ऐप में पढ़ें

फेफड़े ही नहीं पेट के लिए भी खतरनाक है वायु प्रदूषण, जानिए इसके लक्षण और बचाव के उपाय

Published on:28 November 2021, 08:00am IST
बढ़ते प्रदूषण के कारण आपने श्वास व्यायाम पर ज्यादा ध्यान देना शुरू कर दिया है, ताकि फेफड़े स्वस्थ रहें। पर शायद आप नहीं जानतीं कि ये आपके पेट को भी प्रभावित कर सकता है।
gut health aur air pollution
वायु प्रदूषण आपके पेट के स्वास्थ्य को भी प्रभावित कर सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

आजकल वातावरण में बढ़ते स्मॉग के कारण सांस लेना लोगों के लिए मुश्किल होता जा रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) के अनुसार दूषित हवा में सांस लेने से फेफड़ों के कैंसर का खतरा बढ़ सकता है। परंतु क्या आप जानते हैं कि यह आपके पाचन तंत्र (Digestive system) पर भी कहर बरपा सकता है?

क्या कहते हैं अध्ययन

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी के अनुसार वायु प्रदूषक गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट पर भी प्रतिकूल प्रभाव डाल रहे हैं। कई अध्ययनों ने वायु प्रदूषण और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकार के बीच एक संबंध का खुलासा हुआ है। जिसमें इंफ्लेमेटरी बोवल डीजीज (आईबीडी), एपेंडिसाइटिस, इरिटेबल बोवल सिंड्रोम और शिशुओं में गट संक्रमण शामिल हैं।

इतना ही नहीं, एनवायरनमेंट इंटरनेशनल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार – वायु प्रदूषकों के संपर्क में आने से गट के माइक्रोबायोटा की संरचना बदल जाती है, जिससे मोटापा, मधुमेह, गैस्ट्रोइंटेसटाइनल विकार और अन्य पुरानी स्थितियों का खतरा बढ़ जाता है।

प्रदूषण के बीच अपनी गट हेल्थ का ख्याल रखें। चित्र:शटरस्टॉक

पहचानिए इसके लक्षण

विशिष्ट प्रदूषक के आधार पर, यह दस्त, कब्ज या घबराहट पैदा कर सकता है। थकान एक सामान्य लक्षण है, क्योंकि शरीर दूषित पदार्थों से लड़ने के लिए ऊर्जा का उपयोग करता है। खराब हवा वाले लोगों में सामान्य फ्लू जैसे लक्षण आम हैं।

इसके अलावा, वायु प्रदूषण की वजह से आपके पेट में गैस बन सकती है और माल त्याग में दिक्कत आ सकती है। पेट में एंठन, हल्का दर्द और ब्लोटिंग जैसे लक्षण भी देखने को मिल सकते हैं।

बढ़ते वायु प्रदूषण के बीच आप अपने पाचन तंत्र को सुरक्षित रखने के लिए क्या कर सकते हैं?

1 संतुलित आहार लें

इस मौसम में संतुलित आहार लेना बहुत ज़रूरी है, नहीं तो आपके पाचन तंत्र में समस्या आ सकती है। यदि आप भारी भोजन कर रहे हैं, तो गुनगुना पानी बीच – बीच में पीते रहें। यह आपके पाचन तंत्र में मौजूद प्रदूषण की गंदगी को बाहर रखेगा।

2 अपने आप को हाइड्रेटेड रखें

अपनी दिनचर्या में ढेर सारा पानी और अन्य प्राकृतिक पेय जैसे कोकोनट वॉटर शामिल करें। ये पेय प्रदूषित हवा और आपके पेट में होने वाली समस्याओं के खिलाफ प्राकृतिक विषहरण में मदद करते हैं।

3 खुद को एक्टिव रखें

सर्दियों के मौसम में खुद को एक्टिव रखना बहुत ज़रूरी है। खासकर जब वातावरण में प्रदूषण इतना बढ़ गया हो। प्राणायाम या योभ्यास करें इससे आपका पाचन तंत्र भी अच्छा रहेगा और इम्युनिटी भी बढ़ेगी।

खुद को एक्टिव रखें। चित्र : शटरस्टॉक

4 अधिक मात्रा में शराब का सेवन न करें

शराब और अन्य शर्करा युक्त पेय कैलोरी युक्त पेय हैं, जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली और पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसलिए ड्रिंक्स की मात्रा को कम करें और अपने पाचन तंत्र की रक्षा के लिए प्रतिरक्षा बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ खाएं।

5 विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थ खाएं

यह हमारे शरीर के लिए सबसे शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है। ड्रमस्टिक्स, अजमोद, गोभी जैसी सब्जियां, आंवला, संतरा और अमरूद जैसे फलों के साथ विटामिन सी से समृद्ध आहार लें। अपने पेट पर वायु प्रदूषण के प्रभावों से लड़ने के लिए प्रदूषित माहौल में जाने से बचें।

तो मास्क लगाकर रहें और इन उपायों का पालन करें।

यह भी पढ़ें : एक बार में 100 सिगरेट पीने के बराबर है कमरे में मॉस्किटो कॉइल जलाकर सोना , जानिए इसके स्वास्थ्य जोखिम

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।