क्‍या पूजा में इस्‍तेमाल करती हैं कपूर? तो जानिए आपकी सेहत पर होता है इसका कैसा प्रभाव 

कपूर का उपयोग आरती में किया जाता है, जो मंदिर में अपनी खुशबु से और अधिक आस्था भर देती है,पर क्या आप जानती हैं कि कपूर की खुशबू आनंद के साथ-साथ सेहत लाभ भी पहुंचाती है।
बाहर जाने की बजाए घर पर ही पूजा की व्‍यवस्‍था करें। चित्र: शटरस्टॉक
। चित्र: शटरस्टॉक
प्रेरणा मिश्रा Updated: 10 Dec 2020, 12:14 pm IST
  • 79

सफेद रंग का छोटा सा कपूर ( Camphor) पूरे घर को सुगंधित कर देता है। अगर हम कहें कि यह खुशबू सुगंध के साथ-साथ सेहत लाभ भी पहुंचाती है तो? जी हां बिल्कुल सही सुना आपने कपूर की खुशबू पहुंचाती है आपको चमत्कारिक लाभ। कपूर का साइंटिफिक नाम Cinnamomum Camphora है।

कपूर के धुएं से क्या होता है

प्राचीन भारतीय शास्त्र और पवित्र ग्रंथ के अनुसार, कपूर पवित्र और दिव्य के साथ एक मजबूत संबंध का प्रतीक है। जलने या फैलने पर कपूर, धुएं को छोड़ता है जो, खुशबू भरा यह धुआं आपको हील करता है। इससे आप स्‍ट्रैस फ्री होते हैं और ज्‍यादा सकारात्‍मकता महसूस करती हैं। 

अब जानिए कपूर के गुण

भारतीय संस्कृति कपूर जलाने को शुभ मानती है,साथ ही पूर्वजों ने कपूर को जलाने के कई स्वास्थ लाभ भी बताए हैं आइये जाने वे लाभ क्या है:-

1.सकारात्मक ऊर्जा फैलाती है

कभी-कभी हमारे अंदर और हमारे वातावरण में तनाव, चिंता और नकारात्मकता की लगातार भावना होती है और ये नकारात्मक ऊर्जा आपके पूरे शरीर और आपके आसपास रहने वाले वातावरण को प्रभावित कर सकती है।

तनाव से रखता है मुक्त। चित्र: शटरस्टॉक
तनाव से रखता है मुक्त। चित्र: शटरस्टॉक

कपूर द्वारा उत्पन्न धुआं हमारे भीतर के सभी ब्लॉकों को महत्वपूर्ण रूप से मुक्त करता है। हमारे वातावरण में, भय और नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करके यह सकारात्मक शांतिपूर्ण ऊर्जा के प्रवाह को बढ़ाता है।

2.जीवाणुओं से लड़ने में करता है मदद 

मुंबई में अपोलो क्लिनिक के एक पल्मोनोलॉजिस्ट डॉ. अमित गवांडे के अनुसार, “कैम्फोर(कपूर) हवा में सूक्ष्म जीवाणुओं और धूल कणों को साफ करने के लिए जाना जाता है। इसमें कुछ औषधीय गुण भी हैं जो बंद नाक जैसी समस्या को दूर करने में मदद करते हैं।

कपूर कीटाणुओं को मारने में मदद करता है और यह वायुमंडल में हवा को शुद्ध करने में भी योगदान करता है। इसलिए, अपने घर को रोगाणु मुक्त रखने के लिए हर दिन  कपूर जलाना एक अच्छा तरीका हो सकता है।

3. मच्छरों से दिलाता है छुटकारा

घर में मच्छरों से छुटकारा पाने के लिए कपूर बेहद उपयोगी हो सकता है। एक पेड़ के अर्क से निर्मित, कपूर में अन्य प्राकृतिक उत्पादों की तुलना में सबसे ज्‍यादा मच्छर को भगाने के गुण होते है। 

मच्छरों से बचने के लिए कपूर को जलाए। चित्र- शटर स्टॉक।

पर यह भी ध्यान रखें 

कपूर बंद कमरे में कभी न जलाएं। यह बंद कमरे में कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा बढ़ा देता है जिससे ऑक्सीजन लेने में परेशानी आने लगती हैं। यह बात चेन्नई के एक पर्यावरणीय स्वास्थ्य शोधकर्ता विश्वजा संभ बताती हैं। 

विश्‍वजा कहती हैं, “कपूर जलाने से कार्बन डाइऑक्साइड पैदा होती है। जिससे कमरे में ऑक्सीजन का स्‍तर कम हो जाता है। हम सभी जानते हैं कि अतिरिक्त कार्बन डाइऑक्साइड व्यक्तियों के साथ-साथ पर्यावरण के लिए भी अच्छी नहीं है।”

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ एनेस्थेटिस्ट डॉ. मीता सक्सेना कहती हैं, “यह निश्चित रूप से बंद कमरे के अंदर कपूर को जलाने का निर्णय अच्छा नहीं है। कपूर के अत्यधिक धुएं से चक्कर भी आ सकते हैं।”

कपूर के फायदे के साथ साथ होते है नुकसान भी। चित्र: शटरस्टॉक

कपूर के प्रभाव के बारे में पूछे जाने पर गुवाहाटी में हेल्थ सिटी अस्पताल में पीडियाट्रिक्स की निदेशक डॉ. रचना दास हजारिका का कहना है कि कपूर के धुएं का बच्चों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। 

“यदि आप एक बंद कमरे में रह कर कपूर जला रहे हैं, तो इसके बाहर जाने का कोई रास्ता नहीं है। बंद कमरे में कपूर का प्रभाव बहुत अधिक होगा, और यह हानिकारक प्रभाव पैदा करेगा। इसके अलावा, इस धुएं के लंबे समय तक संपर्क में रहने से बच्चों में आंखों और त्वचा की जलन के अलावा कैंसर और फेफड़ों की समस्याओं का खतरा बढ़ सकता है।”

तो सखियों, आपके पास कपूर जलाने के लाभ और हानि दोनों हैं। अब फैसला आपका है। चलते-चलते एक जरूरी सलाह कि जब भी कपूर का इस्तेमाल करें तो इसे बंद कमरे में न करें। साथ ही नैचुरल कपूर का ही उपयोग करें।

यह भी देखे:लगातार स्क्रीन पर देखते रहने के कारण आंखें हो रहीं हैं परेशान, तो इन 4 तरीकों से करें आंखों की देखभाल

  • 79
लेखक के बारे में

हेल्‍दी फूड, एक्‍सरसाइज और कविता - मेरे ये तीन दोस्‍त मुझे तनाव से बचाए रखते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख