वैलनेस
स्टोर

क्या चिकन सूप पीने या चिकन खाने से भी बढ़ सकता है बर्ड फ्लू का खतरा!

Updated on: 29 July 2021, 17:14pm IST
भारत के कई राज्यों में बर्ड फ्लू के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं और इससे हमारी खुद को सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी और अधिक बढ़ रही है। क्या आपको इस समय चिकन सूप या चिकन जैसी चीजें खानी चाहिए?
मोनिका अग्रवाल
  • 92 Likes
बर्ड फ्लू से बचने के लिए ध्‍यान रहे कि चिकन अच्‍छी तरह पका हुआ हो। चित्र: शटरस्टॉक
बर्ड फ्लू से बचने के लिए ध्‍यान रहे कि चिकन अच्‍छी तरह पका हुआ हो। चित्र: शटरस्टॉक

जहां अभी कोविड का खतरा पूरी तरह टला नहीं है वहीं एक नया खतरा आन पधारा है और उसका नाम है बर्ड फ्लू (Bird Flu)। यह पक्षियों में फैलने वाली एक बीमारी है और इस इंफेक्शन के चलते बहुत से पक्षी अपनी जान गंवा रहे हैं। हिमाचल प्रदेश, केरल, पंजाब, राजस्थान जैसे राज्यों में रोजाना बर्ड फ्लू के केस बढ़ते जा रहे हैं। एक्सपर्ट्स भी H5 N1 इंफेक्शन को लेकर बहुत अधिक चिंतित नजर आ रहे हैं। 

यह भी एक ऐसा इंफेक्शन है जो महामारी में बदल सकता है। इसलिए अभी से सुरक्षा नियमों का पालन करना जरूरी है। बर्ड फ्लू एक ऐसा इंफेक्शन है जो आसानी से पक्षियों से इंसानों में आ सकता है, इसलिए नॉन वेज लोगों का खतरा तो बढ़ता ही है, साथ में पोल्ट्री का सेवन करने वालों को भी सावधान हो जाना चाहिए।

जानिए कैसे फैलता है यह संक्रमण 

एवियन फ्लू (Avian Flue) पक्षियों में सबसे ज्यादा खतरनाक होता है और यह पक्षियों के मल के द्वारा मनुष्यों में भी ट्रांसफर हो सकता है। आपको यह जान लेना चाहिए कि बर्ड फ्लू इंसान से इंसान में नहीं फैलता है, यह केवल पक्षी से इंसान में फैलता है।

दिल्ली के एम्स में बर्ड फ्लू से पहली मौत का मामला सामने आया है। चित्र: शटरस्टॉक
दिल्ली के एम्स में बर्ड फ्लू से पहली मौत का मामला सामने आया है। चित्र: शटरस्टॉक

 अगर आपको यह इंफेक्शन हो जाता है तो खांसी, जुखाम, छाती में दर्द, गले में दर्द जैसे लक्षण आपको देखने को मिल सकते हैं।

क्या अंडे या चिकन खाने से आपको बर्ड फ्लू हो सकता है?

इस बात के बहुत कम प्रमाण उपलब्ध हैं कि बर्ड फ्लू मीट, चिकन या अंडों द्वारा आपको संक्रमित कर सकता है। अगर आप नॉन वेज खाती हैं और चिकन या किसी भी प्रकार के मीट को घर लाने के बाद पकाने से पहले अच्छे से धो लेती हैं, तो आपके लिए यह चीजें सुरक्षित हैं और वायरस की कैरियर नहीं हैं।

चिकन से बर्ड फ्लू होने का रिस्क

WHO के अनुसार जब मीट या चिकन को आप आंच पर पकाती हैं, तो गर्मी के कारण उसके अंदर मौजूद होने वाले सभी बैक्टीरिया, जर्म्स और वायरस आदि नष्ट हो जाते हैं। इस कारण कोई भी पेथोजेन आपके शरीर के अंदर जा कर आपको बीमार नहीं कर सकता है।

इसलिए आपको यह ख्याल दिमाग से निकाल देना चाहिए कि अगर आप चिकन खाते हैं तो आपको बर्ड फ्लू होने का रिस्क है। लेकिन आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि चाहे आप कोई भी नॉन वेज चीज खा रही हैं उसे अच्छे से पका लें और कच्चा न छोड़ें।

अगर आप अपनी और अधिक सुरक्षा का ख्याल रखना चाहती हैं, तो पहले नॉन वेज चीजों को उबाल भी सकती हैं ताकि उसे अधिक हीट का एक्सपोजर मिल सके।

इसके साथ ही आपको हाइजीन का ध्यान भी रखना होगा और केवल उसी जगह से चीज खरीदें जहां आप अधिक विश्वास करती हैं या जो आपको अच्छी और ब्रांडेड चीज दे सके।

यह भी पढ़ें- बर्ड फ्लू से देश में पहली मौत, तो क्या आपको इससे सावधान होने की जरूरत है?

 पकाने से पहले चिकन और अंडों को धोना चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक
पकाने से पहले चिकन और अंडों को धोना चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्या आपको पकाने से पहले चिकन और अंडों को धोना चाहिए?

  1. बहुत से लोगों का मानना है कि जब आप किसी चीज को धोती हैं, तो उस पर लगे सभी जर्म्स पानी के साथ बह जाते हैं, लेकिन इस केस में ऐसा होना असम्भव है। 
  2. इससे बेहतर तरीका है कि आपको एक पेपर टॉवल लेना चाहिए और उसकी मदद से सारी चीजों को साफ कर लेना चाहिए और इसके बाद उसे अच्छे से पकाएं।
  3. अंडे लेते समय भी यह कोशिश करें कि ज्यादा दिन पुराने अंडे न लें और ताजे अंडों का ही सेवन करें।

अगर आप हाइजीन का ध्यान रखती हैं, तो आप खाने के माध्यम से बर्ड फ्लू से संक्रमित होने से बच सकती हैं। अगर आप किसी रेस्टोरेंट या बाहर खाना खाने जाती हैं तो उनकी क्वालिटी चैक करें। वे हाइजीन मेंटेन कर रहे हैं या नहीं इस बात का भी पूरा ख्याल रखें। क्योंकि यह आपकी सुरक्षा का सवाल है। खाना बनाने से पहले एक बार अपने हाथ भी जरूर धो लें।

मोनिका अग्रवाल मोनिका अग्रवाल

स्वतंत्र लेखिका-पत्रकार मोनिका अग्रवाल ब्यूटी, फिटनेस और स्वास्थ्य संबंधी विषयों पर लगातार काम कर रहीं हैं। अपने खाली समय में बैडमिंटन खेलना और साहित्य पढ़ना पसंद करती हैं।