Diwali 2021: लेडीज, इस दिवाली कॉकटेल पर करें थोड़ा कंट्रोल, वरना बढ़ सकते हैं स्वास्थ्य जोखिम

Published on: 30 October 2021, 20:00 pm IST

त्योहारों का मौसम (festive season) आ गया है, और आप कॉकटेल (cocktails) के साथ 'चीयर्स' कहने के लिए उत्साहित हैं! लेकिन अगर आप शराब के नशे में धुत्त हो जाते हैं, तो यह हानिकारक हो सकता है।

Zyaada sharab peena hanikarak hai
इस न्यू इयर अपने शराब के सेवनको नियंत्रित रखें इन कम एल्कोहोलिक ड्रिंक्स के साथ।चित्र: शटरस्टॉक

दिवाली (Diwali 2021) बस नजदीक है, और इसका मतलब है कि करीबी दोस्तों और परिवार के साथ मिलने-जुलने का सिलसिला शुरू होने वाला है। पूरे साल के इस समय आप अपना फेवरिट फूड (favourite food) और ड्रिंक्स (drinks) का सेवन करने के लिए तैयार रहते हैं। लेकिन इनके सेवन की मात्रा को मॉडरेशन में रखना बहुत जरूरी है। अगर आप उन लोगों में से हैं, जो नशे में धुत्त होने तक पीते हैं, तो रुकने का वक्त आ गया है। 

लेकिन उससे पहले, आइए समझते हैं कि क्या होता है अत्यधिक शराब (excessive drinking) पीना? 

अत्यधिक शराब पीना क्या है?

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एण्ड प्रीवेन्शन (CDC) के अनुसार, अत्यधिक शराब पीने में भारी मात्रा में शराब पीना शामिल है। महिलाओं के लिए, बिंज ड्रिंकिंग (binge drinking) में एक ही अवसर के दौरान 4 या अधिक ड्रिंक पीने को कहते है। दूसरी ओर, ज्यादा शराब (excess drinking) पीने को प्रति सप्ताह 8 या अधिक ड्रिंक के रूप में परिभाषित किया गया है। लेकिन क्या यह स्वास्थ्य के लिए हानिरहित है या नकारात्मक प्रभाव डालता है? जानिए इसके दुष्परिणाम!

sharab peene ke nuksaanलंबे समय तक शराब पीना जानलेवा है। चित्र : शटरस्टॉक

अधिक शराब के सेवन के दुष्प्रभाव!

डॉ अंकुर गर्ग कहते हैं, “90% शराब को पचाने में लिवर को करीब 1 घंटे का समय लग सकता है। हालांकि, यह समय विभिन्न प्रकार की शराब के लिए अलग है। अल्कोहल की मात्रा जितनी अधिक होती है, इसे संसाधित करने में उतना ही अधिक समय लगता है। जब आप अत्यधिक शराब का सेवन करते हैं, तो जो शराब असंसाधित रह जाती है, वह आपके शरीर में फैल जाती है, और आपके मस्तिष्क और हृदय को प्रभावित करने लगती है।”

अगर आप एक के बाद एक पैग लेते रहते हैं, तो आपका शरीर प्रभावित होगा! शराब के कुछ नकारात्मक प्रभावों में डिहाईड्रेशन (dehydration) और मांसपेशियों में वृद्धि की कमी (muscle loss) है।

यह आपके चयापचय पर नकारात्मक प्रभाव (bad digestion), लिवर की क्षति (liver damage) और वसा वृद्धि को बढ़ावा (fat gain) भी दे सकता है। यह नींद की गुणवत्ता में कमी (bad sleeping pattern) का भी कारण है।

Sharab ko limit mein peeyeशराब का सीमा में ही सेवन करें। चित्र:शटरस्टॉक

डॉ रश्मि ताराचंदानी कहती हैं, “जब आप अधिक मात्रा में पीते हैं, तो आपका पाचन तंत्र खराब हो जाता है। आप गैस (acidity), सूजन (bloating), भरा हुआ पेट, दस्त (diarrhea) या यहां तक ​​कि दर्दनाक मल (painful stool) का अनुभव कर सकते हैं। बहुत अधिक शराब पीने से सिरदर्द (headache) और अनिद्रा (insomnia) होने की भी संभावना होती है।”

डॉ गर्ग बताते हैं कि अधिक शराब का नियमित सेवन लंबे समय में आपके शरीर पर हानिकारक प्रभाव डाल सकता है। उन्होंने कहा,  “शराब से संबंधित लिवर की बीमारी के शुरुआती चरणों में, कोई संबंधित लक्षण नहीं होते हैं। किसी को बीमारी के बारे में पता भी नहीं चल पाता। यदि लक्षण मौजूद हैं, तो वे आम तौर पर ऊपरी पेट की परेशानी, थकान, वजन घटने, भूख न लगना और मतली और उल्टी के रूप में शुरू होते हैं।”

जो लोग लिवर की बीमारी से पीड़ित हैं, उनमें आमतौर पर पीलिया, नींद न आना, पेट फूलना, पैरों में सूजन, आसानी से चोट लगना और सेंसरियम (sensorium) जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।

Limit mein sharab ka sewan kareलिमिट में शराब का सेवन किया जा सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

तो, क्या है ड्रिंक लेने का सही तरीका? 

यदि आप पार्टी के मौसम का आनंद लेना चाहते हैं, तो बेझिझक शराब पिएं। डायेटरी गाइडलाइंस फॉर अमेरिकन दिशा निर्देश देते हैं कि शराब का सेवन नियंत्रित रूप से करना चाहिए। महिलाएं एक दिन में केवल एक पैग या उससे कम शराब का सेवन कर सकती हैं। 

तो लेडीज, इस दिवाली शराब के सेवन को कंट्रोल करें और अपनी सेहत का ध्यान रखें। 

यह भी पढ़ें: दिवाली सफाई के दौरान अकसर बीमार पड़ जाती हैं, तो ये हो सकते हैं डस्ट एलर्जी के संकेत

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें