वैलनेस
स्टोर

क्या गर्भावस्था के दौरान दौड़ने से गर्भपात हो सकता है? जानिये इस बारे में क्‍या कहती हैं स्त्री रोग विशेषज्ञ

Published on:22 April 2021, 13:01pm IST
गर्भावस्था के दौरान सक्रिय रहने की सलाह दी जाती है, लेकिन क्या आप ऐसे में दौड़ सकती हैं? हम आपको इसके बारें में और जानकारी देंगे।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 97 Likes
गर्भावस्‍था के दौरा कुछ सावधानियां बरतना जरूरी है। चित्र : शटरस्‍टॉक

क्या आपको सेक्स एंड सिटी ’से शेरलॉट याद है, जो अपनी गर्भावस्था के दौरान भी अपना रनिंग रुटीन बनाए रखना चाहती थी। अंतत: जटिलताओं से बचने के लिए उसे दौड़ना बंद कर देना पड़ा। उन्होंने स्क्रीन पर जो चित्रण किया था, वह गर्भवती महिलाओं के लिए आज भी एक बड़ा प्रश्न है, खासकर अगर वे अपनी फिटनेस को लेकर सक्रिय हैं।

गर्भवस्था के दौरान हमने दौड़ने को समझने के लिए, मदरहुड अस्पताल, नोएडा की प्रसूति एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ, डॉ. मनीषा रंजन से बात की। उन्होंने गर्भावस्था के दौरान शारीरिक रूप से सक्रिय रहने के बारे में बात की।

डॉ रंजन कहती हैं, “आप गर्भावस्था के दौरान दौड़ सकती हैं, लेकिन थोड़ा सतर्क रहना होगा।”

लगता है कि शेरलॉट ने अपनी प्रेग्नेंसी के दौरान दौड़ने का चुनाव करके सही काम किया! डॉ. रंजन बताती हैं कि दौड़ने से आपके बच्चे को कोई नुकसान नहीं होता। इसलिए, यदि आप एक रनर-प्री-प्रेग्नेंसी हैं, तो अपनी दिनचर्या जारी रखना पूरी तरह से ठीक है।

यहां कुछ चीजें हैं, जिनकी और डॉक्टर आपका ध्यान दिलाना चाहती हैं

वे कहती हैं, “आपको कुछ सावधानियों का पालन करने की आवश्यकता है। जैसे अच्छे रनिंग शूज़, स्पोर्ट्स ब्रा और बेली सपोर्ट बैंड। आपको वर्कआउट से पहले, वर्कआउट के दौरान और बाद में बहुत सारे तरल पदार्थ पीने की जरूरत है।

जानिए गर्भावस्था के दौरान क्या सामान्य है और क्या नहीं। चित्र-शटरस्टॉक।

गर्भावस्था के दौरान शारीरिक गतिविधि शरीर के लिए अच्छी होती है, लेकिन इसकी अधिकता ठीक नहीं। साथ ही जब आप गर्भवती हों, तो मांसपेशियों में चोट लगने की संभावना अधिक होती है। इसलिए, लंजेस, स्क्वाट्स और लाइट वेटलिफ्टिंग जैसी एक्सरसाइज शामिल करें।

प्री वर्कआउट स्‍नैक 

गर्भावस्था के दौरान व्यायाम करते समय आपके शरीर को अतिरिक्त कैलोरी की आवश्यकता होती है। वर्कआउट के दौरान अपनी ऊर्जा के स्तर को बनाए रखने के लिए, नट बटर के साथ फल या टोस्ट की तरह का एक प्री-एक्सरसाइज स्नैक लें।”

आपको पता होना चाहिए कि दौड़ने का विकल्प कब चुनना है और कब नहीं, खासकर गर्भावस्था के दौरान।  आप तीसरी तिमाही (सप्ताह 28 से 40) तक इसे जारी रख सकती हैं। जब तक आप आरामदायक महसूस करती हैं, तब तक आप व्यायाम कर सकती हैं। यदि आप ठीक महसूस करती हैं, तो आप अपने बच्चे के जन्म तक सक्रिय रह सकती हैं।

डॉ. रंजन कहती हैं, “अमेरिकन कॉलेज ऑफ ओब्स्टेट्रिशियन एंड गायनेकोलॉजिस्ट (ACOG) के अनुसार, गर्भवती महिलाओं को हर हफ्ते कम से कम 150 मिनट की मध्यम-तीव्रता वाली एरोबिक गतिविधि करनी चाहिए।

ये ऐसे वर्कआउट हैं, जो आपके हृदय की दर को बढ़ाते हैं और पसीने को प्रेरित करते हैं। इसमें दौड़ना भी शामिल है।”

जानिए क्‍यों जरूरी है गर्भावस्‍था में व्‍यायाम करना। चित्र: शटरस्‍टॉक
जानिए क्‍यों जरूरी है गर्भावस्‍था में व्‍यायाम करना। चित्र: शटरस्‍टॉक

ध्यान दें कि गर्भावस्था के दौरान एक्सट्रीम एक्सरसाइज नहीं करनी है

डॉ रंजन कहती हैं “आपको किसी भी प्रकार की कठोर शारीरिक गतिविधि में शामिल होने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए। यदि आपकी जटिल गर्भावस्था है, तो दौड़ना जोखिम भरा हो सकता है और रक्तस्राव, प्लेसेंटल समस्याएं या पूर्व-एक्लम्पसिया हो सकता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए, विशेषज्ञों का कहना है कि आपकी व्यायाम दिनचर्या को बनाए रखने में कोई बुराई नहीं है। ”

यहां कुछ अन्य व्यायाम हैं जिन्हें आप गर्भावस्था के दौरान चुन सकती हैं

सक्रिय रहना और व्यायाम करना, जिनसे पसीना आए वे गर्भावस्था के दौरान आदर्श होते हैं। किसी भी व्यायाम को करना जोखिम भरा हो सकता है। तैराकी, तेज चलना, इनडोर स्टिल साइकिल चलाना और कम प्रभाव वाले एरोबिक्स, एक पेशेवर ट्रेनर के मार्गदर्शन में और आपके डॉक्टर की मंजूरी के बाद ही शुरू करें।

कुछ गलत होने पर अपने डॉक्टर से संपर्क करें

डॉ रंजन ने सिफारिश करती हैं, “व्यायाम शुरू करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें। आपका डॉक्टर आपके चिकित्सकीय इतिहास के आधार पर व्यक्तिगत व्यायाम दिशा निर्देश पेश कर सकता है।”

तो, लेडीज गर्भावस्था के दौरान अपनी फिटनेस दिनचर्या पर ध्यान दें, लेकिन अपने डॉक्टर से इसके बारे में सलाह लें!

यह भी पढ़ें – एक्‍सपर्ट बता रहीं हैं क्‍या है बेबी प्‍लान करने की सही उम्र और लेट प्रेगनेंसी के जोखिम

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।