और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है बॉडी मसाज या अभयंगम, आयुर्वेद विशेषज्ञ बता रहे हैं इसके फायदे

Updated on: 10 December 2020, 12:41pm IST
मसाज न सिर्फ आपको रिलैक्स करती है, बल्कि यह आपके शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है। जानिए क्या हैं मसाज के फायदे।
विदुषी शुक्‍ला
  • 76 Likes
फर्टिलिटी मसाज कंसीव करने में आपकी मदद कर सकती है।।चित्र: शटरस्टॉक

क्या आप नियमित रूप से बॉडी मसाज करवाती हैं? अगर नहीं तो हम बताते हैं क्यों यह आपके फिटनेस और वेलनेस रूटीन का हिस्सा होना चाहिए।

बॉडी मसाज असल में सदियों पुरानी हमारी वैदिक और आयुर्वेदिक पद्धति का हिस्सा हैं। आयुर्वेद में इसे अभयंगम कहते हैं, जिसमें तेल से शरीर की मसाज की जाती है। हमने योग गुरु वैद्य वंदन धीर से जाने बॉडी मसाज के फायदे-

1. ब्लड सर्कुलेशन सुधरता है

बॉडी मसाज में हमारी मासंपेशियों पर दबाव पड़ता है और उनमें वह मूवमेंट किया जाता है, जो मूलतः हम नहीं करते। इससे शरीर के हर अंग में रक्त का प्रवाह बढ़ता है। ब्लड सर्कुलेशन बढ़ने से आपको बहुत फायदे मिलते हैं। आंतरिक अंगों के बेहतर फंक्‍शन से लेकर त्वचा तक, हमारे पूरे शरीर को ब्लड सर्कुलेशन से फायदा मिलता है।

2. पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है

वैद्य वंदन जी बताते हैं,”अभयंगम में हम लोअर एब्डोमेन यानी पेट के निचले हिस्से की मसाज करते हैं। यह मसाज पूरी आंतों से होते हुए लिवर और स्प्लीन तक जाती है, जिससे पेट में फंसी गैस बाहर निकलती है। यह नहीं इस मसाज से सभी पाचक रस और एसिड्स सुचारू रूप से निकलते हैं।

शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है बॉडी मसाज या अभयंगम। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. शरीर में लचक बढ़ती है और दर्द से आराम मिलता है

“अभयंगम के दौरान एक खास दबाव से ही आपकी मांसपेशियों को मसाज दी जाती है, जिससे मांसपेशियां स्ट्रेच होती हैं। स्ट्रेच होने पर मांसपेशियों की फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ती है।”, बताते हैं वैद्य वंदन जी। मांसपेशियों के अतिरिक्त भी, हमारे हाथ पैरों और अन्य जोड़ों को मसाज के दौरान चलाया जाता है जिससे शरीर की लचक बढ़ती है। जब शरीर ज्यादा फ्लेक्सिबल होगा तो मांसपेशियों पर स्ट्रेन भी कम पड़ेगा। जिसके कारण आप मांसपेशियों में होने वाले दर्द से निजात पाती हैं।

4. चर्बी कम करने में कारगर है मसाज

जब हमारे शरीर को दबाव डालकर मसाज किया जाता है, तो गर्मी उत्पन्न होती है। यह गर्मी मेटाबॉलिक रेट को बढ़ाती है, जिससे फैट स्टोर होने के बजाय पचता है। यही नहीं नियमित मसाज आपकी मांसपेशियों को टोन करती है और चर्बी को कम करती है।

बॉडी मसाज हमारी आयुर्वेदिक पद्धति का हिस्सा हैं।चित्र-शटर स्टॉक।

5. मूड सुधरता है और डिप्रेशन भी दूर हो सकता है

“हमारे शरीर में 30 प्रेशर पॉइंट्स होते हैं, हमारे तलवे और हथेलियों से हमारे सभी अंगों को प्रभावित किया जा सकता है। इसके साथ ही हमारी गर्दन पर हमारे शरीर के 7 रिफ्लेक्स सेंटर होते हैं जिससे हमारे प्रजनन अंग, किडनी और लिवर जुड़े होते हैं। जब मसाज की जाती है, तो इन सभी अंगों के प्रभावित होने के कारण कुछ हॉर्मोन्स निकलते हैं। एड्रनलाईन और कॉर्टिसोल भी उन हॉर्मोन्स में से एक हैं, जिससे मूड अच्छा होता है”,बताते हैं वैद्य वंदन जी।
अगर आप तनाव ग्रस्त रहती हैं, तो नियमित मसाज आपके लिए बहुत फायदेमंद है। कुछ खास मसाज अवसाद जैसी गंभीर बीमारियों के इलाज के रूप में भी इस्तेमाल होती हैं।

6. आपको बेहतर नींद आती है

यह तो आप जानते ही हैं कि मसाज से आपके शरीर की थकान मिटती है और आप रिलैक्स होते हैं। जब आपका शरीर रिलैक्स होता है, तो आपको अच्छी नींद आती है। अगर आपको अनिद्रा की समस्या है तो आपको बॉडी मसाज का सहारा जरूर लेना चाहिए।

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।