फॉलो

सैनिटाइजर न होने पर क्‍या करती हैं आप? यहां एक्‍सपर्ट बता रहीं हैं कुछ ईजी विकल्‍प

Updated on: 9 July 2020, 18:08pm IST
कोविड-19 महामारी के कारण सैनिटाइजर और डिसइन्फेक्टेंट की मांग 500 गुना से भी ज्‍यादा बढ़ गई है। कभी-कभी आपको भी इनकी शॉर्टेज का सामना करना पड़ रहा होगा। ऐसी स्थिति के लिए हम आपको बता रहे हैं कुछ ईजी ऑप्‍शन।
विदुषी शुक्‍ला
  • 74 Likes
होम हाइजीन के लिए बेकिंग सोडा का करें इस्तेमाल । चित्र: शटरस्‍टॉक

कोविड-19 महामारी के चलते पब्लिक हाईजीन को लेकर जागरूकता बढ़ी है। साथ ही बढ़ी है डिसिन्फेक्टें ट और सैनिटाइजर की मांग। भारत में सैनिटाइजर की मांग पिछले 5 महीनों में 520% बढ़ी है।

क्यों हो रही है डिसइन्फेक्टेंट और सैनिटाइजर की कमी

डिसइन्फेक्टेंट और सैनिटाइजर की डिमांड और सप्लाई के बीच एक बड़ा अंतर है। कोविड-19 महामारी से पहले डिसिन्फेक्टेंट की मांग कम थी, जिसके कारण इसे बनाने वाली कम्पनियां भी कम थीं। अचानक से बढ़ी मांग को पूरा करने के साधन नहीं थे और लॉकडाउन में काम भी बंद हो गया था। इसके साथ ही सैनिटाइजर और डिसइन्फेक्टेंट की बढ़ती कीमतों का फायदा उठाने के लिए इन ज़रूरी सामानों की जमाखोरी भी होने लगी।

ऐसे कई कारण हैं जिनकी वजह से डिसइन्फेक्टेंंट और सैनिटाइजर हमें आसानी से उपलब्ध नहीं हो पा रहे। ऐसे में इनके कुछ अल्टरनेटिव मौजूद हैं जिनका इस्तेमाल करके आप खुद को सुरक्षित  भी रख सकती हैं और आपकी जेब पर भी ज्यादा फर्क नही पड़ेगा।

जार्जटाउन यूनिवर्सिटी के माइक्रोबायोलॉजी एंड इम्यूरनोलॉजी की प्रोफ़ेसर डॉ जूली फ़िशर इन होम मेड विकल्पों की सलाह देती हैं।

1. साबुन ही है सैनिटाइजर से बेहतर

मार्केट में अलग-अलग तरह के साबुन मौजूद हैं। कुछ साबुन एन्टीबैक्टीरियल होने का दावा भी करते हैं। लेकिन असल में इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। आप हाथ धोने के लिए किसी भी साबुन का प्रयोग कर सकती हैं। यही नहीं साबुन से हाथ धोना, सैनिटाइजर के मुकाबले बेहतर विकल्प है।

साबुन हैंड सेनिटाइजर से बेहतर विकल्‍प है। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. होममेड सैनिटाइजर

अगर आप नियमित रूप से सैनिटाइजर इस्तेमाल करते आ रहें हैं, तो आपने देखा होगा पिछले दिनों बाजार में सैनिटाइजर की कीमतों में कितना बड़ा उछाल आया है। ऐसे में महंगा सैनिटाइजर खरीदने से बेहतर है कि आप घर पर ही सैनिटाइजर बना लें।

इसके लिए आपको रबिंग अल्कोहल और एलोवेरा जेल की ज़रूरत पड़ेगी। आप चाहें तो इसमें एसेंशियल ऑयल्स भी मिला सकती हैं। सेन्टर ऑफ डिसीज़ कंट्रोल एंड प्रिवेनशन के अनुसार कम से कम 70% रबिंग अल्कोहल सैनिटाइजर में ज़रूर होनी चाहिए।

3. हैंड सैनिटाइजर का विकल्प

अगर सैनिटाइजर खत्म हो गया है और मार्केट में भी अवेलेबल नहीं है तो परेशान होने की ज़रूरत नहीं। डॉ फ़िशर कहती हैं कि घर में रखे आफ्टर शेव को भी सैनिटाइजर की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन ध्यान रहे इसको एक टेम्परेरी विकल्प के रूप में ही रखें। बहुत इस्तेमाल करना आपकी त्वचा के लिये हानिकारक हो सकता है।

4. डिसिन्फेक्टेंट के रूप में ब्लीच

डॉ फ़िशर कहती हैं कि यदि डिसिन्फेक्टेंट नहीं है तो उसकी जगह ब्लीच का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे, क्लोरीन फ्री ब्लीच आपके किसी काम का नहीं है। 10 लीटर पानी में एक कप ब्लीच मिलाएं और इसे अधिकतर छुई जाने वाली जगहों पर स्प्रे करें। 5 मिनट बाद गीले कपड़े से पोंछ दें। ब्लीच का इस्तेमाल करते वक्त ध्यान रखें कि बन्द कमरे में ब्लीच को न घोलें और 24 घण्टे के अंदर ही सोलुशन का इस्तेमाल कर लें।

सर्फेस को साफ करने के लिए आप ब्‍लीच का भी इस्‍तेमाल कर सकती हैं। चित्र : शटरस्‍टॉक

5. फल-सब्जियों को ऐसे करें सैनिटाइज

बाज़ार से हर दिन अगर फल और सब्जी ला रहे हैं, तो उससे भी इन्फेक्शन का डर रहता है। इसलिए सब्जियों और फलों को बाजार से लाते ही साफ करना ज़रूरी है। इसके लिए आधी बाल्टी पानी में एक चम्मच बेकिंग सोडा मिला लें और सभी फल-सब्जियों को इस पानी में 10-12 मिनट के लिए भिगोकर रख दें। उसके बाद साफ पानी से सभी को धोकर इस्तेमाल कर सकते हैं।

कोविड-19 के चलते हम सब पर्सनल और पब्लिक हाईजीन के प्रति ज्यादा सजग हुए हैं। साफ-सफाई को अपनी आदतों में शामिल करना चाहिए। ताकि आगे भी हम इन्फेक्शन से सुरक्षित रहें।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।

संबंधि‍त सामग्री