फॉलो
वैलनेस
स्टोर

आपके लिए भी मुश्किल है झुककर पैर के अंगूठे को छूना? ये हो सकता है इन शारीरिक समस्‍याओं का संकेत

Updated on: 10 December 2020, 12:02pm IST
पैर के अंगूठे को छू पाना सिर्फ आपके शरीर के लचीलेपन के बारे में ही नहीं, बल्कि आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के बारे में भी बहुत कुछ बताता है। अगर आप ऐसा नहीं कर पा रहीं हैं, तो आपको इसके कारण भी जान लेने चाहिए।
  • 89 Likes
अगर आप पैर का अंगूठा नहीं छू पाती हैं, तो यह कई समस्‍याओं की ओर इशारा करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्या कभी किसी ने आपको अपने पैर के अंगूठे को छूने की चुनौती दी है? क्या किसी ने कहा है कि यदि आप इसे ठीक से कर सकती हैं, तो यह आपके स्वास्थ्य के बारे में काफी कुछ बताता है, कि आप कितनी स्वस्थ हैं। क्या ऐसा करते हुए आपने कभी थकान महसूस की है?

अगर आपने पहले कभी इस तरह से करने की कोशिश की है और अगर अपना बेस्ट देने के बाद भी आप इसे ठीक से नहीं कर पाती हैं, तो यह दिखाता है कि आपकी जीवन शैली कितनी गतिहीन है।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

आमतौर पर कहते हैं कि अगर आप अपने पैर के अंगूठे को छू नहीं पाती हैं, तो यह संकेत होता है कि आपका शरीर पर्याप्त लचीला नहीं है। शरीर में सुचारू रूप से रक्त के संचार और मांसपेशियों में खिंचाव के लिए लचीलेपन की आवश्यकता होती है। यदि हम लचीले नहीं हैं, तो खेल खेलते समय या अपने रूटीन वर्क निपटाते हुए भी चोटिल हो सकते हैं। साथ ही हम अपने शरीर के कई हिस्सों में ऐंठन भी महसूस कर सकते हैं।

आप सोच रहे होंगे कि इसमें क्या बड़ी बात है, अगर आप अपने पैर की उंगलियों को सही तरीके से नहीं छू सकती हैं। हमारे योग और पिलाटे विशेषज्ञ, साथ ही लक्ष्मण योग और पिलेट्स के संस्थापक, भवानी पिनिसेट्टी हमें बताएंगे कि ऐसा क्यों है।

अगर अपने पैर के अंगूठे को नहीं छू सकते हैं, तो इसके 5 कारण हो सकते हैं:

1. यह दर्शाता है फेशिया (fascia) के कारण आपकी हैमस्ट्रिंग (hamstrings) टाइट हैं।

2. यह बताता है कि आपकी कूल्हे की मांसपेशियां बिल्कुल लचीली नहीं है। आपके शरीर के निचले हिस्से में दर्द हो सकता है, खासकर जब आपकी जीवनशैली गतिहीन हो।

3. इसका मतलब यह भी है कि आपके काल्‍फ का एक्सटेन्सोर (lumbar extensors) टाइट है।
4. दुख की बात यह है कि इसका मतलब यह भी है कि इसमें आपका पेट रुकावट बन रहा है, क्योंकि उसमें बहुत ज्यादा फैट है।

5. यह दर्शाता है कि आप अपनी दिनचर्या में बहुत ज्यादा एक्टिव नहीं हैं।

 

अध्ययनों ने भी संकेत दिया है कि सक्रिय रूप से पैर की उंगलियों को 30 सेकंड या 1 मिनट तक छूने पर ध्यान केंद्रित करना, हमारी हैमस्ट्रिंग की मांसपेशियों को 4 सप्ताह में लंबा करने के लिए पर्याप्त है? ऐसा नहीं है कि आपने इसे एक दिन किया और बस छोड़ दिया। योग और पिलाटे विशेषज्ञ भवानी पिनिसेट्टी के मुताबिक लचीलापन बढ़ाने के लिए इस अभ्यास को निरंतर करते रहना चाहिए।

इन दो योगासनों से बढ़ाएं लचीलापन

विशेषज्ञ भवानी पिनिसेट्टी के अनुसार, दो आसन हैं जो लचीलापन बढ़ाने में आपकी मदद कर सकते हैं, जिससे आपके पैर की उंगलियों को छूने में आसानी होती है। वे हैं उत्तानासन और पादहस्तासन हैं। जब कोई इन आसनों को करता है, तो शरीर मांसपेशियों में खिंचाव और लंबाई के कारण होने वाले सुखद दर्द के साथ बेहतर महसूस करता है।

उत्तानासन एक तीव्र खिंचाव है। शब्द का अर्थ संस्कृत में “गहन” (intense) है, जबकि ताना (tana) “खिंचाव” है। इस मुद्रा में सिर हृदय से नीचे की ओर लटका रहता है, जिससे ताजा ऑक्सीजन युक्त रक्त मस्तिष्क में प्रवाहित होता है। सही तकनीक के साथ इस आसन का अभ्यास करना महत्वपूर्ण है, नहीं तो इससे किसी व्यक्ति की हैमस्ट्रिंग या पीठ चोटिल हो सकती है।

कपोतासन
कपोतासन

पैर की उंगलियों को छूने के लिए आगे झुकने का सही तरीका –

किसी भी अन्य योग मुद्रा या व्यायाम की तरह, आपको ऐंठन और मांसपेशियों में ऐंठन से बचने के लिए पैर की अंगुली को ठीक से छूने की जरूरत है। इसलिए, इसे ध्यान से जानें।

साधारण फॉरवर्ड बेंड (आगे की ओर झुकना) पादहस्तासन में,

शरीर के पिछले हिस्से में आयामी प्रतिरोध (tensional resistance) की रेखा पैरों और रीढ़ की मांसपेशियों के माध्यम से जुड़ी हुई होती है। हैमस्ट्रिंग में तनाव को आप महसूस कर सकती हैं। जब हम खड़े होते हैं, तो हमारे पैरों को कुछ हद तक जुड़ना पड़ता है या थोड़ा ऊपर की ओर उठना पड़ता है। इसका मतलब है हैमस्ट्रिंग और काफ की मांसपेशियों (calf) (दोनों आगे की ओर झुकती हैं) का संतुलन बनाने के लिए थोड़ा सा आपस में जुड़े होते हैं। यह एक नाजुक संतुलन क्रिया है।

पादहस्‍तासन
पादहस्‍तासन

पैर के अंगूठे को नियमित रूप से छूने के चार फायदे

1. यह मुद्रा हैमस्ट्रिंग खिंचाव को बढ़ाने के साथ ही कूल्हे के जोड़ों में लचीलापन बढ़ता है।
2. यह यकृत अग्न्याशय (liver pancreas), प्लीहा (spleen), गुर्दे (kidney) और अधिवृक्क ग्रंथियों (adrenal glands) सहित पूरे पेट और श्रोणि क्षेत्र (pelvic region) की मालिश करता है।

3. यह इस क्षेत्र में अतिरिक्त वजन को कम करने में मदद करता है, साथ ही रीढ़ की नसों और मांसपेशियों को संचारण को उत्तेजित करता है।

4. आगे की ओर झुकना मन के लिए शांत और सुखदायक होता है।

तो लेडीज इस चुनौती को स्‍वीकार करें और अपने पैर की उंगलियों को छूने की कला में महारत हासिल करें। क्योंकि यह पूरी तरह से आपके शरीर के लिए फायदेमंद है।

यह भी पढ़ें – World Aids Day 2020 : प्‍यार, सेक्‍स और महामारी के बीच जरूरी है एड्स के बारे में सब कुछ जानना 

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *