क्या आपको भी पूरे दिन महसूस होती रहती है थकान, तो इन योगासनों से पाएं चुस्ती और फुर्ती

यदि आपको अधिक थकान का अनुभव होता रहता है तो इसके लिए खानपान पर ध्यान देने के साथ ही उचित नींद लेना जरुरी है। साथ ही ये खास और प्रभावी योगासन इसमें आपकी मदद कर सकते हैं।
बटरफ्लाई पोज का हर रोज अभ्‍यास आपकी प्रजनन क्षमता को भी बेहतर बनाता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
बटरफ्लाई पोज का हर रोज अभ्‍यास आपकी प्रजनन क्षमता को भी बेहतर बनाता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
अंजलि कुमारी Published: 18 Jun 2023, 15:30 pm IST
  • 120

क्या आप छोटे-मोटे काम करने में भी थक जाती हैं? क्या आपको ऑफिस से आने के बाद लंबे समय तक थकान होता रहता है? तो आपके शरीर को जरूरी पोषण की आवश्यकता है साथ ही आपको अपने शारीरिक गतिविधियों पर भी ध्यान देना चाहिए। थकान मिटाने के लिए हम सभी तमाम तरह की चीजें आजमाते हैं। तो क्या आपने कभी थकान को दूर करने के लिए योग की मदद ली है? अमूमन लोगों का जवाब न होगा, क्योंकि लोगों को लगता है कि योगाभ्यास थकान को और ज्यादा बढ़ा देती है, परंतु ऐसा नहीं है। कुछ ऐसे योगाभ्यास हैं जो शरीर से थकान दूर करने और आपको ऊर्जा से भरपूर रहने में मदद कर सकते हैं।

योगा न्यूट्रिशन वेलनेस कोच यामिनी ने थकान कम करने के लिए कुछ प्रभावी योगासन सुझाए हैं। तो चलिए जानते हैं इन योगासनो के बारे में साथ ही जानेंगे इन्हें करने का सही तरीका (yoga to reduce fatigue)।

योगासन गैस और अपच से राहत दिलाते हैं

यहां हैं थकान दूर करने के कुछ प्रभावी योगासन

1. कोबरा पोज

कोबरा पोज ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करता है और तनाव के स्तर को कम करके शरीर को एनर्जेटिक रहने में मदद करता है। यह एक उत्थानशील बैकबेंड है जो रीढ़ की हड्डियों को आराम पहुंचाता है, साथ-साथ आपकी बाह और पीठ को मजबूत बनाता है।

यहां है इस योग को करने का सही तरीका

सबसे पहले योगा मैट पर पेट के बल लेट जाएं, दोनों हाथ को सिर के अगल बगल में रखें और सिर को जमीन से सटा लें।

इस दौरान दोनों पैर को बिल्कुल सीधा रखें और दोनों पैरों के बीच थोड़ा गैप बना लें।

अपने दोनों हाथ से कंधे के बराबर में टेक लगाएं।

अब लंबी गहरी सांस लेते हुए जमीन के सहारे अपने शरीर के आगे के आधे हिस्से को ऊपर की ओर उठाएं।

सबसे पहले सिर फिर छाती और आखिर में पेट को ऊपर उठाना है।

सांस को अंदर की ओर खींचते हुए इस मुद्रा में कुछ सेकंड तक बनी रहें फिर सामान्य मुद्रा में वापस आ जाएं।

इसे लगभग 5 से 6 बार दोहराना है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
kafi asardar asan hai cat cow pose
एक असरदार आसान है कैट काऊ पोज. चित्र : शटरस्टॉक

2. कैट काऊ पोज़

कैट काऊ पोज़ की मुद्रा आपके दिमाग को शांत रखता है और रक्त संचार को बढ़ावा देता है जिससे कि थकान को कम किया जा सकता है। यह पीठ की मांसपेशियों के दर्द को कम करता है और सूजन से राहत प्रदान करता है। साथ ही साथ आपके शरीर को लचीला बनाता है।

यह आपकी कलाई और कंधों को भी राहत प्रदान करता है और पाचन क्रिया के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

इस तरह करें इसका अभ्यास

सबसे पहले योग मैट पर वज्रासन की मुद्रा में बैठ जाएं।

फिर दोनों हथेलिओं को जमीन पर रखें और हाथ व घुटनों पर भार देते हुए गाय की तरह खड़ी हो जाएं।

इस मुद्रा में अपने शरीर को बिल्ली या गाय जैसा बनाएं।

गहरी सांस लेते हुए रीढ़ को नीचे की ओर झुकाएं वहीं इस दौरान गर्दन को ऊपर की ओर उठाते हुए कुछ देर के लिए इसी स्थिति में बनी रहें।

अब सांस छोड़ते हुए रीढ़ को ऊपर की ओर ले आएं और गर्दन को नीचे की ओर झुकाएं।

कुछ सेकंड तक इसी स्थिति में बनी रहें। फिर सामान्य मुद्रा में वापस आ जाएं।

उचित परिणाम के लिए इस मुद्रा को कम से कम 3 से 5 बार दोहराएं।

यह भी पढ़ें : Muscle soreness : लंबे गैप के बाद एक्सरसाइज करना दे सकता है मांसपेशियों में दर्द, जानिए इस दर्द से कैसे निपटना है

3. अधोमुखश्वानासन

यह रीढ़, हैमस्ट्रिंग, बाह, धड़, गर्दन और कंधों को स्ट्रेच करता है और आपकी मांसपेशियों से स्ट्रेस रिलीज करता है। यह सबसे प्रभावी और फायदेमंद पोज़ में से एक है। इसका अभ्यास आपके मूड को भी बूस्ट करता है और आपको अंदर से राहत प्रदान करता है। इस मुद्रा का अभ्यास करते समय, सुनिश्चित करें कि आपके पास योगा मैट हो ताकि आप फिसलने से सुरक्षित रहें।

इस तरह करें इसका अभ्यास

डॉउनवर्ड फेसिंस डॉग पोज का अभ्यास करने के लिए सबसे पहले अपनी हथेलियों को फैलाएं और साथ पर रखें और घुटनों के बल टेबल टॉप पोजीशन में आ जाएं।

घुटनों को सीधा करते हुए अपनी हथेलियों से फर्स पर पकड़ बना लें। इस दौरान अपने बाजुओं को बिल्कुल सीधा रखने का प्रयास करें।

फिर कूल्हों को ऊपर उठाएं, और अपने शरीर को आगे की ओर झुकाते वक़्त रीढ़ की हड्डियों को सीधा रखें।

सामान्य भाषा में समझाएं तो आपको कमर के पास से आगे की ओर झुकना है, हाथों से सतह पर टेक लगाकर रखें और अपने शरीर से v आकार बनाएं।

इस मुद्रा में अपने सिर को नीची की ओर झुका कर रखें और अपनी नाभि की ओर ध्यान केंद्रित करें।

कुछ देर तक इस मुद्रा में बनी रहें फिर सामान्य मुद्रा में वापस आ जाएं।

downward facing dog pose) . चित्र : शटरस्टॉक
अधो मुख श्‍वानासन (शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ावा देता है। चित्र : शटरस्टॉक

4. बटरफ्लाई पोज

बटरफ्लाई पोज से कमर, कूल्हे और जांघ कि मांसपेशियों में खिंचाव पैदा होता है और यह उनके स्ट्रेस को रिलीज करते हुए उन्हें बेहद आराम पहुंचाता है। यह रीढ़ और कंधों से दबाव को कम कर देता है, जिससे आप हल्का महसूस करती हैं।

यहां जानें इसे करने का सही तरीका

बैठें और पैर के तलवों को आपस में मिला लें। रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें और एब्स को कस कर रखें।

प्रत्येक पैर को हाथ से पकड़ें और कोहनियों को भीतरी जांघों पर रखें।

दोनों पैरों को तितली के पंख की तरह ऊपर नीचें हिलाएं।

इसे लगातार 30 सेकंड तक दोहराएं, इसी प्रकार हर 10 से 15 सेकंड के गैप के बाद इसके 4 से 5 के सेट करें।

यह भी पढ़ें : Belly Bulge : कई बीमारियों की जड़ है पेट पर बढ़ने वाली चर्बी, इससे छुटकारा पाने के लिए करें ये 4 एक्सरसाइज

  • 120
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख