वैलनेस
स्टोर

आहार में अत्यधिक चीनी का सेवन बढ़ा सकता है आपके लिए कोलाइटिस का जोखिम, जानिये कैसे

Updated on: 10 December 2020, 12:14pm IST
क्या आप जानती हैं थोड़ा सा भी मीठा आपके पेट पर बहुत बुरा प्रभाव डाल सकता है। यहां तक कि इससे कोलाइटिस जैसी गंभीर बीमारियों के जोखिम बढ़ जाता है।
विदुषी शुक्‍ला
  • 75 Likes
ज्‍यादा मीठा खाने से कैंसर कोशिकाओं में बढ़ोतरी होती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

मीठा खाना छोड़ना शायद सबसे मुश्किल कामों की फेहरिस्त में शुमार है। हम कितनी भी कोशिश कर लें, कितनी भी सख्त डाइट अपना लें, मगर मीठे से ज्यादा दिन दूर नहीं रह पाते। हमारा खानपान ही ऐसा है, जहां अनेक प्रकार की स्वादिष्ट मिठाईयां होती हैं और उन्हें खाने-खिलाने के अवसर भी आते रहते हैं।

लेकिन आपका मीठे के प्रति प्रेम आपके लिए बहुत खतरनाक साबित हो सकता है। चीनी न सिर्फ आपको मोटापे का शिकार बनाती है, बल्कि आपके स्वास्थ्य के लिए भी बहुत हानिकारक है। वजन बढ़ाने और ब्लड शुगर लेवल अनियंत्रित करने के साथ-साथ चीनी पेट के लिए भी बहुत खतरनाक है।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

स्टडी में पाया गया चीनी बढ़ाती है कोलाइटिस का जोखिम

साइंस ट्रांसलेशनल मेडिसिन नामक जर्नल में प्रकाशित स्टडी के अनुसार चीनी कोलाइटिस का जोखिम बढ़ाती है। कोलाइटिस आंत की एक गम्भीर बीमारी है जिसमें आंतों में सूजन आ जाती है। टेक्सास के मेडिकल सेंटर ऑफ डालास के शोधकर्ताओं ने चूहों पर किये अपने रिसर्च में यह निष्कर्ष निकाला है। शोधकर्ताओं ने चूहों को शुगर सिरप (ग्लूकोज, फ्रुक्टोज और सुक्रोज) दी और जिन चूहों को सबसे अधिक शुगर दी गयी, उनमें सबसे जल्दी और अधिक लक्षण दिखाई पड़े।
जीन सीकुएसिंग टेक्नीक की मदद से वैज्ञानिकों ने पेट में मौजूद बैक्टीरिया की पहचान की, जो कोलाइटिस के लिए जिम्मेदार था।

चीनी एक बेहतरीन स्‍क्रबर है। चित्र: शटरस्‍टॉक
शक्कर की जगह ब्राउन शुगर का प्रयोग एक अच्छा विकल्प है। चित्र- शटरस्टॉक।

क्यों खतरनाक है चीनी का सेवन

चीनी के सेवन से पेट मे मौजूद बैक्टीरिया का संतुलन बिगड़ जाता है। यह तो आप जानती ही होंगी कि हमारे पेट में अच्छे बैक्टीरिया रहते हैं जो पाचन में सहायक होते हैं। चीनी खाने से लैक्टोबैसिलस जैसे अच्छे बैक्टीरिया खत्म होने लगते हैं। और एकर्मनसिया नामक खतरनाक बैक्टीरिया, जो बुरे एंजाइम बनाते हैं, उनकी संख्या उल्लेखनीय रूप से बढ़ जाती है।

यही बैक्टीरिया आंतो में सूजन पैदा कर कोलाइटिस के लिए जिम्मेदार होते हैं।
इसमें भी ग्लूकोज सबसे अधिक नुकसानदेह होती है, जो रिफाइंड शुगर में पाई जाती है। फलों में मौजूद शुगर यानी फ्रक्टोज कम हानिकारक थी।

चीनी पेट के लिए भी बहुत खतरनाक है।
चित्र : शटरस्टॉक

आपकी डाइट में किये गए किसी भी बदलाव का पहला असर आपके पेट पर भी पड़ता है और यह आपके पाचनतंत्र को प्रभावित करता है। अच्छे पाचनतंत्र के लिए मीठा अवॉयड करें। इसके साथ ही दही, फाइबर युक्त भोजन और फलों को प्राथमिकता दें। स्वस्थ डाइट के साथ ही थोड़ी बहुत शारीरिक एक्टिविटी अपने रूटीन में शामिल करें।

इससे ना सिर्फ गम्भीर बीमारियों का जोखिम कम होगा, बल्कि आप एक सेहतमंद और तन्दुरुस्त शरीर की स्वामिनी बन सकेंगी।

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।