क्या पैडेड ब्रा ब्रेस्ट हेल्थ के लिए नुकसान दायक हो सकती है? आइए एक्सपर्ट से जानते हैं

कई महिलाएं अपने ब्रेस्ट के साइज को बड़ा दिखाने के लिए या टोन दिखाने के लिए पैडेड ब्रा और पुश अप ब्रा पहनती हैं, लेकिन क्या ये ब्रा पहनना ब्रेस्ट हेल्थ के लिए सही है?
Bra ke fabric ki jaanch karein
उम्र के साथ ब्रा के साइज़ में फर्क आने लगता है। ऐसे में टाइट ब्रा पहनने से बचें।। चित्र: शटरस्टॉक
संध्या सिंह Updated: 14 Aug 2023, 07:35 pm IST
  • 145

पुश अप और पैडेड ब्रा आजकल महिलाओं की अलमारी की ज़रूरत बन गई हैं। हालाँकि ये निश्चित रूप से आकर्षक हैं क्योंकि वे तुरंत समग्र शरीर को बेहतर बना देते है और ब्रेस्ट के आकार को बेहतर बनाने में मदद करते है, इन ब्राओं को पहनने के अपने नुकसान है हालाँकि इन्हें कभी-कभार पार्टियों और अन्य महत्वपूर्ण आयोजनों में पहनने में कोई नुकसान नहीं है। लेकिन यदि आप इसे नियमित रूप से पहनती है तो जरूर ये ब्रेस्ट के लिए नुकसानदायक हो सकता है।

क्या पैडेड और अंडरवायरड ब्रा से कैंसर हो सकता है

इस विषय पर विशेष जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने गायनकलॉजिस्ट और आर्केडी वीमेन हेल्थ केयर एंड फर्टिलिटी की डायरेक्टर डॉ पूजा दिवान से बात की।

डॉ. पूजी दिवान बताती है कि “पैडेड और अंडर वायर्ड ब्रा पहनने से कैंसर नहीं होता है। अगर आपको पैडेड ब्रा पहनना पसंद है तो इसे आराम से पहन सकती है और अगर आपको ब्रा पहनना नही पसंद है तो आप इस नही पहने ये पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है।”

डॉ. पूजी दिवान बताती है कि इससे केवल एक ही खतरा हो सकता है कि कभी कभी अंजरवायर्ड ब्रा से वायर बाहर निकल जाती है जो कि आपके लिए खतरनाक हो सकता है। अगर आपके ब्रेस्ट में ये वायर लग जाए तो आपको चोटिल कर सकती है और आपके बहुत दर्द दे सकती है। कई बार ज्यादा फिट और टाइट ब्रा पहनने से आपके ब्रेस्ट में दर्द, दबाव हो सकता है।

breast pain loose weight
कई लोगों को ब्रा पहनने के बाद एक कॉन्फिडेंट महसूस होता है। चित्र: शटरस्टॉक

क्या ब्रा नही पहनने से ब्रेस्ट लटक जाते हैं

इंस्टाग्राम पर डॉ. क्यूट्रस नाम से मसहूर डॉ तान्या बताती है कि ब्रा पहनने से ब्रेस्ट पर कोई प्रभाव नही पड़ता है। ये न आपके ब्रेस्ट को लटकने से रोकती है और न ही इसे टोन करती है। ये लोगों की अपनी पसंद हो सकती है कि आपको ब्रा पहनना पसंद है या नहीं।

कई लोगों को ब्रा पहनने के बाद एक कॉन्फिडेंट महसूस होता है। जबकि कुछ महिलाएं ब्रेस्ट के साइड बड़े होने के कारण बिना ब्रा के कम्फर्टेबल महसूस नहीं करती। कई लोगों के ब्रेस्ट छोटे होते है तो वे इसे थोड़ा शेप और टोन दखाने के लिए पैडेड ब्रा पहनते है लेकिन इससे कुछ समय के लिए आपके ब्रेस्ट टोन दिख सकते है इसके बाद वो वैसे ही हो जाएंगे जैसे उनकी प्रकृतिक बनावटा है। क्योंकि ब्रा से इस पर को ई प्रभाव नहीं पड़ता है।

डॉ तान्या बताती है कि इससे जुड़ी जो अफवाहें है वो भी झूठ हैं। अंडर वायरड ब्रा पहनने से या काले रंग की ब्रा पहनने से किसी प्रकार का कैंसर नही होता है। ये सिर्फ आपकी पसंद और न पसंद पर निर्भर करता है कि आपको कैसी ब्रा पहननी है या नहीं पहननी है।

वायर्ड ब्रा से कुछ स्थितियों में हो सकती है परेशानी

गर्भावस्था और स्तनपान

डॉ. पूजा दिवान बताती है कि गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान स्तन का आकार बदल सकता है, और कुछ महिलाओं को लग सकता है कि वायर्ड ब्रा इस दौरान असहज हो जाती है या पर्याप्त सहायता प्रदान नहीं करती है।

breast cancer ke illaj ke liye screening test
खराब फिटिंग वाली तार वाली ब्रा असुविधा पैदा कर सकती है। चित्र : शटरस्टॉक

गलत फिट की ब्रा

खराब फिटिंग वाली तार वाली ब्रा असुविधा पैदा कर सकती है, त्वचा में गहराई तक जा सकती है। इससे आपके ब्रेस्ट पर निशान पड़ सकते है जिसे ब्रा बर्न कहा जाता है। इससे आपको जलन हो सकती है।

रखरखाव और साफ करना कठिन

वायर्ड ब्रा को अपने आकार को बनाए रखने और अंडरवायर को नुकसान से बचाने के लिए अक्सर अधिक सावधानी से धोने और संभालने की आवश्यकता होती है। मशीन में धोने या अनुचित देखभाल के कारण तार मुड़ सकते हैं या टूट सकते है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

फिजीकल एक्टिविटी

तीव्र शारीरिक गतिविधियों, जैसे कि इंटेंस एक्सरसाइज या खेल में भाग लेने पर, वायर्ड ब्रा पहनने से असुविधा हो सकती है। चलते समय तार खिसक सकते हैं या त्वचा में घुस सकते हैं, जिससे चोट का खतरा बढ़ जाता है।

ये भी पढ़े- दर्दनाक हो सकता है पैर में मोच आना, जानिए ऐसी स्थिति में आपको क्या करना है

  • 145
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख