बैक टू नॉर्मल और बढ़ती गर्मी! हीट स्ट्रोक से बचना है तो इन 3 घरेलू उपायों को न करें इग्नोर

Published on: 25 March 2022, 18:36 pm IST

लंबे लॉकडाउन और वर्क फ्रॉम होम के बाद आपको घर से बाहर निकल कर काम करने का मौका मिल रहा है। पर बढ़ती गर्मी के साथ यह जोखिम कारक भी हो सकता है।

Heat stroke ke Upaye
हीट स्ट्रोक से बचा जा सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

हम लंबे समय घरों से बाहर निकलने का इंतजार कर रहे थे। बैक टू नॉर्मल (Back to normal) में जब हमने बाहर निकलना शुरू किया है, तब गर्मी (Summer season) भी अपना प्रकोप दिखाने लगी है। बढ़ता पारा हीट स्ट्रोक (Heat stroke) का भी कारण बन सकता है। इसलिए यह जरूरी है कि आप उन घरेलू उपायों (Home remedies for heat stroke) को याद रखें, जो इस चुनौती से निपटने में आपकी मदद कर सकते हैं। 

मौसम के बदलते ही शारीरिक समस्याएं भी बदल जाती हैं। जहां सर्दियों के मौसम में संक्रमण सबसे ज्यादा हावी रहता है, वहीं गर्मियों के मौसम में हीट स्ट्रोक (Heat stroke) होना सबसे आम समस्या है। जैसे-जैसे गर्मियों का मौसम आगे बढ़ रहा है वैसे-वैसे तापमान में भी वृद्धि हो रही है। देश के कई हिस्सों में तापमान इतना ज्यादा हो गया है कि घर से बाहर निकलना ही मुश्किल हो जाता है। वहीं कोरोना वायरस संक्रमण के दौर के बाद अब धीमे-धीमे अनलॉक रफ्तार पकड़ चुका है। वर्क फ्रॉम होम खत्म हो चुका है और लोग दोबारा ऑफिस की तरफ बढ़ रहे हैं। ऐसे में लोगों को हीट स्ट्रोक यानी लू लगने का खतरा बढ़ जाता है।

जिन लोगों की इम्युनिटी मजबूत होती है वे गर्मियों की धूप और तेज गर्म हवाओं को बर्दाश्त कर लेते हैं। जबकि कमजोर इम्युनिटी वाले लोगों को लू लगने या हीट स्ट्रोक का जोखिम ज्यादा होता है। हालांकि इससे बचाव भी मुमकिन है। इसके कई आयुर्वेदिक घरेलू उपाय भी हैं, जो आपको इससे निपटने में सहायता कर सकते हैं। आज हम उन्हीं के बारे में जानेंगे, लेकिन पहले हीट स्ट्रोक के बारे में समझते हैं।

Sir dard hai stroke ka lakshan
अचानक सर में बहुत दर्द होना है स्ट्रोक के लक्षण। चित्र : शटरस्टॉक

बैक टू नॉर्मल और हीट स्ट्रोक? 

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW), भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण संस्थान (NIHFW) के अनुसार हीट स्ट्रोक 2 प्रकार के होते हैं- माइल्ड और गंभीर। यह समस्या तब उत्पन्न होती है जब कोई व्यक्ति सीधे सूरज की धूप या गर्मी के अत्याधिक संपर्क में आता है। इसके पीछे का करण शरीर के थर्मोसेटिंग में असंतुलन है। हमारे शरीर का कूलिंग मेकैनिज्म पसीने के रूप में पानी के एवापोरेशन पर निर्भर करता है। ज्यादा धूप के संपर्क में आने से शरीर का तापमान ज्यादा हो जाता है जिससे हीट स्ट्रोक या सन स्ट्रोक जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है।

हीट स्ट्रोक के हल्के रूप में सामान्य लक्षण ही देखने को मिलते हैं हालांकि जब यह स्थिति गंभीर हो जाती है तो यह गंभीर चिकित्सा स्थिति होती है जिसमें तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना बहुत जरूरी होता है अन्यथा यह मानसिक क्षति और मृत्यु का कारण भी बन सकता है। इस बीमारी में यह कहना बिल्कुल भी गलत नहीं होगा कि इसका बचाव इलाज से ज्यादा बेहतर है।

माइल्ड हीट स्ट्रोक के लक्षण यहां दिए गए हैं- 

  1. कमजोरी  
  2. उल्टी
  3. चक्कर आना
  4. सिरदर्द
  5. मांसपेशियों में ऐंठन
  6. बुखार

अलग हो सकते हैं गंभीर हीट स्ट्रोक के लक्षण 

  1. शुष्क और गर्म त्वचा 
  2. तेज बुखार
  3. दिल की धड़कन तेज़ हो जाना
  4. अत्यधिक प्यास
  5. बेचैनी
  6. मतिभ्रम
  7. बेहोशी सांस लेने में कठिनाई
  8. कोमा

हीट स्ट्रोक की समस्या से बचने में ये 3 घरेलू उपाय आएंगे आपके काम :

  1. प्याज

Onion ke fayade
गर्मियों में लू लगने से बचा सकती है प्याज। चित्र: शटरस्‍टॉक

प्याज आपको लू लगने से भी बचा सकता है और हीट स्ट्रोक होने पर आपकी सहायता भी कर सकता है। आयुर्वेद का मानना है कि प्याज का रस कानों के पीछे और छाती पर लगाने से तापमान कम हो सकता है। वहीं हीट स्ट्रोक से बचने के लिए आपकी दैनिक खुराक में गर्मियों के मौसम में खासकर प्याज का होना जरूरी है। आप इसे सलाद के तौर पर भी सेवन कर सकती हैं। यह आपके शरीर को ठंडा रखता है।

2.आम पना 

मौसमी समस्याओं से निपटने के लिए कुदरत ने हमें कुछ ऐसे फल और सब्जियां दी हैं, जिनकी सहायता से हम अपने आप का बचाव कर सकते हैं इसी में से एक है कच्चा आम। कच्चा आम से बना हुआ पना आपको हीट स्ट्रोक से बचा सकता है।आम पन्ना जीरा, सौंफ, काली मिर्च और काला नमक जैसे ठंडे मसालों से समृद्ध है जो ऊर्जा और इलेक्ट्रोलाइट्स दोनों प्रदान करता है।

  1. नारियल पानी

nariyal pani ke fayade
इलेक्ट्रोलाइट्स को बनाये रखता है नारियल पानी। चित्र : शटरस्टॉक

शरीर को जल्द से जल्द रिहाइड्रेट करने के लिए नारियल पानी एक बेहतरीन विकल्प है, जो साधारण पानी इतनी जल्दी पूरा नहीं कर सकता। नारियल पानी में कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो आपको ऊर्जा प्रदान करते हैं। ऐसे में प्रयास करें कि जब भी घर से बाहर निकलें, तो नारियल पानी का सेवन जरूर करें। यह आपकी बॉडी में इलेक्ट्रोलाइट्स को नेचुरल बैलेंस रख सकता है।

इन बातों का भी रखें ध्यान 

  1. गर्मियों में हल्की और ढीले कपड़े पहनने का प्रयास करें।
  2. अपने साथ पर्याप्त पानी लेकर धूप में निकले। ताकि आपको पानी की कमी ना हो।
  3. हमेशा टोपी या किसी सूती कपड़े के माध्यम से अपना सर ढक के बाहर निकले।
  4. किसी भी प्रकार की समस्या होने पर डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही स्व दवा का सेवन करें।

यह भी पढ़े : क्या डबल फायदेमंद होगा ऑमलेट के साथ दूध का सेवन करना? जानिए फूड कॉम्बो के बारे में ऐसे ही कुछ मिथ्स की सच्चाई

अक्षांश कुलश्रेष्ठ अक्षांश कुलश्रेष्ठ

सेहत, तंदुरुस्ती और सौंदर्य के लिए कुछ नई जानकारियों की खोज में

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें