क्या आपको भी रात में बार-बार पेशाब करने के लिए उठना पड़ता है? तो ये 5 कारण हो सकते हैं जिम्मेदार

Published on: 29 May 2022, 20:00 pm IST

क्या रात में बार-बार पेशाब आना किसी बीमारी का लक्षण है? शायद हां! यहां रात में बार-बार पेशाब आने के कई संभावित कारण बताए गए हैं।

baar baar peshab aane ke karan
क्या किसी गंभीर बीमारी का संकेत है बार-बार पेशाब आना? चित्र : शटरस्टॉक

आधी रात में पेशाब करने के लिए उठना आापकी नींद को खराब कर सकता है। खराब नींद का मतलब है अगले दिन के लिए भारी थकान और लो प्रोडक्टिविटी। क्या आप इस बात को लेकर चिंतित हैं कि आप पेशाब करने के लिए आधी रात को क्यों उठते हैं? नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन के अनुसार, 40 वर्ष से अधिक उम्र के 69 प्रतिशत पुरुष और 76 प्रतिशत महिलाएं रात में कम से कम एक बार टॉयलेट का उपयोग करते हैं। 30 साल से अधिक उम्र के हर तीन वयस्कों में से एक रात में कम से कम दो बार बाथरूम जाता है।

मूत्राशय का भरा हुआ होना, विशेष रूप से रात में, और बार-बार बाथरूम जाना काफी दर्दनाक और कष्टप्रद हो सकता है। वास्तव में, यह कुछ के लिए शर्मनाक हो सकता है, लेकिन यह नींद के लिए हानिकारक भी हो सकता है।

फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट, गुरुग्राम के निदेशक, आंतरिक चिकित्सा, डॉ सतीश कौल कहते हैं, रात में बार-बार पेशाब आना कई स्थितियों या कई बीमारियों का कारण हो सकता है।

वह कहते हैं, “रात में बार – बार पेशाब करने जाना, निक्टुरिया के रूप में भी जाना जाता है।”

क्या ज्यादा पानी पीने के कारण बार-बार पेशाब आ सकती है?

बहुत से लोग मानते हैं कि रात में अधिक पेशाब करना सामान्य है क्योंकि वे सोने से पहले बहुत सारा पानी पीते हैं। मगर ऐसा हमेशा नहीं होता है। यदि आप सोने से पहले बहुत सारा पानी पीते हैं, तो आप कभी-कभी पेशाब करने के लिए उठ सकते हैं, लेकिन यदि आप रात में बार-बार पेशाब कर रही हैं, तो यह कोई समस्या भी हो सकती है।

रात में बार-बार पेशाब आने के कारण

1 आयु

रात के समय बार-बार पेशाब आना किसी की उम्र पर निर्भर कर सकता है, और इसकी हमेशा जांच होनी चाहिए। डॉ कौल कहते हैं, “यह 50 साल से अधिक उम्र के लोगों में प्रोस्टेट बढ़ने के कारण हो सकता है।”

baar - baar peshab jane ke lakshan
बार – बार पेशाब आना सही नहीं है। चित्र- शटरस्टॉक।

2 मधुमेह

अधिकांश जनसंख्या जिनकी यह स्थिति है, वे 50 या 60 वर्ष से अधिक आयु के हो सकते हैं। यह किसी भी उम्र में हो सकता है। इसके अलावा, यह स्थिति मधुमेह के विकास का प्रारंभिक संकेत हो सकती है।

3 एल्डोस्टेरोन लेवल

जब एड्रेनल समाप्त हो जाते हैं तो हम कम एल्डोस्टेरोन बनाते हैं, और हम अपने मूत्र में बड़ी मात्रा में आवश्यक खनिजों को खत्म कर देते हैं। इसके अलावा, अत्यधिक रक्तचाप और कम पोटेशियम का स्तर उच्च एल्डोस्टेरोन के स्तर के कारण हो सकता है। कम पोटेशियम के स्तर के परिणामस्वरूप, मांसपेशियों में ऐंठन हो सकती है।

4 गर्भावस्था

नोक्टुरिया गर्भावस्था का एक सामान्य प्रारंभिक संकेत है। यह गर्भावस्था के प्रारंभिक चरण में हो सकता है, लेकिन बाद में ऐसा होना असामान्य नहीं है जब बढ़ता हुआ गर्भ मूत्राशय पर दबाव डालता है।

5 यूटीआई

यूटीआई बार-बार पेशाब आने का एक प्रमुख कारण है। यदि आप यूटीआई से जूझ रहे हैं तो आपको दिन में और रात में कई बार पेशाब जाना पड़ सकता है। आपको पेट में दर्द, बुखार, थकान, पेट के निचले हिस्से में दर्द, योनि में जलन, खुजली आदि का अनुभव भी हो सकता है।

यदि आपको रात में बार-बार पेशाब जाना पड़ रहा है तो आपको अपने डॉक्टर से करनी चाहिए। साथ ही, इसका निदान करने के लिए संभावित कारणों की जांच की जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें : मोटी महिलाओं को ज्यादा होता है जेस्टेशनल डायबिटीज का जोखिम, जानिए कैसे करना है बचाव

 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें