वैलनेस
स्टोर

पीरियड क्रैंप्‍स से लेकर सही पाचन तक, यहां हैं जायफल के तेल के 9 चमत्‍कारिक लाभ

Published on:11 May 2021, 12:00pm IST
जायफल हर भारतीय रसोई में पाया जाता है, इसके स्मोकी स्वाद की वजह से इसे भारतीय रसोई में सबसे प्रधान माना जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि जायफल तेल के स्वास्थ्य लाभ क्या है? यदि नहीं, तो अधिक जानने के लिए आगे पढ़ें।
  • 83 Likes
हर रसोई में पाया जाने वाला जयफल, चित्र-शटरस्टॉक.

हमने सभी आवश्यक तेलों के कई चमत्कारों के बारे में सुना है। लेकिन अगर कुछ है जो आप बिल्कुल भूलना नहीं चाहिए, तो वो है जायफल का तेल। ये न केवल स्वाद, ताजगी और सुगंध देता है, बल्कि ये आपको कई दूसरे तरीकों से भी लाभ देता है।

ये तेल शामक (शरीर और मन को शीतल करने वाला), उत्तेजक, आराम, एंटी–इन्फ्लेमेटरी(anti-inflammatory), एंटीसेप्टिक और जीवाणुरोधी(एंटीसेप्टिक) गुणों से भरा हुआ है। जायफल के तेल को इस्तेमाल करने के लिए सिर्फ यही कारण काफी नहीं हैं। बल्कि और भी बहुत से कारण हैं, जिनकी वजह से आपको जायफल का तेल इस्‍तेमाल करना चाहिए।

यहां जानिए जायफल ऑयल के फायदे

1. आंत की समस्याओं को जांचता है

खराब पाचन? जायफल के तेल में पाचन समस्याओं को ठीक करने की क्षमता होती है। ये शक्तिशाली फाइटोन्यूट्रिएंट्स से भरा होता है, जो कि गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल (पाचन तंत्र) की कार्य करने की क्षमता को बढ़ाता है। यह बेहतर पाचन के लिए भूख को नियंत्रित करना, गैस, दस्त, पेट में दर्द, कब्ज और मतली की वजह को रोक सकता है।

2. रक्त परिसंचरण को बढ़ाता है

जायफल के तेल में कैल्शियम, लोहा, मैंगनीज, खनिज, पोटेशियम शामिल हैं। ये सभी शरीर में रक्त परिसंचरण को विनियमित करने के लिए आवश्यक हैं। साथ ही, ये आपके शरीर में सभी कोशिकाओं को ऑक्सीजन की आपूर्ति करता है।

3. मानसिक तनाव से छुटकारा दिलाता है

ये तनाव, चिंता और अवसाद से निपटने की क्षमता को बढ़ाता है। जायफल का तेल उत्तेजक (स्टीमुलेंट) और शामक (सीडेटिव) के रूप में कार्य करता है, जो उच्च रक्तचाप के स्तर को कम करता है और मन में तनाव और चिंता को कम करता है।

नींद को प्रेरित करने और अन्य चीजों के बीच पाचन में सुधार करने की अपनी क्षमता के लिए आयुर्वेदिक ग्रंथों में जायफल या जयफल को माना जाता है। चित्र सौजन्य: शटरस्टॉक
नींद को प्रेरित करने और अन्य चीजों के बीच पाचन में सुधार करने की अपनी क्षमता के लिए आयुर्वेदिक ग्रंथों में जायफल या जयफल को माना जाता है। चित्र:- शटरस्टॉक

4. नींद की गुणवत्ता को बढ़ाता है

जायफल में हीलिंग गुण मौजूद होता है। जो नसों को आराम देने में मदद करते हैं। ये गुण नसों को शांत करने और सेरोटोनिन जारी करने में मदद करते हैं, जो नींद बढ़ाता है।

5. मासिक धर्म के क्रैंप्स को दूर करता है

जायफल का तेल प्राकृतिक दर्द निवारक के रूप में काम करता है, खासकर मासिक धर्म की परेशानी के मामले में। यदि आप मासिक धर्म के दौरान हार्मोनल असंतुलन या थकान से पीड़ित हैं, तो जायफल के एनाल्जेसिक गुण की वजह से ऐंठन (क्रैंप्स) को कम कर सकते हैं, हार्मोनल असंतुलन को नियंत्रित कर सकते हैं, मूड स्विंग को नियंत्रित कर सकते हैं और दर्द से राहत ले सकते हैं।

6. सांसों की बदबू दूर करता है

जायफल का तेल मुंह के बैक्टीरिया और गंध से छुटकारा पाने में मदद करता है, क्योंकि इसमे जीवाणुरोधी (एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज) गुण हैं। इसके अलावा, इसकी एंटीसेप्टिक प्रकृति दांत दर्द और दर्द वाले मसूड़ों के लिए बहुत प्रभावी है।

7. मस्तिष्क कार्यों को उत्तेजित करता है

जायफल एक मस्तिष्क टॉनिक के रूप में काम करता है। ये आपके मस्तिष्क को प्रभावी ढंग से उत्तेजित (स्टिमुलेट) करता है, थकान को दूर करता है और एकाग्रता में सुधार करता है। इसमें प्राकृतिक कार्बनिक यौगिक होते हैं, जिन्हें मिरिस्टिसिन कहा जाता है, जो आपकी याददाश्त को तेज रखने में मदद करते हैं, और मस्तिष्क से थकावट को दूर करते हैं।

जायफल बहुत सारे गुणों से भरा हुआ है । चित्र : शटरस्टॉक
जायफल बहुत सारे गुणों से भरा हुआ है । चित्र : शटरस्टॉक

8. शरीर को डिटॉक्सीफाई(detoxify) करता है

जायफल एक डिटॉक्सिफाइंग एजेंट के रूप में कार्य करता है। ये किडनी और लीवर के लिए टॉनिक का काम करता है, क्योंकि इसमें डिटॉक्सिफाइंग और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो शरीर से जहरीले पदार्थों को निकालने में मदद करते हैं।

9. सांस संबंधी समस्याओं का इलाज करता है

दमा, एलर्जी और घबराहट जैसी सांस की समस्याओं से निपटने के लिए जायफल का तेल सहायक माना जाता है। इसके अलावा, ये एक ऐसा तत्व है जो विभिन्न खांसी सिरप और कोल्ड रब्स में पाया जाता है, क्योंकि यह ठंड के लक्षणों और खून के जमाव को कम करता है।

तो लेडीज, इस लाभकारी तेल का इस्तेमाल करें और अपने आप को स्वस्थ रखें!

इसे भी पढ़ें-आपकी ओरल हेल्‍थ के लिए हम लाए हैं आयुर्वेद के 3 बेमिसाल तरीके, जानिए कैसे करना है इस्‍तेमाल