और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

क्या आपको भी बार-बार लू जाना पड़ता है? पेट की गड़बड़ी दूर करने में मदद कर सकते हैं ये 7 घरेलू नुस्खे

Published on:28 June 2021, 09:00am IST
बार-बार वॉशरूम के लिए दौड़ना बंद करें और अपने पेट की समस्या का इलाज करने के लिए इन घरेलू उपायों को आजमाएं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 84 Likes
फूड प्वाइजनिंग , चित्र: शटरस्टॉक
फूड प्वाइजनिंग। चित्र: शटरस्टॉक

निस्संदेह, मानसून आपके पेट के लिए सबसे खराब मौसम है। यह वह समय होता है जब ज्यादातर लोग, खासतौर पर बच्चे पेट खराब होने की शिकायत करते हैं। अगर आप घर पर ही खाना खा रही हैं, तो भी इस मौसम के दुष्प्रभाव से बचना मुश्किल है, क्योंकि यह हवा में है। लेकिन आप निश्चित रूप से पेट दर्द से छुटकारा पा सकती हैं। कैसे? इन घरेलू हैक्स के साथ जो हम आपको बताएंगे।

हाउस ऑफ डॉक्टर्स के एक उन्नत गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल एंडोस्कोपी और लैप्रोस्कोपी सर्जन डॉ समीर रंभिया के अनुसार, ऐसे कई कारण हैं, जो पेट खराब कर सकते हैं।

पेट खराब होने का कारण जानना उचित उपचार की दिशा में पहला कदम है। समीर विस्तार से बताते हैं कि ज्यादातर मामलों में, पेट की सूजन, अपच और पेट खराब होने जैसी समस्याएं इसी मौसम में होती हैं।

यह सूजन निम्न कारणों से हो सकती है जैसे:

साल्मोनेला या ई.कोली जैसे जीवाणु
विषाणु संक्रमण
एलर्जी वाले खाद्य पदार्थ यानी ऐसे खाद्य पदार्थ जो पेट की परत में जलन पैदा करते हैं
अत्यधिक शराब और कैफीन का सेवन
क्रोहन रोग जैसी स्थितियां
फंगस मोल्ड्स
पैक्ड फूड में प्रिजर्वेटिव जंक और ऑयली फूड
कुछ अन्य समस्याएं
विशिष्ट दवाएं और उनके दुष्प्रभाव
फ़ूड पॉइजनिंग
स्ट्रेस और तनाव

इन कारणों का शीघ्र और सही मूल्यांकन, पेट की ख़राबी से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा तरीका है।

गट और मस्तिष्क का सीधा संबंध है । चित्र: शटरस्‍टॉक
गट और मस्तिष्क का सीधा संबंध है । चित्र: शटरस्‍टॉक

कुछ लोग जिन्हें पेट खराब होने का खतरा अधिक होता है, वे हैं:

गर्भवती महिलाएं
बच्चे (3 से 15 वर्ष की आयु)
बुजुर्ग लोग
कैंसर के रोगी, एचआईवी रोगी आदि जैसे कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली वाले लोग

यहां पेट की समस्याओं के कुछ संकेत दिए गए हैं, जिन पर आपको ध्यान देने की आवश्यकता है

जबकि कुछ लक्षण ऐसे होते हैं, जो आमतौर पर कुछ दिनों में दूर हो सकते हैं, दूसरों को डॉक्टर्स द्वारा इलाज की आवश्यकता होती है। आपको निम्नलिखित लक्षणों के बारे में पता होना चाहिए:

पेट में दर्द या ऐंठन
अपच, उल्टी और घबराहट
दस्त
तेज बुखार (101.5 डिग्री फारेनहाइट) और थकान
ठंड लगना
हल्का सिरदर्द
डिहाईड्रेशन
चक्कर आना
भूख न लगना
एसिड रिफ्लक्स
सूजन और पेट फूलना

सात घरेलू उपचार जो पेट की ख़राबी का एक पल में इलाज करेंगे

पेट की ख़राबी से छुटकारा पाने में आपकी मदद करने के लिए, डॉ समीर गट हेल्थ के लिए कुछ घरेलू उपचारों की सलाह देते हैं। हालांकि, याद रखें कि इन उपायों से केवल पेट की हल्की समस्याओं को ही ठीक किया जा सकता है। किसी अन्य मामले में, डॉक्टर से परामर्श करना उचित है।

दही आपकी गट हेल्थ के लिए फायदेमंद है। चित्र : शटरस्टॉक
दही आपकी गट हेल्थ के लिए फायदेमंद है। चित्र : शटरस्टॉक

ये उपाय आपके लक्षणों से राहत पाने में मदद कर सकते हैं:

1. दही: “अच्छे” बैक्टीरिया के साथ, दही पेट की समस्याओं के इलाज के लिए सबसे अच्छे विकल्पों में से एक है।

2. जीरा: इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आपके दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं।

3. अदरक: इसमें जिंजरोल और शोगोल जैसे यौगिक होते हैं। तो अदरक को चूसने या चबाने से पेट की समस्या दूर हो जाती है।

4. बेकिंग सोडा के साथ नींबू का रस: एक गिलास नींबू के रस में बेकिंग सोडा और पानी मिलाकर पीने से लीवर का स्राव बढ़ता है और आंतों की गतिशीलता में सुधार होता है। यह पेट दर्द को खत्म करने में मदद कर सकता है।

5. लौंग : 1-2 लौंग चबाने से गैस कम होती है और पेट का स्राव बढ़ता है जिससे अपच और दर्द ठीक हो जाता है।

6. एलोवेरा जूस: एक गिलास एलोवेरा जूस पीने से सूजन कम हो सकती है और पेट के दर्द का इलाज करने में मदद करने के लिए अतिरिक्त पेट के एसिड को पतला कर सकते हैं।

7. पुदीना और पानी: पुदीने की पत्तियों का सेवन और खूब पानी पीने से पेट की ख़राबी से छुटकारा मिल सकता है। पुदीने में मेन्थॉल होता है जो दर्द से राहत देता है और उल्टी और दस्त को रोकता है।

डॉ समीर की सलाह है कि ” यदि लक्षण 2-3 दिनों के भीतर कम नहीं होते हैं, तो सर्वोत्तम उपचार प्राप्त करने के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लेना आवश्यक है।”

पुदीना का चाय आपको कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है। चित्र-शटरस्टॉक।

अब जानिए क्‍या इन समस्‍याओं से बचा जा सकता है?

गर्मी के मौसम में मौसम की स्थिति के कारण ज्यादातर लोगों को पेट खराब होने का अनुभव होता है। लेकिन पेट की परेशानी से बचने के लिए आप कुछ सावधानियां और उपाय कर सकतती हैं-

दिन भर में छोटे-छोटे भोजन करें या भोजन को ठीक से चबाने पर ध्यान दें
वसायुक्त, मसालेदार, तले हुए और जंक फूड से बचें
अधिक सब्जियां, फल और फाइबर का सेवन करें
खूब पानी पिएं
कोई डेयरी उत्पाद न लें, खासकर यदि आप लैक्टोज इनटोलरेंट हैं
तनाव के स्तर को नियंत्रित करें
कैफीन, शराब और शीतल पेय से बचें
ओवर ईटिंग न करें

यह भी पढ़ें : डायबिटीज का संकेत हो सकता है बार-बार भूख या प्यास लगना, जानिए इस बारे में सब कुछ

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।