फॉलो
वैलनेस
स्टोर

सर्दियों में डायबिटीज के साथ भी रह सकती हैं स्‍वस्‍थ, बस इन 5 फूड्स का करें सीमित मात्रा में सेवन

Published on:1 January 2021, 12:30pm IST
अगर आप डियबिटीज से पीड़ित हैं तो सर्दियों में आपको अपने खानपान का विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती है। हम बता रहे हैं उन फूड्स के बारे में जिनसे आपको करना चाहिए परहेज।
विनीत
  • 84 Likes
सर्दियों में डायबिटीज के रोगी रहें अधिक सतर्क। चित्र-शटरस्टॉक।

सर्दियों का मौसम डायबिटीज के रोगियों के लिए काफी परेशानी भरा हो सकता है। क्योंकि सर्दियों हमारे आसपास ऐसे कई फूड्स मौजूद होते हैं, जो बेहद स्वादिष्ट होते हैं। लेकिन आपके ब्लड शुगर लेवल को अनियंत्रित करने के लिए जिम्मेदार होते हैं। हमारे पास सही जानकारी न होने की वजह से हम अक्सर इन फूड्स का सेवन कर लेते हैं। हालांकि ऐसा नहीं है कि सभी फूड्स आपके लिए नुकसानदायक होते हैं। लेकिन अगर आप डियबिटीज से पीड़ित हैं तो सर्दियों में आपको अपने खानपान का विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती है।

डायबिटीज एक ऐसी गंभीर समस्या है जो विश्व भर में तेजी से अपने पैर पसार रही है। द लांसेट जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, 2030 तक लगभग 98 मिलियन भारतीय डायबिटीज से पीड़ित होंगे। यह आंकड़े काफी गंभीर हैं। साथ ही जब सर्दियों के मौसम की बात आती है, तो हमें अधिक सचेत रहने की जरूरत होती है।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

वैसे तो हमें सर्दियों का मौसम डायबिटीज के रोगियों के लिए बेहद जोखिम भरा होता है। लेकिन अपने खानपान में कुछ बदलाव कर के हम इसके जोखिम को कम कर सकते हैं। हमें इसके लिए अपने कुछ पसंदीदा व्यंजनों से भी परहेज करना पड़े तो आपको इसमें सहयोग करने की जरूरत है। क्योंकि लंबे समय तक ऐसा रहने से आपके लिए बेहद गंभीर स्थिति पैदा हो सकती है।

इसलिए हम आपको 5 ऐसे फूड्स के बारे में बता रहे हैं, जिनका सर्दियों में बहुत अधिक सेवन किया जाता है, लेकिन डायबिटीज के रोगियों के लिए थोड़े जोखिम भरे हो सकते हैं। ऐसे में आपको इन फूड्स से परहेज करने की जरूरत है। चलिए जानते हैं ये 5 फूड्स कौन से हैं।

  1. गुड़

वैसे तो गुड़ पूरे साल उपलब्ध रहता है। लेकिन सर्दियों के मौसम में लोग अपने आहार में इसे विशेष रूप से शामिल करते हैं। गजक, गुड़ की चिक्की या गुड़ के साथ बनाए जाने वाले व्यंजनों का सर्दियों में आम तौर पर लोग काफी सेवन करते हैं। जबकि गुड़ एक प्राकृतिक चीनी का एक रूप है, लेकिन यह अभी भी ग्लाइसेमिक इंडेक्स की रेंज पर अधिक है। इसलिए डायबिटीज के रोगियों को सर्दियों के दौरान इससे परहेज करने की जरूरत है।

गुड़ में चीनी से ज्‍यादा मिठास और पोषक तत्‍व होते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
  1. मक्की की रोटी

सर्दी के मौसम में मकई या मक्की के आटे से बनी रोटी ज्यादातर घरों में देखने को मिलती है। मक्की की रोटी और सरसों का साग सर्दियों में लोगों का पसंदीदा फूड है। हालांकि मक्की के रोटी के स्वास्थ्य लाभ भी हैं जैसे कि यह हृदय स्वास्थ्य में सुधार करती है।

यह भी पढ़ें: कोविड-19 के दौर में आज रात पार्टी का है प्‍लान, तो इन बातों का जरूर रखें ध्‍यान

मक्की की रोटी का ग्‍लाइसेमिक इंडेक्‍स मध्यम होता है। इसलिए इसका नियमित रूप से सेवन करना या अधिक मात्रा में सेवन करना डायबिटीज रोगियों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। मधुमेह रोगी मक्की की रोटी खा सकते हैं, लेकिन मॉडरेशन में।

  1. मीठे पेय पदार्थ

सर्दियों के मौसम में हम अपने शरीर को गर्म रखने के लिए कई तरह के गर्म पेय पदार्थों का सेवन करते हैं। हालांकि सादा चाय या कॉफ़ी स्वास्थ्यवर्धक है। लेकिन सर्दियों में खुद को गर्म रखने के लिए चीनी वाली चाय, कॉफी या हॉट चॉकलेट जैसे ड्रिंक्स का सेवन करना आपके लिए डायबिटीज का जोखिम बढ़ा सकता है।

  1. शहद

सर्दियों के मौसम में गले की खराश, सर्दी-खांसी जैसी अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से राहत पाने के लिए शहद को घरेलु नुस्खे के रूप में अक्सर इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि, मधुमेह रोगियों को इसके उपयोग से बचना चाहिए क्योंकि यह एक प्राकृतिक स्वीटनर है, इसमें बहुत अधिक चीनी होती है जो उनके रक्त शर्करा के साथ गड़बड़ कर सकती है।

आपको जंक फूड से बचना चाहिए। चित्र: शटरस्‍टाॅॅक
  1. तला-भुना खाना

सर्दियों के मौसम में जैसे-जैसे ठंड बढ़ने लगती है, अक्सर तले भुने और गर्म फूड्स का सेवन अधिक करने लगते हैं। हम सभी भली भांति जानते हैं कि तले हुए खाद्य पदार्थों में ट्रांस फैट मौजूद होता है, जो हमारे शरीर में सूजन का कारण बन सकता है सिर्फ इतना ही नहीं यह आपके शरीर में इंसुलिन प्रतिरोध को बढ़ाने के लिए भी जिम्मेदार साबित हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें: नए साल में स्‍मोकिंग छोड़ना चाहती हैं, तो ये 5 टिप्‍स कर सकते हैं आपकी मदद

यह भी ध्‍यान रहे

हालांकि, किसी भी मौसम में समय-समय पर अपने चिकित्सक से परामर्श लेना बेहद जरूरी है। क्योंकि वे आपकी स्थिति के अनुसार आपको बेहतर तरीके से गाइड कर सकते हैं। इसलिए सर्दियों के मौसम में अपने खानपान में बदलाव को लेकर अपने चिकित्सक से परामर्श लेना आपके लिए आवश्यक है।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।