वैलनेस
स्टोर

क्या डायबिटीज को कंट्रोल करने में मददगार है सेब का सिरका, चलिए पता करते हैं

Published on:4 April 2021, 12:00pm IST
सेब का सिरका कई पोषक तत्‍वों का भंडार है। वेट लॉस से लेकर डायबिटीज कंट्रोल तक इसे कई स्थितियों में आजमाने की सलाह दी जा रही है। पर क्‍या ये वाकई डायबिटीज कंट्रोल करने में मददगार है!
विनीत
  • 86 Likes
जानिए सेब का सिरका कैसे बालों से पसीना दूर करता है। चित्र-शटरस्टॉक।

टाइप 2 डायबिटीज एक क्रॉनिक डिजीज है, जो आपके ब्लड शुगर (ग्लूकोज) को नियंत्रित करती है। इसके लिए दवाओं से लेकर, आहार और व्यायाम करने तक कई उपचार मौजूद हैं। लेकिन हाल के अध्ययनों से पता चलता है कि आपकी रसोई में कई ऐसी सामग्रियां मौजूद हैं, जो डायबिटीज को नियंत्रित करने में आपकी मदद कर सकती हैं, उनमें से एक है सेब का सिरका।

डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) केंद्रों के अनुरूप, लगभग 10 में से 1 अमेरिकी को टाइप 2 मधुमेह है। यदि सेब के सिरके में प्राकृतिक उपचार की क्षमता है, तो यह वास्तव में बेहतरीन समाचार हो सकता है। लेकिन क्या वाकई सेब का सिरका डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है। आइए पता करते हैं- 

क्या कहते हैं अध्ययन

हालांकि विभिन्न अध्ययनों ने सेब के सिरका और रक्त शर्करा प्रबंधन के बीच लिंक की जांच की है, लेकिन उनमें से ज्यादातर छोटे अध्ययन हैं। एनवाई (NY) की एक एंडोक्रिनोलॉजिस्ट, डॉ. मारिया पेना कहती हैं “कई छोटे अध्ययन हैं जो सेब के सिरका के परिणामों का मूल्यांकन करते हैं और इसलिए परिणाम मिश्रित हैं।”

यह भी पढें: इन 8 गंभीर समस्‍याओं से बचना है, तो बदल दीजिए लगातार बैठने की आदत

एक छोटे अध्ययन में चूहों को यह दिखाते हुए दिखाया गया था कि सेब के सिरके ने एलडीएल और ए 1 सी के स्तर को कम करने में मदद की है।

2004 के एक शोध में पाया गया कि सेब के सिरके के 20 ग्राम (20ML के बराबर) 40 एमएल पानी में 1 चम्मच के साथ लेने से भोजन के बाद ब्लड शुगर कम हो सकता है। इसी तरह 2007 के एक अध्ययन में पाया गया कि बिस्तर पर जाने से पहले सेब का सिरका लेने से जागने पर ब्लड शुगर को मॉडरेट करने में मदद मिली। लेकिन दोनों अध्ययन छोटे थे, जिनमें केवल क्रमशः 29 और 11 प्रतिभागियों का मूल्यांकन किया गया था।

हालांकि टाइप 1 डायबिटीज़ पर एप्पल साइडर विनेगर के प्रभाव पर बहुत अधिक शोध नहीं हुआ है, लेकिन 2010 में हुए एक छोटे से अध्ययन से यह निष्कर्ष निकाला गया कि यह ब्लड शुगर को कम करने में मदद कर सकता है।

छह अध्ययनों के एक मेटा-विश्लेषण और टाइप 2 मधुमेह वाले 317 रोगियों का निष्कर्ष है कि सेब का सिरका फास्टिंग ब्लड शुगर (fasting blood glucose) और एचबीए 1 सी (HbA1c) पर लाभकारी प्रभाव डालता है।

विशेषज्ञ कहते हैं,”जब तक एक बाहरी रेंडम नियंत्रण परीक्षण पूरा नहीं हो जाता है, तब तक सेब के सिरका लेने के लाभों की सत्‍यता निर्धारित करना मुश्किल है।”

डायबिटीज के रोगियों के लिए फायदेमंद है सेब का सिरका। चित्र: शटरस्टॉक

क्‍या आप वाकई सिरका लेना चाहती हैं? 

सेब का सिरका जो कार्बनिक, अनफिल्टर्ड और कच्चा है, आमतौर पर सबसे आसान विकल्प है। यह क्लाउडी (cloudy) बनने वाला है और लाभकारी बैक्टीरिया में अधिक हो सकता है। सिरका के किण्वन को शुरू करने के लिए इसे साइडर या अन्य तरल पदार्थों में जोड़ा जाता है, जिससे सिरका की गुणवत्ता बढ़ जाती है। 

सेब का सिरका सुरक्षित है, इसलिए यदि आपको डायबिटीज है, तो आप इसे ट्राई कर सकती हैं। 

विशेषज्ञ पेट में जलन और दांतों के नुकसान को कम करने के लिए एक गिलास पानी में 1 चम्मच सिरका मिलाने का सुझाव देते हैं।

लोगों को अपनी स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों के लिए किसी ‘त्वरित समाधान’ या ‘चमत्कारिक समाधान’ से सावधान रहना चाहिए, क्योंकि इन सुझावों का आम तौर पर कोई मजबूत आधार नहीं है। 

इससे किसे बचना चाहिए

विशेषज्ञों के अनुसार, जिन लोगों को किडनी की समस्या या अल्सर है, उन्हें इससे परहेज करना चाहिए। 

सेब के सिरके की बड़ी मात्रा में पोटेशियम का स्तर कम हो सकता है, इसके अतिरिक्त इनेमल क्षरण (enamel erosion) जैसे दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं।

जब इंसुलिन या पानी की गोलियां जैसे फ्यूरोसमाइड (लासिक्स) लेते हैं, तो पोटेशियम का स्तर खतरनाक स्तर तक गिर सकता है। इसलिए इसे ट्राई करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से उचित परामर्श ले लेना चाहिए।

यह भी पढें: गर्भावस्था के दौरान एनवायरमेंटल टॉक्सिन का असर पड़ सकता है बच्‍चों के व्‍यवहार पर

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।