और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

किडनी स्‍टोन से लेकर मेमोरी लॉस तक, सर्दियों में कम पानी पीने के हो सकते हैं कई गंभीर नुकसान 

Updated on: 10 December 2020, 12:04pm IST
क्या आप पर्याप्त मात्रा में पानी पी रही हैं, आपके शरीर में पानी की कमी होने पर दिखाई देते हैं ये संकेत, जानें क्या हो सकते हैं इसके दुष्‍प्रभाव। 
विनीत
  • 84 Likes
Khud ko rakhe hydrated
खुद को रखें हाईड्रेटेड। चित्र: शटरस्‍टॉक

दुनिया की आधी से ज्यादा आबादी शरीर में पानी की कमी (डिहाइड्रेशन) की समस्या से पीड़ित है। जिसके चलते शरीर को कई गंभीर बीमारियों का सामना करना पड़ता है। गर्मियों के मौसम में हम खूब पानी पीते हैं। लेकिन सर्दी के मौसम में हम उतना पानी नहीं पी पाते, जितने पानी की शरीर को जरूरत होती है। ऐसे में शरीर में पानी की कमी होना आम बात है।

लेकिन क्या आप जानती हैं कि शरीर में पानी की कमी होना आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए बहुत नुकसानदायक होता है। इसलिए हमें हमेशा अपने शरीर में पानी के स्तर को बनाए रखना जरूरी होता है। क्योंकि पानी की कमी से हमारे शरीर में स्वास्थ्य संबंधी कई परेशानियां हो सकती हैं। शरीर में पानी की कमी होने पर अक्सर कई लक्षण दिखाई देते है, जिन्हें हम नजरअंदाज कर देते हैं। ऐसा करना हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है।

पानी पीना वेट लॉस में भी मददगार है। चित्र: शटरस्‍टॉक
पानी पीना वेट लॉस में भी मददगार है। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्यों जरूरी है बॉडी को हाइड्रेट रखना

हमारे शरीर में बड़ी मात्रा में पानी मौजूद होता है। शरीर को कई कामों को पूरा करने के लिए पानी की जरूरत होती है। जैसे शरीर के तापमान को बनाए रखना, शरीर के जोड़ों को चिकनाई पहुंचाना, अपशिष्ट को हटाना साथ ही शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालना।

पर जब हम कम पानी पीते हैं, तो हमारे शरीर को इन कार्यों को पूरा करने में परेशानी होती है। जिसका खामियाजा हमारे शरीर को भुगतना पड़ता है। इसलिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना और शरीर में पानी के संतुलन को बनाए रखना बहुत जरूरी है।

यह भी पढ़ें: अनसेफ सेक्‍स और एड्स के बारे में आपको अपनी बहन से करनी चाहिए ये 5 जरूरी बातें

समझिए  डिहाइड्रेशन के संकेत

  1. जब डिहाइड्रेशन का लेवल लो या मीडियम हो

  • प्यास लगना
  • मुंह का सूखना और चिपचिपा महसूस करना
  • पेशाब कम आना
  • गाढ़े पीले रंग का पेशाब आना
  • त्वचा सूखी और ठंडी होना
  • सिर में दर्र या मांसपेशियों में ऐठन होना
  1. गंभीर डिहाइड्रेशन की स्थिति होने पर

  • पेशाब बिल्कुल न आना या बहुत ज्यादा गहरे पीले रंग का पेशाब आना
  • ड्राई स्किन होना, या त्वचा पर झुर्रियां दिखाई देना
  • चिड़चिड़ापन या भ्रम की स्थिति पैदा होना
  • चक्कर आना या आंखों के सामने अंधेरा छाना
  • धड़कन बढ़ना और सांसों का तेज होना
  • आंखों के नीचे गड्ढे दिखाई देना
  • बेहोशी की समस्या होना
पानी की कमी आपके स्वास्थ को पहुंचा सकती है नुकसान। सीएचटीआर: शटरस्टॉक

क्या हो सकते हैं डिहाइड्रेशन के प्रभाव

  1. कब्ज हो सकती है

शरीर में पानी की कमी से आपका पाचन तंत्र बुरी तरह से प्रभावित होता है। ऐसे में शरीर में पानी की कमी होने पर आपको कब्ज की समस्या हो सकती है। कब्ज की समस्या से शरीर को बचाने के लिए जितना जरूरी फाइबर है, उतना ही पानी भी जरूरी है। हमारे शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थ हमारी पेट संबंधी कई समस्याओं का कारण बनते हैं।

फाइबर हमारे गट (gut) सिस्टम से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मददगार होता है। लेकिन यह विषाक्त पदार्थ पसीने या यूरिन के जरिए हमारे शरीर से बाहर निकलते हैं। जिसके लिए हमारे शरीर को पर्याप्त मात्रा में पानी की जरूरत होती है।

  1. त्वचा हो सकती है रूखी और बेजान

शरीर में पानी की कमी होने पर इसका असर हमारी त्वचा पर भी दिखाई देने लगता है। जब हम पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीते हैं, तो त्वचा रूखी-सूखी और बेजान लगने लगती है। साथ ही त्वचा पर खुजली या स्किन टाइट भी हो सकती है।

विटामिन सी
पानी की कमी सेआपकी त्वचा ड्राई हो जाती है। चित्र : शटरस्‍टॉक
  1. किडनी पर पड़ता है असर

किडनी को सुचारू रूप से काम करने के लिए पानी की जरूरत होती है। लेकिन शरीर में पानी की कमी होने पर शरीर में ब्लैडर, किडनी या UTI इंफेक्शन की आशंका बढ़ जाती है। जिससे शरीर में मिनरल या सॉल्ट स्टोन बनने का खतरा होता है। पानी इन स्टोन्स को यूरिन में घोलने का काम करता है। लेकिन जब हम पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीते हैं तो किडनी स्टोन्स की समस्या भी हो सकती है।

यह भी पढ़ें: कोविड-19 से प्रभावित हुआ है खसरा वैक्सीनेशन, इसलिए इस संक्रामक बीमारी के बारे में जानना है जरूरी

  1. मेंटल हेल्थ भी होती है डिस्टर्ब

डिहाइड्रेशन या पानी की कमी का असर हमारी मेंटल हेल्थ पर भी पड़ता है। जिसके चलते आप काफी थका हुआ और सुस्त महसूस करती हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों की मानें तो डिहाइ़्रेशन के कारण मूड स्विंग, चिड़चिड़ापन और आपको गुस्सा भी आ सकता है। पानी की कमी के चलते हमारे शरीर में मौजूद रक्त को ऑक्सीजन नहीं मिल पाता है। जिससे शरीर में ब्लड डिलीवरी प्रभावित होती है। इसके चलते शरीर के कई अंग अपना काम ठीक से नहीं कर पाते हैं। इससे शॉर्ट टर्म मेमोरी जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं।

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।