वैलनेस
स्टोर

डियर गर्ल्‍स, 30 के बाद भी रहना है हेल्‍दी और स्‍ट्रॉन्‍ग तो आज ही से रखें अपनी बोन हेल्‍थ का ख्‍याल

Updated on: 21 March 2021, 00:06am IST
हमारा पूरा शरीर, यहां तक कि मस्तिष्‍क भी हड्डियों के एक ढांचे पर खड़ा है। इसलिए खुद को भीतर से मजबूत रखने के लिए जरूरी है कि आप अभी से अपनी बोन हेल्‍थ का ख्‍याल रखें।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 82 Likes
नमक की अधिकता से टखने में सूजन और मोटापे की समस्या बढ़ती है। ।चित्र: शटरस्‍टॉक

हमारी हड्डियां हमारे शरीर का भार उठाती हैं और हमें मूवमेंट करने में मदद करती हैं। वे हमारे मस्तिष्क, हृदय और अन्य अंगों को चोट से बचाती हैं। हमारी हड्डियां कैल्शियम और फास्फोरस जैसे खनिजों को भी संग्रहित करती हैं, जो हमारी हड्डियों को मजबूत रखने में मदद करते हैं।

लेकिन, हमारी हड्डियां समय के साथ कमजोर होने लगती हैं और इनका मसल मास कम होने लगता है। ख़ास कर 30 की उम्र के बाद हड्डियों में दर्द रहने लगता है, बोन डेंसिटी कम होने लगती है, कभी-कभी सर्जरी की आवश्यकता होती है। सिर्फ इतना ही नहीं कमज़ोर हड्डियां कई अन्य स्वास्थ्य समस्याओं का कारण भी बन सकती हैं।

अमेरिकन बोन हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन की मानें तो 30 वर्ष के बाद महिलाओं में फ्रैक्चर और ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा ज्यादा होता है।

जानिए किन कारणों की वजह से 30 के बाद हड्डियां कमज़ोर होने लगती हैं:

आयु: जैसे-जैसे आप बड़े होते जाते हैं, हड्डियां अपने आप कमज़ोर होने लगती हैं।

जेंडर: अगर आप एक महिला हैं, तो आपको ऑस्टियोपोरोसिस होने की अधिक संभावना है, जो हड्डियां कमज़ोर होने की वजह से होता है।

हार्मोन परिवर्तन: महिलाओं में पुरुषों की तुलना में छोटी हड्डियां होती हैं और मेनोपॉज के बाद होने वाले हार्मोन परिवर्तन के कारण पुरुषों की तुलना में तेजी से हड्डी कमज़ोर होती है।

होरमोंस में असंतुलन हो सकता है बिगड़ती बोन हेल्थ का कारण। चित्र-शटरस्टॉक।

पारिवारिक इतिहास: परिवार के किसी करीबी सदस्य को ऑस्टियोपोरोसिस है या कोई हड्डी टूटने की घटना ज्‍यादा हैं, तो आपका भी हड्डी कमज़ोर होने का जोखिम बढ़ सकता है।

आहार: बहुत कम कैल्शियम खाने से हड्डियां कमज़ोर हो सकती है। पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी न मिलने से भी बीमारी का खतरा बढ़ सकता है।

शारीरिक गतिविधि: व्यायाम न करना और लंबे समय तक सक्रिय न रहना आपकी हड्डियां कमज़ोर कर सकता है। नियमित एक्सरसाइज से मांसपेशियों की तरह, हड्डियां मजबूत हो जाती हैं।

शरीर का वजन: बहुत कम या बहुत ज्‍यादा वजन होना भी आपकी हड्डियों को कमज़ोर कर सकता है।

अब जानिए कि इन जोखिमों से बचाने के लिए आपको कैसे रखना है अपनी हड्डियों का ख्याल

1 कैल्शियम और विटामिन डी से भरपूर संतुलित आहार लें

कैल्शियम के अच्छे स्रोतों में कम वसा वाले डेयरी उत्पाद और अतिरिक्त कैल्शियम वाले खाद्य पदार्थ और पेय शामिल हैं। विटामिन डी के अच्छे स्रोतों में अंडे की जर्दी, मछली, और दूध शामिल हैं। पर्याप्त कैल्शियम और विटामिन डी पाने के लिए कुछ लोगों को पोषक तत्वों की खुराक लेने की आवश्यकता हो सकती है। फल और सब्जियों में मौजूद अन्य पोषक तत्व भी हड्डी के लिए महत्वपूर्ण हैं।

30 की उम्र से पहले ही आपको अपनी कैल्शियम की खपत बढ़ा देनी चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक

2 शारीरिक रूप से सक्रिय रहें

मांसपेशियों की तरह ही हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए भी व्‍यायाम की आवश्‍यकता होती है। स्वस्थ हड्डियों के लिए सबसे अच्छा व्यायाम वेट ट्रेनिंग है। अन्य व्‍यायाम जैसे चलना, सीढ़ियां चढ़ना, वजन उठाना और नृत्य करना भी काफी मददगार साबित हो सकते हैं। प्रत्येक दिन 30 मिनट का व्यायाम करने की कोशिश करें।

3 एक स्वस्थ जीवन शैली अपनाएं

धूम्रपान न करें और यदि आप शराब पीती हैं, तो इसका सेवन सीमित करें। अपने हड्डी के स्वास्थ्य के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें। अपने डॉक्टर की सलाह से बोन डेंसिटी टेस्ट भी करवा सकती हैं और बोन डेंसिटी कम होने का समय रहते उपचार कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें : बढ़ती उम्र की समस्‍याओं को कम करना है, तो अपने एजिंग पेरेंट्स के आहार में करें ये 5 जरूरी बदलाव

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।