सर्दियों में यदि आपके भी पैर रहते हैं ठंडे, जानिए क्या हो सकता है कारण

Published on: 10 December 2021, 21:00 pm IST

यूं तो हमारा शरीर हमेशा गर्म रहता है मगर सर्दियों में हाथ-पैर ठंडे रहना समस्या और बढ़ा सकता है। इसकी वजह हमेशा गिरता तापमान नहीं है, बल्कि हाथ-पैर ठंडे होने की कई और वजह भी हो सकती हैं।

sunishchit karen ki aapake pair saaph aur sookhe rahen
सुनिश्चित करें कि आपके पैर साफ और सूखे रहें । चित्र : शटरस्टॉक

सर्दियों में हाथ-पैर (Cold Feet and Hands) ठंडे रहना सामान्य लग सकता है। मगर यदि गर्म कपड़े (Woolen Clothes) , जुराबें और अच्छा खानपान लेने के बावजूद आपके हाथ-पैर ठंडे रहते हैं, तो यह चिंता का विषय है। मौसम में बढ़ती ठंड के अलावा यह कुछ स्वास्थ्य जोखिमों का भी संकेत हो सकता है। ऐसे में आपको डॉक्टर से संपर्क करने की ज़रूरत हो सकती है।

यहां जानिए सर्दियों में हाथ-पैर ठंडे होने के सामान्य कारण

1 वातावरण का प्रभाव

आसपास के तापमान में कमी, चाहे वह सामान्य हो या मानव निर्मित, यह रक्त परिसंचरण को प्रतिबंधित करके शरीर की गर्मी को कम करती है। साथ ही वाहिकाओं को संकुचित करता है। यह शांत वातावरण में हमें जीवित रखने का एक प्रभावी तरीका है।

2 चिंता और तनाव

ज़्यादा चिंता और तनाव के कारण भी एड्रेनालाईन हॉर्मोन (Adrenaline Hormone) निकलता है। जो रक्त वाहिकाओं को कसना शुरू कर देता है। जिसकी वजह से शरीर ठंडा रहता है।

तनाव लेने की वजह से आपके हाथ पैर ठंडे हो सकते हैं। चित्र: शटरस्टॉक

पर इनके अलावा यह कुछ बीमारियों का भी संकेत हो सकता है

एनीमिया

यदि आपके शरीर में खून की कमी है, तो आपके हाथ-पैर हमेशा ठंडे रह सकते हैं। शरीर में खून की कमी की वजह से अंगों में ऑक्सीजन (Oxygen) की आपूर्ति कम हो जाती है। जिसके परिणामस्वरूप सेलुलर स्तर पर चयापचय की प्रक्रिया कम हो जाती है।

हाइपोथायरायडिज्म

थायराइड हार्मोन नियंत्रण ब्लड सर्कुलेशन (Blood circulation), दिल की धड़कन और शरीर के तापमान के नियमन के लिए जिम्मेदार है। थायराइड हार्मोन का स्तर कम होने से चयापचय गतिविधि कम हो जाती है और बदले में हाथ और पैर ठंडे हो जाते हैं।

तंत्रिका विकार

तंत्रिका क्षति (Nerve Damage) के कारण या तो एक्सटर्नल होते हैं जैसे चोट लगना, ट्रॉमा, जलन आदि। या फिर इंटरनल जैसे लिवर या गुर्दे की बीमारी, पोषक तत्वों की कमी, संक्रमण आदि। इन रोगियों के हाथ-पैर भी ठंडे रहते हैं।

सर्दियों में खुद को गरम रखें। चित्र: शटरस्टॉक

ये तरीके आपको ठंडे हाथ-पैर की समस्या से निजात दिला सकते हैं

मोटे मोजे और चप्पल: गर्म, मोटे और अच्छी तरह से इंसुलेटेड मोजे और जूते पहनने चाहिए।

शारीरिक गतिविधि : नियमित रूप से व्यायाम करें क्योंकि यह रक्त प्रवाह को बढ़ाता है और ठंडे हाथ-पैरों को रोकने का एक प्रभावी तरीका है। कूदना, दौड़ना, तेज चलना या बस घूमना ही काफी है।

गर्म पानी से स्नान : यह सबसे आसान और सबसे प्रभावी तरीका, जिससे 10-15 मिनट के भीतर तुरंत राहत मिल जाएगी।

इसके अलावा, सोने के समय के लिए हीटिंग पैड, गर्म पानी की बोतलें या रूम हीटर का इस्तेमाल भी किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : डायबिटीज कंट्रोल करने में मदद कर सकती है गहरी और अच्छी नींद, शोध में आया सामने

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें