फॉलो
वैलनेस
स्टोर

क्‍या आपकी नींद भी आधी रात को टूट जाती हैं? तो जानिए इसके लिए जिम्‍मेदार 6 कारण

Published on:22 December 2020, 19:36pm IST
अगर आप अच्छी नींद नहीं ले पातीं, तो यह आपके शारीरिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। हम आपको कुछ ऐसे कारकों के बारे में बता रहे हैं, जो आपकी नींद की परेशानी का कारण बन सकते हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 95 Likes
जानिए आधी रात को नींद टूटने का क्‍या कारण हो सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

अक्सर जब आप सुबह उठती हैं तो क्या आप सिरदर्द महसूस करती हैं? या आप महसूस करती हैं कि 7 से 8 घंटे सोने के बावजूद अच्छी तरह से आराम नहीं कर पा रही हैं। यह शायद इसलिए है क्योंकि रात भर में आपकी नींद कई बार टूट चुकी होती है।

इस तरह महसूस करने वाली आप सिर्फ अकेली नहीं हैं, क्योंकि यह समस्या कई लोगों के लिए एक सामान्य जीवनशैली समस्या है। 8,000 से अधिक प्रतिभागियों के साथ जर्नल स्लीप मेडिसिन द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया कि लगभग 40 प्रतिशत लोग आधी रात में जाग गए। तो ऐसे में आपको अपने स्वास्थ्य की बेहतरी के लिए इस समस्या को ठीक करने की जरूरत है।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

आपकी स्लीप साइकल को ठीक करने के लिए आपको यह जानने की आवश्यकता है कि आखिर वास्तव में नींद में गड़बड़ी का क्या कारण है। इसके बारे में जानने के लिए हमने मुंबई के वॉकहार्ट हॉस्पिटल के मनोचिकित्सक डा. सोनल आनंद से बात की। हम आपको सोते समय आधी रात में जागने के लिए जिम्मेदार 6 कारणों के बारे में बता रहे हैं। जानें क्या हैं ये कारण-

1. बेडरूम का माहौल

डा. सोनल के अनुसार, रात के दौरान तापमान में बहुत अधिक परिवर्तन आपकी नींद को परेशान कर सकता है। इसके अलावा अत्य़धिक तापमान भी आपको एक अच्छी नींद लेने में मुश्किल पैदा कर सकता है।

डिस्‍टर्ब स्‍लीप का कारण आपका बिस्‍तर भी हो सकता है। चित्र- शटरस्टॉक
डिस्‍टर्ब स्‍लीप का कारण आपका बिस्‍तर भी हो सकता है। चित्र- शटरस्टॉक

इसके अलावा आपके आस-पास के अन्य कारक जो आपकी नींद में बाधा डाल सकते हैं उनमें असुविधाजनक बिस्तर, अचानक तेज आवाज, तेज रोशनी साथ ही बिस्तर पर मच्छर या कीड़े शामिल हैं। आप एक शांतिपूर्ण नींद के लिए आई रेप (eye wraps) या ईयर प्लग (earplugs) का इस्तेमाल कर सकती हैं।

2. सोने की आदतों में करें सुधार

रात को अच्छी नींद के लिए, अपनी नींद की आदतों में सुधार करने की जरूरत है। जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, आपको कम नींद की आवश्यकता होती है बड़े वयस्कों को लगभग 7 घंटे की नींद की आवश्यकता होती है।

यदि आप दोपहर में सोती हैं, तो यह बहुत संभव है कि आप रात के दौरान जागेंगी और बैचेन रहेंगी। नींद के बिना लंबे समय तक बिस्तर पर लेटना नींद की गुणवत्ता और मात्रा को कम करता है।

देर रात तक काम करना आपके नींद के पैटर्न को बदल सकता है, यह वीकेंड्स पर आपकी नींद में बाधा डालने के साथ ही सामान्य दिनों में भी आपकी नींद को प्रभावित कर सकता है। साथ ही शाम को बहुत अधिक चाय, कॉफी और पानी पीने से मूत्राशय देर रात तक भरा हो सकता है, जिसकी वजह से यह सोते समय आपको बार-बार टोयलेट जाने का कारण बन सकता है।

3. मेडिकल कंडीशन भी हैं जिम्मेदार

यह समस्या वृद्ध वयस्कों में सबसे आम है, लेकिन सभी आयु वर्ग के लोगों को प्रभावित कर सकता है। कई चिकित्सा स्थितियां हैं जो एक रात के बीच में जागने का कारण हो सकती हैं। ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया सबसे आम स्थितियों में से एक है जो परेशान नींद का कारण बन सकती है।

अधूरी नींद शारीरिक और मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान पहुंचाती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
अधूरी नींद शारीरिक और मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान पहुंचाती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

इसके अलावा कई अन्य स्थितियों में पुलमोनरी समस्साएं, अलजाइमर जैसे तंत्रिका संबंधी समस्याएं, पैरों में बैचेनी, हाइपरथायरायडिज्म, दर्द और मधुमेह शामिल है। साथ ही कुछ दवाएं भी नींद में परेशानी का कारण बन सकती हैं।

4. मनोवैज्ञानिक कारण भी हो सकते हैं

तनाव को अनिद्रा का मुख्य कारण माना जाता है। शरीर और मस्तिष्क में मौजूद चिंता और तनाव आपकी स्लीप साइकल को प्रभावित कर सकती है। टर्मिनल इंसोमनिया अक्सर उन रोगियों में देखी जाती है जो डिप्रेशन का शिकार हैं। पोस्ट-ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर बुरे सपने और अक्सर रात के दौरान जागने की स्थिति के साथ जुड़ा हुआ है।

5. अल्कोहल या निकोटीन का सेवन

शराब सोने में मदद कर सकती है, लेकिन बहुत जल्दी जागने का कारण भी बन सकती है। लंबे समय में, शराब मस्तिष्क को दबा देती है और नींद की समस्याओं को जन्म देती है। धूम्रपान भी नींद में खलल डालता है। ज्यादा तर धूम्रपान करने वाले लोग सोने के बाद जल्दी उठ जाते हैं, क्योंकि उनका शरीर निकोटीन के लिए तरसने लगता है।

6. सोते समय फोन का इस्तेमाल करना

हममें से ज्यादातर लोग सोने जाने से ठीक पहले अपने फोन या लैपटॉप का इस्तेमाल करते हैं। यह न केवल हमारे शारीरिक स्वास्थ्य को बल्कि हमारे मानसिक स्वास्थ्य को भी खराब कर रहा है।

मोबाइल से निकलने वाली नीली रोशनी आपकी नींद को डिस्‍टर्ब करती है। चित्र: शटरस्टॉक
मोबाइल से निकलने वाली नीली रोशनी आपकी नींद को डिस्‍टर्ब करती है। चित्र: शटरस्टॉक

एक अध्ययन के अनुसार, जो लोग सोने से ठीक पहले अपने स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं, वे अनिद्रा या नींद की कमी का सामना करते हैं। इसके अलावा, यह सिर्फ मानसिक थकान का कारण नहीं बनता है बल्कि यह फोकस और उत्पादकता को भी कम करता है।

एक अच्छी नींद के लिए आप ये 6 चीजें कर सकती हैं

1. अपना फ़ोन कहीं भी अपने पास न रखें। हो सके तो इसे स्लीप मोड पर रखें।
2. सोने से एक घंटे पहले एक कप कैमोमाइल टी पिएं।
3. बिस्तर पर जाने से पहले सॉफ्ट संगीत सुनें।
4. गर्म पानी का शॉवर लें।
5. आप बुनियादी योग पोज़ का अभ्यास कर सकती हैं जो नींद को प्रेरित करने में मदद कर सकते हैं।
6. हल्का खाना खाएं लेकिन खुद को भूखा न रखें। इसके अलावा, सोने से ठीक पहले बहुत अधिक पानी न पिएं।

तो लेडीज, अपने स्लीप साइकल को ठीक करें और सुनिश्चित करें कि यह आपको हमेशा हेल्दी रखेगा।

यह भी पढ़ें – जानिए क्‍यों फंस जाती है पेट में गैस, हम बता रहे हैं इसके 5 कारण और बचने के उपाय

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।