क्या शराब पीना हार्ट अटैक के जोखिम को बढ़ा सकता है? जानिए क्या है सच्चाई

यदि आप शराब पीने के आदी हैं, तो आप हार्ट अटैक के जोखिम में हैं। बजाय उन लोगों के जो शराब का सेवन नहीं करते हैं। जानिए क्या है ड्रिंकिंग और खराब हार्ट हेल्थ का कनैक्शन
kya heart attack ke jokhim ko badhati hai sharab
नशा आपके पार्टनर की फर्टिलिटी कम करने के अलावा भी कई सेक्सुअल समस्याओं का शिकार बना सकता है चित्र : शटरस्टॉक

शराब पीना कई बीमारियों की जड़ है। यदि आप शराब का सेवन कर रही हैं, तो आपको कई गंभीर बीमारियां घेर सकती हैं। बहुत अधिक शराब पीने से उच्च रक्तचाप, मोटापा, स्ट्रोक, स्तन कैंसर, लिवर रोग, अवसाद, आत्महत्या, दुर्घटनाएं, शराब का दुरुपयोग और शराब सहित कई स्वास्थ्य समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है।

मगर क्या आप यह जानती हैं कि शराब का सेवन करने से हार्ट अटैक  (heart attack symptoms in hindi) का जोखिम भी बढ़ जाता है? जी हां… बहुत से लोग आश्चर्य करते हैं कि क्या शराब से दिल का दौरा पड़ सकता है? लेकिन यह सच है। हालांकि, शराब का सेवन सीधे तौर पर हार्ट अटैक (heart attack) का कारण नहीं बनता है। मगर यह दिल के दौरे के लिए एक जोखिम कारक(heart blockage symptoms in hindi) है। जानें हार्ट को हेल्दी कैसे रखें।

नेशनल एसोसिएशन ऑफ हार्ट के अनुसार क्यों हृदय स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह है अल्कोहल

बहुत अधिक शराब पीने से रक्त में वसा का स्तर बढ़ सकता है, जिसे ट्राइग्लिसराइड्स कहा जाता है। उच्च एलडीएल (खराब) कोलेस्ट्रॉल या कम एचडीएल (अच्छा) कोलेस्ट्रॉल (HDL Cholesterol) के साथ संयुक्त उच्च ट्राइग्लिसराइड स्तर आर्टरी की दीवारों में फैटी बिल्डअप से जुड़ा हुआ है। जिससे, दिल का दौरा और स्ट्रोक का खतरा बढ़ सकता है।

heart attack ka karan ho sakti hai sharab
ज्यादा शराब पीना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है. चित्र : शटरस्टॉक

अत्यधिक शराब पीने से उच्च रक्तचाप, कार्डियोमायोपैथी, कार्डियक अरेस्ट और यहां तक ​​कि मृत्यु भी हो सकती है। साथ ही, यह मस्तिष्क के संचार में बाधा डाल सकता है, जिससे मस्तिष्क के काम करने का तरीका प्रभावित होता है।

जानिए क्या है ड्रिंकिंग और खराब हार्ट हेल्थ का कनैक्शन

बिंज ड्रिंकिंग – पुरुषों के लिए दो घंटे में पांच या अधिक ड्रिंक या महिलाओं के लिए चार या अधिक ड्रिंक – आपको एट्रियल फाइब्रिलेशन, के उच्च जोखिम में डाल सकती है, जिससे ब्लड क्लॉट, स्ट्रोक और हार्ट फैलियर हो सकता है।

मॉडरेशन में पीना – शराब पीने वालों की तुलना में भारी शराब पीने से समय से पहले आर्टरी की उम्र प्रभावित हो सकती है, खासकर पुरुषों में। साथ ही, शराब पीने से बढ़ने वाली कैलोरी मोटापे और मधुमेह के विकास के उच्च जोखिम को जन्म दे सकती हैं।

यदि आप रोज़ पीते हैं पर ज़्यादा नहीं, तो क्या आप हार्ट अटैक के जोखिम में हैं?

कुछ अध्ययनों से पता चला है कि जो लोग मध्यम मात्रा में शराब पीते हैं, उनमें गैर-शराब पीने वालों की तुलना में हृदय रोग की दर कम होती है। लेकिन हर दिन अधिक मात्रा में शराब पीने से उच्च रक्तचाप, मोटापा और स्ट्रोक सहित हृदय रोग के गंभीर जोखिम हो सकते हैं। यदि आप अपने आप को समय के साथ अधिक से अधिक पीते हुए पाते हैं, तो ड्रिंकिंग छोड़ने पर विचार करें।

drink karne ke nuksaan
शराब पीने से बचें क्योंकि यह आगे चलकर कई बीमारियों को जन्म दे सकती है. चित्र ; शटरस्टॉक

क्या हृदय रोग से पीड़ित व्यक्ति शराब पी सकता है?

अत्यधिक मात्रा में शराब पीने से रक्तचाप (Blood pressure) बढ़ जाता है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन उन लोगों के लिए मॉडरेशन में शराब पीने की सलाह देता है जिन्हें हृदय रोग है।

मॉडरेशन का मतलब है – पुरुषों के लिए प्रति दिन एक या दो ड्रिंक और महिलाओं के लिए एक है। मगर, प्रत्येक व्यक्ति की स्थिति अलग होती है। अगर आपको दिल का दौरा या दिल की बीमारी है, तो यह आकलन करने के लिए कि आपके लिए शराब पीना सुरक्षित है या नहीं, अपने चिकित्सक से बात करना महत्वपूर्ण है।

यह भी पढ़ें : सबसे घातक कैंसर में से एक है ब्लड कैंसर, समय रहते पहचान हों तो किया जा सकता है उपचार

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

  • 124
लेखक के बारे में

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं। ...और पढ़ें

अगला लेख