कलरफुल कॉन्टेक्ट लेंस पहनने की हैं शौकीन? तो इन सेफ्टी टिप्स को न करें इग्नोर

रंगीन कॉन्टेक्ट लेंस आपकी आंखों की खूबसूरती तो बढ़ा सकते हैं, पर इनके इस्तेमाल में लापरवाही आपकी आंखों को नुकसान भी पहुंचा सकती है।
क्या कॉन्टेक्ट लैंस को दिन भर पहनना सेफ है? चित्र: शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated on: 25 April 2022, 12:29 pm IST
ऐप खोलें

आईबॉल यानी आंखों के रंगों के साथ प्रयोग कर अपने लुक को नयापन देने का चलन और फैशन जोरों पर है। कॉन्टेक्ट लेन्स (contact lens) की मदद से ऐसा करना बेहद आसान भी है। जहां पहले लेन्स का इस्तेमाल चश्मे से छुटकारा पाने के लिए ही होता था, वहीं अब यह एक फैशन ट्रेंड (fashion trend) बन गया है। पर यह सवाल जरूर उठता है कि कॉन्टेक्ट लेंस का इस्तेमाल सेफ है या नहीं? आइए जानें क्या है कॉन्टेक्ट लेंस (How to use contact lenses) इस्तेमाल करने का सही तरीका और ये कैसे आपकी आंखों के स्वास्थ्य (contact lens effect on eyes) को प्रभावित करते हैं।

गर्मी बढ़ने के साथ आंखों से संबंधित समस्याएं भी बढ़ने लगती हैं। ऐसे में कोई भी कृत्रिम चीज़ इन्हें नुकसान पहुंचा सकती है। फिर चाहें वह कॉन्टेक्ट लैंस ही क्यों न हों। इस बारे में और भी डिटेल में जानने के लिए हमने बात की इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस के ऑप्थेल्मोलॉजी डिपार्टमेंट की एचओडी प्रोफेसर नंदिता से।

प्रोफेसर नंदिता के अनुसार कॉन्टेक्ट लेन्स का ज्यादा देर तक इस्तेमाल आपकी आंखों को नुकसान पहुंचा सकता है। साथ ही इससे आंखों में ऑक्सीजन की कमी भी हो सकती है। कॉन्टेक्ट लेंस का इस्तेमाल करने पर यह पूरे कॉर्निया को कवर कर लेता है। जिसके कारण ऑक्सीजन आपकी आंखों तक नहीं पहुंचता। लंबे समय तक कॉन्टेक्ट लेंस पहनने पर आंखों में खिंचाव महसूस होता है साथ ही उन तक ऑक्सीजन ठीक से नहीं पहुंच पाता है।

लंबे समय तक कॉन्टेक्ट लेंस पहनने से आपकी आंखों पर खिंचाव हो सकता है। चित्र:शटरस्टॉक

ज्यादा देर तक कॉन्टेक्ट लेंस पहनने पर आपकी आंखों को हो सकते हैं ये साइड इफैक्ट्स 

1 आंखों में ड्राईनेस (Dry eye)

कॉन्टेक्ट लेंस का इस्तेमाल आंखों में ड्राईनेस की समस्या को बढ़ाता है। ड्राई आई सिंड्रोम एक ऐसी स्थिति है जब आंखें लाल हो जाती हैं और उनमें खुजली होने लगती है। जिसके कारण कॉर्निया झुलस जाता है। कॉन्टेक्ट लेंस अपना सूखापन दूर करने के लिए आंखों में आंसू लाते हैं। आंखों में लगातार आंसू आना आपकी आंखों को और ड्राई बनाता है। इस समस्या से बचने के लिए आप कॉन्टेक्ट लेंस का कम से कम इस्तेमाल करें या फिर बीच−बीच में ब्रेक लें। साथ ही आई ड्रॉप का भी इस्तेमाल करें।

2 एलर्जी व आई इंफेक्शन (Allergy and eye infection)

अगर आप बहुत अधिक कॉन्टेक्ट लेंस पहनते हैं, तो कुछ समय बाद आपको एलर्जी व आई इंफेक्शन की समस्या हो सकती है। संक्रमण के पीछे कारण कॉर्नियल घर्षण है। यदि आपकी आंखें ड्राई हैं या फिर कॉन्टेक्ट लेंस आपकी आंखों की सतह पर ठीक से नहीं फिट हैं, तो इससे कॉर्नियल घर्षण हो सकता है। जिससे आंखों में कई तरह के इंफेक्शन हो सकते हैं।

यही नहीं चूंकि आप लेंस का इस्तेमाल अपने लुक को चेंज करने के लिए कर रही हैं, तो संभव है कि आपके मेकअप के कण आपकी आंखों में चले जाएं। ये कॉन्टेक्ट लेंस के साथ मिलकर इंफेक्शन का कारण बन सकते हैं।

3 आंखों में दर्द (Eye pain)

कॉन्टेक्ट लेंस के इस्तेमाल के बाद अधिकतर लोगों को आंखों में दर्द की शिकायत होती है। बहुत अधिक समय तक कॉन्टेक्ट लेंस पहनने से आपकी आंखों को ऑक्सीजन की आपूर्ति में कमी आ सकती है। नतीजतन, आपकी आंखों में दर्द शुरू हो जाता है या आपको धुंधली दृष्टि हो सकती है। कभी−कभी तो लोग अपनी आंखों की रोशनी खो देते हैं।

समय-समय पर अपनी आंखों को आराम देना बहुत जरूरी है। चित्र: शटरस्‍टाॅक

यह भी याद रखें 

प्रो नंदिता कहती हैं, “अगर आपको कलरफुल लेन्स पहनने का शौक है, तो ध्यान रखें कि थोड़े-थोड़े अंतराल पर उन्हें निकाल कर अपनी आंखें बंद कर के रखें। ताकि आंखों को आराम मिले। लेंस को सही तरह से साफ करने के लिए लेंस क्लीनिंग सॉल्यूशन का ही इस्तेमाल करें। नियमित आईड्रॉप का इस्तेमाल आपकी आंखो को ड्राई होने से बचाएगा। इस तरह लेन्स के जरिए आपकी आंखें खूबसूरत ही नहीं दिखेंगी, बल्कि सेफ भी रहेंगी।

यह भी पढ़ें – धूप में बाहर जाने से क्यों डरना, जब आपके पास हैं कस्टमाइज़्ड स्किन केयर टिप्स

लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story