बेबी किक फील कर रहीं हैं? तो जानिए इस खास अनुभव के बारे में कुछ जरूरी बातें

Published on: 8 July 2022, 11:35 am IST

मां के गर्भ में बच्चे का स्वास्थ्य अत्यंत महत्वपूर्ण है और बच्चे की हलचल इसके बारे में बहुत कुछ बता सकती है।

pregnancy mein sex
गर्भावस्था में सेक्स करना सही है या नहीं। चित्र : शटरस्टॉक

गर्भावस्था का एक महत्वपूर्ण हिस्सा वो होता है जब मां अपने गर्भ में बच्चे की हरकतों को महसूस करने लगती है। यह बच्चे के अच्छे स्वास्थ्य और भलाई का संकेत देता है, और मां और बच्चे के बीच के बंधन को मजबूत करता है। मगर कभी-कभी, नई मां के लिए यह समझना थोड़ा मुश्किल हो सकता है जब तक एक मूवमेंट पैटर्न स्थापित नहीं हो जाए। और कभी-कभी उसके बाद भी, यह आकलन करना मुश्किल हो जाता है कि बच्चा ठीक है या नहीं।

तो यहां बच्चे की गतिविधियों के बारे में थोड़ी जानकारी दी गई जिससे नई मां पैनिक न करे

1. क्विकनिंग (Quickening)

क्विकनिंग एक शब्द है जिसका इस्तेमाल पहले स्पंदन या फड़कन का वर्णन करने के लिए किया जाता है, जो पेट में तितलियों की तरह महसूस होता है। आम तौर पर, पहली बार मां बनने वाली माताओं के लिए बच्चे की गतिविधियों की धारणा 20-22 सप्ताह तक होती है, जबकि दूसरी या तीसरी गर्भावस्था वाली महिलाओं के लिए यह लगभग 16-18 सप्ताह होती है।

लगभग सातवें महीने तक की शुरूआती हलचलें अप्रत्याशित होती हैं। मगर 36-37 सप्ताह तक, बच्चे के बढ़ते वजन, कम तरल पदार्थ और बच्चे के गर्भाशय के अंदर जाने के लिए कम जगह उपलब्ध होने के कारण हलचल कम हो जाती है।

2. दूसरी तिमाही में हलचल

दूसरी तिमाही के दौरान, बच्चे की हरकतें थोड़ी अप्रत्याशित हो सकती हैं। आप भ्रूण की गतिविधियों को नियमित रूप से और अधिक तीव्रता के साथ नोटिस करना शुरू कर देंगी। मगर याद रखें, आपका शिशु अभी बन रहा है। जैसे-जैसे बच्चा बढ़ता है, उद्देश्यपूर्ण हरकतें शुरू होती हैं और थोड़ा खिंचाव या किक महसूस होना शुरू हो जाती है।

3. तीसरी तिमाही कैसे अलग है?

तीसरी तिमाही के दौरान, बच्चे की हलचल काफी तेज हो जाती है और इसके परिणामस्वरूप मां को काफी असहजता महसूस हो सकती है और साथ ही घबराहट भी हो सकती है। मूवमेंट की तीव्रता और संख्या 36-37 सप्ताह के करीब कम होने लगती है क्योंकि जैसे-जैसे बच्चा बढ़ता है, उसके चारों ओर तरल पदार्थ कम हो जाता है, इस प्रकार उसके गर्भ के अंदर घूमने के लिए जगह कम हो जाती है।

इस समय, डॉक्टर आमतौर पर किक काउंट करने का सुझाव देते हैं, जिसका अर्थ है कि एक निश्चित अंतराल के दौरान बच्चा कितनी बार किक मारता है, इस पर नज़र रखना। इसे फेटल मूवमेंट काउंट (FMC) के नाम से भी जाना जाता है।

baby in a womb
जानिए गर्भ में बच्चे की हलचल के बारे में. चित्र : शटरस्टॉक

4. याद रखें, आपका शिशु अद्वितीय है

प्रत्येक गर्भावस्था अलग होती है। शिशुओं के लिए मूवमेंट का कोई निर्धारित पैटर्न नहीं है। कृपया याद रखें, बच्चे ज्यादातर समय सो रहे होते हैं और जैसे-जैसे गर्भावस्था आगे बढ़ती है, एक पैटर्न विकसित होता है। कुछ लोग दिन में अधिक हलचल महसूस करते हैं जबकि अन्य रात में। दोनों बिल्कुल ठीक हैं।

5. बेबी का हिचकी लेना

बच्चे की हिचकी को कभी-कभी हर दो सेकंड के बाद लयबद्ध हरकतों के रूप में महसूस किया जाता है। यह आमतौर पर माता-पिता के मन में चिंता पैदा करता है, लेकिन उन्हें यह समझना चाहिए कि यह बच्चे के विकास का एक सामान्य हिस्सा है, और यह अच्छे स्वास्थ्य का प्रतीक है।

6. असामान्य गतिविधियां

यदि बच्चा हिलता या लात नहीं मारता है, तो आपको कुछ समय के लिए पेट को रगड़ने की कोशिश करनी चाहिए या नाश्ता करना चाहिए या अपनी स्थिति बदलने का प्रयास करना चाहिए। और अगर यह लंबे समय तक बना रहता है, तो आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

मूवमेंट में बदलाव का पता लगाना एक समस्या का संकेत हो सकता है और आपके बच्चे के जीवन को बचा सकता है। यदि आपको बच्चे का मूवमेंट नहीं पता चलता है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। प्लेसेंटा, गर्भाशय, या गर्भनाल की समस्याओं जैसी जटिलताओं के कारण असामान्य हलचल हो सकती है।

जबकि अत्यधिक हलचल कभी भी हानिकारक नहीं होती है, किसी भी कमी या अनुपस्थित मूवमेंट को हमेशा चिकित्सा ध्यान देना चाहिए। अंत में, अगर कोई बच्चे को सबसे अच्छी तरह जानता है, वह आप हैं। मगर यदि किसी भी समय, आप उनकी गतिविधियों के बारे में अनिश्चित महसूस करती हैं और उनके स्वास्थ्य के बारे में चिंतित हैं, तो कभी भी अपने डॉक्टर से मदद लेने की प्रतीक्षा न करें।

यह भी पढ़ें : इन फूड्स के साथ आप बिना दवाओं के भी रह सकती हैं डायबिटीज से दूर

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें