वैलनेस
स्टोर

कंफ्यूज होने की बजाए पहले डिटॉक्सिफिकेशन को समझें और फि‍र ट्राय करें सबसे प्रभावशाली डिटॉक्‍स प्‍लान

Updated on: 31 March 2021, 15:14pm IST
जब होली के बाद डिटॉक्सिंग की बात आती है, तो गूगल की दुनिया में कई अजीबों गरीब उपाय आपको मिल जाएंगे। पर लेडीज इन पर भरोसा करने की बजाए आप ये जांचें-परखे उपाय अपना सकती हैं। 
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 81 Likes
अपने शरीर को आवश्यक पोषक तत्वों से वंचित न करें। चित्र-शटरस्टॉक।

हर त्योहार अपनी मस्‍ती और स्वाद के साथ आता है। होली रंगों और चंचल खुशमिजाज लोगों का त्यौहार है। यकीनन यह ढेर सारी थकान और ओवर ईटिंग के साथ बीतती है। मिठाई और तले हुए खाद्य पदार्थ हमेशा उत्सव का एक अभिन्न हिस्सा रहे हैं। सुगन्धित और तले हुए खाद्य पदार्थों का सेवन करने से आप हमेशा सुस्त, थके हुए और फूला हुआ महसूस करते हैं। हम आपके लिए कुछ ऐसे टिप्‍स लाए हैं, जो आपको इससे उबरने में आपकी मदद करेंगे। 

लोग आमतौर पर क्या करते हैं?

सबसे आम और लोकप्रिय समाधान एक डिटॉक्स प्लान करना है। लेकिन, क्या आपको वास्तव में इसकी आवश्यकता है? आइए पहले डिटॉक्स से संबंधित कुछ भ्रम तोड़ते हैं।  

मिथ 1: आपके शरीर को डिटॉक्स करने में मदद चाहिए

तथ्य: शरीर में न केवल पोषक तत्वों को आत्मसात करने की एक सहज क्षमता है, बल्कि संभावित हानिकारक विषाक्त पदार्थों के संचय को सीमित करने की क्षमता भी है। यह प्राकृतिक अवरोधों द्वारा विषाक्त पदार्थों से स्वाभाविक रूप से सुरक्षित है। जिसमें जीआई प्रणाली, फेफड़े और त्वचा शामिल हैं। 

वे विषाक्त पदार्थ, जो इन्‍हें भी पार कर जाते हैं, उन्हें शरीर के डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम (लीवर) पर रोक दिया जाता है। जो विषाक्त पदार्थों के नकारात्मक प्रभाव को कम करता है और अंत में मूत्र और मल के माध्यम से शरीर से निकाल देता है। इस प्रकार, शरीर को विषाक्त पदार्थों को हटाने के लिए किसी बाहरी मदद की आवश्यकता नहीं होती, जब तक कि उसके महत्वपूर्ण अंग स्वस्थ और सामान्य रूप से कार्य नहीं करते।

मिथ 2: डिटॉक्स लंबे समय तक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है

तथ्य: हमारा शरीर पहले से ही ओवर ईटिंग को थोड़ा बहुत संभालने में सक्षम होता है। पर जब यही ओवरईटिंग लगातार जारी रहती है, तो डिटॉक्स भी इसे ठीक नहीं कर पाते। अतिरिक्त वसा और शुगर लीवर में वसा के रूप में जमा हो जाती है, इस स्थिति को फैटी लीवर (fatty liver) कहा जाता है। यह स्थिति धीरे-धीरे अपने कामकाज को खराब करती है। 

स्वास्थ्य को बहाल करने के लिए, लीन प्रोटीन, साबुत अनाज, फल और सब्जियों के साथ एक यी आहार पर स्विच करना जरूरी होता है। 

मिथ 3: डिटॉक्स हमेशा सुरक्षित होता है

तथ्य: यदि लंबी अवधि के लिए डिटॉक्स का इस्तेमाल किया जाता है, तो यह खतरनाक हो सकता है, क्योंकि इससे इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन, विटामिन और खनिज की कमी, दस्त, पेट की अन्य समस्याएं और अत्यधिक थकान हो सकती है।

मेरा फिटनेस रूटीन- शटरस्टॉक।
यहां हम सभी डिटॉक्स सभी मिथ का भांडा फोड़ रहे हैं। चित्र-शटरस्टॉक।

मिथ 4: स्थायी वजन घटाने में डिटॉक्स सहायता करता है

तथ्य: तरल पदार्थ और मांसपेशियों के नुकसान के कारण, डिटॉक्स वजन घटाने को ट्रिगर कर सकता है, लेकिन यह न तो स्वस्थ है और न ही टिकाऊ है। सामान्य खाने को फिर से शुरू करने पर, आप खोए हुए वजन को वापस पा लेंगे।

यह भी पढें: क्‍या मधुमेह के रोगी दालचीनी का सेवन कर सकते हैं ? जानिए क्‍या होता है इंसुलिन पर इसका प्रभाव

तो क्‍या है डिटॉक्स का सही तरीका:

वजन घटाने की विधि के रूप में कभी भी डिटॉक्स का उपयोग न करें।

डिटॉक्स प्लान का (जैसे उपवास, पूरे दिन तरल या कच्चे फल और सब्जी आहार आदि) केवल एक दिन या अधिकतम दो दिनों तक पालन करें। बस शरीर की अपने पाचन तंत्र को शांत करने और अतिरिक्त सूजन को दूर करने में मदद करें।

डिटॉक्स प्लान करने का सबसे अच्छा समय किसी पार्टी, त्यौहार या छुट्टी के बाद होता है। जिसमें हम बहुत अधिक खा लेते हैं और व्यायाम नहीं कर पाते।

हमेशा बाद के संभावित प्रभाव से बचने के लिए एक पोषण विशेषज्ञ के परामर्श से उचित डिटॉक्स प्लान लें।

बेहतर और स्‍थायी समाधान के लिए, “RELAX” के नियम का पालन करें, जो आपके शरीर को डिटॉक्स करने और प्राकृतिक रूप से कायाकल्प करने में मदद करेगा।

  1. अच्छी तरह से आराम करें (‘R’EST WELL)

अपने शरीर को बेहतर स्थिति में लाने के लिए इसे पर्याप्त आराम दें। ध्वनि नींद तंत्रिका तंत्र को आराम करने में मदद करती है, तनाव हार्मोन को कम करती है और अन्य हार्मोन को फिर से सक्रिय करती है। जो शरीर को तेजी से रिचार्ज करने में सक्षम बनाते हैं।

  1. स्वस्थ आहार लें (‘E’at healthy food)

संतुलित पोषक तत्वों के साथ सरल घर का बना भोजन स्वाभाविक रूप से शरीर की अपने डिटॉक्‍स सिस्‍टम का समर्थन करेगा। आपके द्वारा खाए गए अंट शंट भोजन की भरपाई करने के लिए किसी भी मील को मिस न करें। पौष्टिक और हल्‍का भोजन करें, जिसमें स्वस्थ कार्ब्स, लीन प्रोटीन और सब्जियां जैसे होममेड दही के साथ वेज खिचड़ी या वेज पुलाव आदि हों।

बॉडी को डेटोक्स करती हैं कड़वी सब्जियां। चित्र: शटरस्‍टॉक
बॉडी को डेटोक्स करने में मदद करती हैं कड़वी सब्जियां। चित्र: शटरस्‍टॉक
  1. पर्याप्त तरल पदार्थ पिएं (Have enough ‘l’iquids)

अपने आप को अच्छी तरह से हाइड्रेट करें। गैर-अल्कोहल (non-alcoholic) और गैर-शुगर (non-sugary) तरल पदार्थ लें। चीनी और अल्कोहल निर्जलीकरण का कारण बनते हैं और लगातार पेशाब को प्रेरित करते हैं। इससे इलेक्ट्रोलाइट्स में कमी आती है और आपको थकान महसूस होती है। इसकी कमी को पूरा करने के लिए, ताज़े नारियल का पानी, नींबू पानी, सूप या सादे पानी जैसे बहुत सारे तरल पदार्थ पिएं।

  1. अपने मील में प्री और प्रोबायटिक्स शामिल करें (‘A’dd pre and probiotics to your meals)

बहुत अधिक खाने के कारण पाचन तंत्र गड़बड़ा जाता है। अपने भोजन में प्राकृतिक प्री और प्रोबायोटिक्स को शामिल करें। जैसे कि घर पर बना दही, किण्वित अचार, किण्वित चावल का पानी, कांजी (किण्वित गाजर का पानी), कच्ची सब्जी (सलाद) आदि। ये आपकी आंत की पाचन क्षमताओं को बेहतर बनाएंगे। ये गैस, पेट फूलना और सूजन जैसी अपच की समस्याओं को दूर करने में भी मददगार हैं। 

  1. नियमित व्यायाम करें (‘X’ercise regularly)

अपने वर्कआउट को मिस न करें। व्यायाम अतिरिक्त कैलोरी को जलाने में मदद करेगा और हृदय को तेजी से पंप करने में सक्षम होगा। जिससे शरीर की कोशिकाओं को अच्छी ऑक्सीजन और पोषण की आपूर्ति सुनिश्चित होगी। यह आपके शरीर को तुरंत ऊर्जावान करेगा। व्यायाम शरीर को हैप्पी हार्मोन एंडोर्फिन रिलीज करने में मदद करता है, जो आपके मूड को बढ़ावा देने में मदद करता है और उत्सव के बाद थकान को कम करता है।

इसलिए, होली के बाद तनाव न लें और रेंडम डिटॉक्स प्लान (random detox plans) के लिए जाएं। बल्कि, सिर्फ RELAX और सही तरीके से कायाकल्प करें।

यह भी पढें: मुंह के छालों से परेशान हैं, तो यहां जानिए आप उनसे कैसे राहत पा सकती हैं

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।