ठंड में बच्चों को भूल कर भी न दें अल्कोहल, यहां जानिए उन्हें गर्माहट देने का सही तरीका

Published on: 20 December 2021, 19:00 pm IST

कुछ लोग बढ़ती ठंड और बर्फीले मौसम में छोटे बच्चों को सर्दी से बचाने के लिए ब्रांडी देने की सलाह देते हैं। पर विशेषज्ञ इस सुझाव पर कड़ी आपत्ति जता रहीं हैं।

in tips ke sath winters me baby ko warm rakhen
एक्सपर्ट बता रहे हैं सर्दियों में बेबी को गम्र रखने के उपाय। चित्र: शटरस्टॉक

सर्दियां आ गई हैं और हर मां के लिए सबसे बड़ी चिंता यही होती है कि वे अपने बच्चों में गरमाहट कैसे रखें और उन्हें सर्दी से कैसे बचाकर रखें। कम तापमान बच्चों और खास तौर पर छोटे बच्चों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है, क्योंकि उनके शरीर का सिस्टम उनके तापमान को बनाए रखने के लिहाज से परिपक्व नहीं होता है।

सर्दियों के मौसम में बच्चों को कोल्ड, फ्लू और वायरल संक्रमण जैसी बीमारियां आसानी से अपना शिकार बना सकती हैं। किसी खास तरह की एलर्जी से प्रभावित बच्चों में सर्दी और खांसी का असर लंबे समय तक देखने को मिल सकता है और कुछ बच्चों को बदलते मौसम और प्रदूषण की वजह से सांस लेते वक्त घरघराहट और दमा के अटैक जैसी चीज़ों का सामना भी करना पड़ सकता है।

इसलिए आज हम हर उस चीज़ के बारे में चर्चा करेंगे, जो हम अपने बच्चों को सुरक्षित, गरमाहट से भरपूर और खास तौर पर रात के समय आराम का अहसास कराने के लिए कर सकते हैं।

यहां कुछ सलाहें दी गई हैं:

1 अपने बच्चे को कपड़े अच्छी तरह पहनाएं

नवजात और छोटे बच्चों को कपड़े अच्छी तरह पहनाए जाने चाहिए। उन्हें न तो कम कपड़े पहनाएं और न ही ज़्यादा। इस मामले में पालन करने के लिए सबसे अच्छा नियम यह है कि आपको गर्म रहने और आरामदायक बने रहने के लिए जितनी सतहों की ज़रूरत होती है, बच्चे को उससे एक ज़्यादा सतह पहनाएं।

बच्चों को कपड़ों की कई सतह पहनाएं, ताकि डायपर बदलने के दौरान कपड़े खराब न हों। अपने बिस्तर के आसपास कुछ अतिरिक्त गर्म कपड़े भी रखें।

Baby jis room me hai use warm rakhen
बच्चा जिस कमरे में है उस कमरे को गर्म रखें। चित्र : शटरस्टॉक

2 कमरे का तापमान सही रहना चाहिए

कमरे में आरामदायक गरमाहट होनी चाहिए, गैस की सही मात्रा होनी चाहिए और कमरा हवादार भी होना चाहिए। बच्चे को दरवाज़े से दूर रखें, ताकि खिड़कियों या दरवाज़ों के खुलने या बंद होने पर आने वाले हवा के झोकों से सुरक्षित रखा जा सके।

3 बच्चे को लपेट कर रखें / बच्चे को आरामदायक तरीके से दबाकर रखें

बच्चे को गर्म कंबल या उसके आकार के हिसाब से छोटे स्लीपिंग बैग में लपेटकर रखना अच्छी आदत है। ताकि वह पूरी रात गर्माहट से भरपूर रहे, क्योंकि अक्सर वे कंबल या शीट को हटा देते हैं। बड़े बच्चों को भी उनके कंबल में अच्छी तरह लपेटना ज़रूरी होता है, ताकि वे पूरी रात उससे ढंके रहें।

4 बच्चे को खिड़कियों और दरवाज़ों से दूर रखें

बच्चों को रोशनदानों, खिड़कियों, पंखों और दरवाज़ों से कई फीट दूर रखना चाहिए। इसके अलावा, सभी दरवाज़ों और खिड़कियों को बंद रखें, ताकि ठंडी हवा कमरे के भीतर न आ सके। अगर बच्चे की त्वचा ड्राई यानी शुष्क हो तो एक आरामदायक और हाइपरएलर्जेनिक लोशन का इस्तेमाल कर सकते हैं।

5 बच्चे के सिर और हाथों को ढंककर रखें

सर्दियों में सिर के साथ-साथ हाथों को भी टोपी और मिटेन से ढंककर रखें। उंगलियों और अंगूठों को देखते रहें कि वे गुलाबी और गर्म हैं या नहीं। अगर वे मटमैले या नीले दिखें और छूने पर ठंडे मालूम हों, तो बच्चों को गरमाहट देने के लिए तुरंत कुछ करें।

6 बिस्तर को पहले से गर्म रखें

सर्दियों में अतिरिक्त ध्यान देना और सावधानी बरतना हमेशा ही अच्छा होता है। बिस्तर को पहले से गर्म रखना अच्छी बात है। छोटे बच्चे को सुलाने से 20 से 30 मिनट पहले हॉट वाटर बॉटल या हीटिंग पैड का इस्तेमाल किया जा सकता है। या सोने से 30 मिनट पहले बिस्तर को कंबल से ढंक दें। ज़्यादा गरमाहट या जलने से बचाने के लिए हॉट वाटर बॉटल को बच्चे को सुलाने के बाद हटा लें।

Bachcho ka shareer alcohol ko nahi jhel sakta
बच्चों का शरीर एल्कोहल को बर्दाश्त नहीं कर सकता। चित्र:शटरस्टॉक

7 बच्चों को एल्कोहॉल देना हो सकता है खतरनाक

बच्चों को कभी भी ब्रैंडी नहीं देनी चाहिए, क्योंकि एल्कोहॉल से नशा होने की संभावना होती है। शिशुओं का शरीर इसे संभालने के लिए नहीं बना होता। सर्दी के लिए ब्रैंडी या कोगनैक का सेवन करने से बच्चों में एसिडियॉसिस हो सकता है, क्योंकि इससे उनके पेट और शरीर में पीएच स्तर गड़बड़ हो सकता है और इसकी वजह से खून में एसिड की मात्रा ज़्यादा हो सकती है।

एक और सलाह है कि बच्चों को गर्म पानी, दूध, सूप जैसी चीज़ें देकर उनके शरीर को हाइड्रेट रखें। इसके अलावा, उन्हें हल्का और पोषण से भरपूर खाना खिलाएं।

यह भी पढ़ें – जानिए क्या है बच्चों के लिए तैयार की गई कोविड वैक्सीन जायकोव डी, जिसे यूपी में दे दी गई है मंजूरी

Dr Neetu Talwar Dr Neetu Talwar

Dr Neetu Talwar, Additional Director, Pediatric Pulmonology, Fortis Memorial Research Institute, Gurugram.

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें