहीं, आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए भी फोलिक एसिड की सही मात्रा लेना जरूरी है। यह क्यों जरूरी है और फोलिक एसिड की कमी, किन स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकती है, आइए जानते हैं इस बारे में विस्तार से। 

प्रेगनैंसी के दौरान फोलिक एसिड न लिया जाए, तो क्या कुछ स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, यह जानने के लिए हमने बात की एनआईआईएमएस (NIIMS) में न्यूट्रीशनिस्ट और डायटीशियन डॉ. नीलम अली से।

पहले जानिए क्यों जरूरी है फोलिक एसिड

डॉ. नीलम अली बताती हैं, “फोलेट और फोलिक एसिड विटामिन बी 9 के ही प्रारूप हैं। यह शरीर के डैमेज सेल्स की मरम्मत करता है। साथ ही रेड ब्लड सेल्स के फार्मेशन में भी मदद करता है। इसकी पूर्ति हमारी डेली डाइट से ही होती है। जब हम फोलिक एसिड से भरपूर भोजन नहीं ले पाते हैं, तो हमें इसकी कमी होने लगती है। 

कई मामलों में यह इनफर्टिलिटी और एबॉर्शन का कारण भी बन जाता है। फोलिक एसिड की कमी से कैंसर का जोखिम बढ़ जाता है।”

गर्भ में शिशु को सुरक्षा देता है फोलिक एसिड 

फोलिक एसिड गर्भ में पल रहे बच्चे के ब्रेन और स्पाइनल कोर्ड के डेवलपमेंट में अहम भूमिका निभाता है। इसकी कमी से बच्चे में शारीरिक कमियां भी देखी जाती हैं।

फोलिक एसिड गर्भ में पल रहे बच्चे के ब्रेन और स्पाइनल कोर्ड के डेवलपमेंट में अहम भूमिका निभाता है। चित्र : शटरस्टॉक

साथ ही इसकी कमी से असमय डिलीवरी हो जाती है और बच्चे की मृत्यु भी हो जाती है। यह कन्सीव करने में भी मदद करता है। कभी- कभी आपके बाल अधिक झड़ने लगते हैं, तो इसकी वजह फोलिक एसिड की कमी हो सकती है।

फोलिक एसिड के कारण होने लगती है कई समस्या

डॉ. नीलम अली के अनुसार, अगर आप थोड़ा सा भी काम करके थक जाती हैं, तो इसका मतलब है कि आपको फोलिक एसिड की कमी है। इसके अलावा, कब्ज, एंग्जायटी, सांस फूलना, वजन घटना, भूख नहीं लगना, सिरदर्द, पेट दर्द, दस्त, असमय बाल सफ़ेद होना भी फोलिक एसिड की कमी के लक्षण हो सकते हैं। 

कुछ मामलों में फोलिक एसिड की कमी का प्रभाव याददाश्त पर भी देखा जाता है। मेमोरी पॉवर घट जाती है।

 महिलाओं के लिए क्या होनी चाहिए फोलिक एसिड की आदर्श मात्रा

डॉ. नीलम अली बताती हैं, “यदि स्वास्थ्य संबंधी परेशानी अधिक हो रही है, तो तुरंत डॉक्टर से मिलें। वे जांच कर आपको फोलिक एसिड सप्लीमेंट की सही डोज लेने की सलाह देंगे।

14 वर्ष से अधिक उम्र होने पर 400 माइक्रोग्राम फोलिक एसिड की जरूरत पड़ती है। वहीं प्रेगनेंसी में 600 माइक्रोग्राम फोलिक एसिड की जरूरत पड़ सकती है। यदि आपने बिना किसी डॉक्टर की सलाह के आवश्यकता से अधिक डोज ले ली, तो आपको कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
डॉक्टर की सलाह पर ही फोलिक एसिड सप्लीमेंट लें चित्र : शटरस्टॉक

“ध्यान रखें कि यदि आप फोलिक एसिड सप्लीमेंट ले रही हैं, तो इसके लेने के तुरंत बाद कोई दूसरी मेडिसिन न लें। अपच की कोई भी दवा फोलिक एसिड सप्लीमेंट लेने के कम से कम दो घंटे बाद लें।”

ये भी हो सकते हैं फोलिक एसिड के आहारीय स्रोत 

फोलिक एसिड की पूर्ति के लिए अपने भोजन में हरी पत्तीदार सब्जियां, भिंडी, मशरूम, केला, पपीता, एवोकाडो, संतरा, नट्स एंड सीड्स को शामिल करें। बीन्स, मटर, मकई का आटा, ओट्स, एग, सी फूड्स आदि को भी रोजाना डाइट में शामिल करें।

यह भी पढ़ें :-  हर तरह का रेड मीट नहीं है खराब, रिसर्च में अनप्रोसेस्ड मीट को माना गया कम खतरनाक 

स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है। ...और पढ़ें

अगला लेख