लो ब्‍लड प्रेशर: एक ऐसी समस्या जिसे आप अक्सर नजरअंदाज कर देती हैं

Updated on: 25 April 2022, 22:58 pm IST

हरदम थकान रहना या आंखों में धुंधलापन आना लो ब्लड प्रेशर के भी संकेत हो सकते हैं।

Yah aasan aapke blood pressure ko niyantrit karta hai
यह आसन आपके ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखता है। चित्र-शटरस्टॉक.

जीवन की इस भाग-दौड़ में लोग हमेशा तनाव ग्रस्त रहने लगे हैं। इसके पीछे अनियमित जीवनशैली और असंतुलित आहार जैसे कई कारण हैं। जिनकी वजह से हमें कई शारीरिक समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं। कई शारीरिक समस्याएं एसी भी होती हैं जिनका पता लगाना थोड़ा मुश्किल होता है, क्योंकि इनके लक्षण बेहद आम होते हैं – जैसे लो ब्लड प्रेशर की समस्या।

यदि आप कभी अपने बीपी नापती हैं और आपकी रीडिंग 90 से 60 के बीच में आती है, तो यह हायपोटेंशन यानि लो बीपी की समस्या है। अगर आपने इसके लक्षणों पर ध्यान नहीं दिया या जानते हुए भी नज़रअंदाज़ किया तो आपकी सेहत के लिए यह घातक साबित हो सकता है।

हाइपोटेंशन या लो ब्लड प्रेशर के लक्षण:

थकान

चक्कर

सिर चकराना

जी मिचलाना

चिपचिपी त्वचा

डिप्रेशन

होश खो देना

धुंधली दृष्टि

लक्षण की गंभीरता हर किसी में अलग हो सकती है। कुछ लोग थोड़ा असहज हो सकते हैं, जबकि अन्य काफी बीमार महसूस कर सकते हैं। इसके अलावा, लो ब्लड प्रेशर के कई और संकेत भी हो सकते हैं जिन्हें नज़रंदाज़ बिल्कुल नहीं किया जाना चाहिए।

अगर लंबे समय तक ब्लड प्रेशर लो रहे तो यह कई गंभीर बीमारियों का कारण बन सकता है। चित्र : शटरस्टॉयक अगर लंबे समय तक ब्लड प्रेशर लो रहे तो यह कई गंभीर बीमारियों का कारण बन सकता है। चित्र : शटरस्टॉयक

जानिए लो ब्लड प्रेशर के लिए जिम्मेदार कुछ कारक

1 खून की कमी या एनीमिया

कई बार शरीर में खून की कमी या एनीमिया, निम्न रक्तचाप का कारण बनती है। किसी शारीरिक चोट या अंदरूनी हिस्सों में हुए रक्तस्राव के कारण शरीर में अचानक खून की कमी हो जाती है, जिससे ब्लड प्रेशर लो हो जाता है।

2 कमजोरी और सही पोषण की कमी

पोषण की कमी और कमजोरी लो ब्लड प्रेशर का एक बड़ा कारण है। जरूरी न्यूट्रिएंट्स की कमी होने पर शरीर पर्याप्त मात्रा में रेड ब्लड सेल्स नहीं बना पाता जिससे रक्तचाप बेहद कम हो जाता है।

3 हृदय रोग की समस्या

हृदय से जुड़ी किसी भी प्रकार की समस्या होने पर ब्लड प्रेशर लो हो सकता है। इसलिए, अगर आपको सीने में हल्का दर्द महसूस हो या पहले से कोई ह्रदय रोज हो तो ब्लड प्रेशर नियमित नापे।

4 डिहायड्रेशन

शरीर में पानी की कमी से कई बार आप कमजोरी महसूस कर सकती हैं। पानी की कमी से सिर्फ लो ब्लड प्रेशर ही नहीं, स्वास्थ्य से जुड़ी अन्य समस्याएं भी होती हैं जिसमें बुखार, उल्टी, डायरिया आदि।

5 गर्भावस्था

महिलाओं में गर्भावस्था के दौरान लो ब्लडप्रेशर की समस्या आ सकती है क्योंकि, इस समय सर्कुलेटरी सिस्टम तेजी से बढ़ता है और ब्लडप्रेशर कम होने की संभावना बढ़ जाती है।

इसे भी पढ़ें-क्‍या आप जानती हैं कि ज्‍यादा कैफीन आपकी आंखों को भी नुकसान पहुंचा सकता है, जानिए इसका कारण

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें