वैलनेस
स्टोर

जानिए क्‍यों फंस जाती है पेट में गैस, हम बता रहे हैं इसके 5 कारण और बचने के उपाय

Published on:21 December 2020, 20:15pm IST
पेट में गैस का रुके रहना कोई मजाक नहीं है, वास्तव में यह गंभीर समस्याओं का कारण बन सकती है। जो भविष्य में आपके लिए काफी असहनीय हो सकती है। हम आपको बता रहे हैं कि इस समस्या से आखिर कैसे छुटकारा पाया जा सकता है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 82 Likes
पेट में गैस का फंस जाना एक दर्दनाक स्थिति हो सकती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्या आपने कभी अपने सीने या पेट में अचानक दर्द महसूस किया है? ऐसा होने पर ज्यादातर लोग इमरजेंसी रूम में पहुंचने के लिए दौड़ते दिखाई देते हैं। क्योंकि ऐसे में कार्डियक एपिसोड जैसी समस्याएं होने का संदेह होता है। लेकिन सौभाग्य से यह ज्यादातर मामलों में पेट में फंसी हुई गैस की समस्या होती है।

आप शायद पहले से ही इस बात को अच्छी तरह जानती हैं कि हम अपनी आंत में फंसी गैंस को फार्टिंग (Farting) या बर्पिंग (Burping) के जरिए शरीर से बाहर निकालते हैं। लेकिन कुछ लोग हैं, जो गैस्ट्रिक समस्याओं का अनुभव करते हैं। यह दिन-प्रतिदिन के जीवन में बाधा डाल सकता है, जिससे गंभीर असुविधा हो सकती है।

जानिए पेट में क्‍यों फंस जाती है गैस

1. इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम (Irritable bowel syndrome)

जब आपका पाचन पर्याप्त तरीके से नहीं होता है, तो इससे इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम की समस्या होती है। साथ ही यह तब भी हो सकता है जब आप अपने आहार में फाइबर को कम मात्रा में शामिल कर रही हैं। हों।

2. क्रोहन डिजीज (Crohn’s disease)

क्रोहन रोग (Crohn’s disease) उन लोगों में पेट में गैंस फंसने की समस्या का कारण बन सकता है, जो लोग खाद्य असहिष्णुता का अनुभव करते हैं। यह लैक्टोज असहिष्तुता या कोई विशेष फूड एलर्जी है।

3. बैक्टीरियल ओवरग्रोथ (Bacterial overgrowth)

आंत में बैक्टीरियल ओवरग्रोथ, पेट में अतिरिक्त गैस का कारण बन सकती है, क्योंकि यह आपकी पाचन प्रक्रिया को बाधित करता है।

4. कब्ज

अस्वस्थ्यकर भोजन का सेवन करने के कारण होने वाली कब्ज, गैस का दूसरा कारण है। ठीक से शौच नहीं करने से कार्बन डाइऑक्साइड, हाइड्रोजन और मीथेन जैसी गैंसों का संचय होता है। साथ ही सल्फर का उत्पादन इस स्थिति को बदतर और बदबूदार बनाता है।

5. च्युइंग गम का सेवन, धूम्रपान और अल्कोहल का सेवन

च्यूइंग गम, धूम्रपान, और बहुत अधिक शराब पीने से भी गैस ज्‍यादा बनती है। साथ ही आपका आहार भी उत्प्रेरक का काम कर सकता है। क्रूसिफायर सब्जियों (जैसे ब्रोकोली, फूलगोभी, बीन्स) का बहुत अधिक सेवन भी गैस का कारण बन सकता है।

स्‍मोकिंग भी हो सकती है पेट में गैस बनने का कारण। चित्र: शटरस्‍टॉक
स्‍मोकिंग भी हो सकती है पेट में गैस बनने का कारण। चित्र: शटरस्‍टॉक

7. तनाव भी है कारण

आपको यह काफी आश्चर्यजनक लग सकता है, लेकिन तनाव के कारण भी आपके शरीर में गैस की समस्या हो सकती है।

फंसी हुई गैस के लक्षणों में लगातार दस्त, शौच में खून आना, बुखार, भूख न लगना, पेट में सूजन, थकान, उल्टी और भोजन निगलने में समस्याएं शामिल हैं। यह सुनने में काफी डरावना लगता है ना? सच कहें तो वास्तव में यह है भी।

आप इन 6 आसान उपायों से खुद को इस समस्‍या से बचा सकती हैं।

1. सांस लेने के तरीके को बदलें

आप विश्वास करें चाहे हैं न करें, लेकिन हम में से ज्यादातर लोग सांस लेने की कला को नहीं समझते हैं। नियम यह है कि फेफ़ड़ों को ठीक से भरने के लिए गहरी सांस लें और सुनिश्चित करें कि आपके सिस्टम में कोई अतिरिक्त गैस पीछे न रह जाए।

2. अपने खाने का तरीका बदलें

अपने आहार में अधिक फाइबर शामिल करना जरूरी है। इसके अलावा, आपको यह सुनिश्चित करने के लिए एक संतुलित आहार की आवश्यकता है कि आप अपने शरीर के लिए आवश्यक हर पोषक तत्व का उपभोग कर सकें।

खाने को ठीक से चबाने की आदत डालें। चित्र: शटरस्‍टॉक
खाने को ठीक से चबाने की आदत डालें। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. अपने भोजन को ठीक से चबाएं

अगर आपको खाने को चबाना सिर्फ एक काम लगता है, तो आप बहुत गलत हैं। आपको 32 बार खाने को चबाने वाले नियम का पालन करने की आवश्यकता है। चबाने के दौरान अपना मुंह बंद रखें अन्यथा आप खाने के साथ बहुत सारी हवा भी निगल सकती हैं, जिससे आपके पेट में गैस की समस्या हो सकती है।

4. फार्टिंग को रोके नहीं

यह शर्मनाक हो सकता है, लेकिन अपनी गैस को रोक कर रखना पूरी तरह से असहज हो सकता है। यह पेट में दर्द का कारण बन सकता है। साथ ही इससे आपका पेट भी फूला हुआ महसूस हो सकता है।

5. सि‍र्फ बैठी न रहें

हम में से ज्यादातर लोग घर से काम कर रहे हैं, इसका श्रेय कोविड-19 को जाता है। क्योंकि इसके चलते हमारे घर से बाहर निकलने की शायद ही गुंजाइश है। इसलिए हम नियमित शारीरिक गतिविधियां भी नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे में यह सुनिश्चित करें कि आप हर एक घंटे के बाद खड़े हों और थोड़ा घूमें। एक घंटे के लंबे वर्काउट सत्र से भी चीजों में भारी सुधार हो सकता है।

6. हाइड्रेट रहें

सिर्फ पानी पीना ही पर्याप्त नहीं है, पेट के बेहतर स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने के लिए आपको अन्य तरल पदार्थ जैसी ग्रीन-टी, छाछ, नारियल पानी और सूप का सेवन करने की आवश्कता है। इसके अलावा सौंफ का पानी गैस की समस्या से राहत पाने का एक बेहतर तरीका है।

खुद को हाइड्रेट रखने के लिए सूप भी पी सकती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
खुद को हाइड्रेट रखने के लिए सूप भी पी सकती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

यदि आपके लिए इनमें से कोई भी काम नहीं करता है, तो आप कुछ ओटीसी (ओवर-द-काउंटर) दवा ले सकती हैं या दर्द को शांत करने के लिए गर्म सिकाई कर सकती हैं। इसके अलावा, किसी अन्य अंतर्निहित चिकित्सा स्थिति का पता लगाने के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है।

इसलिए आप अगर गैस का अनुभव कर रही हैं तो इससे राहत पाने के लिए इन सुझावों का पालन कर सकती हैं।

यह भी पढ़ें – सेहत के लिहाज से संवेदनशील हैं कड़ाके की सर्दी के ये 40 दिन, जानिए कैसे रखना है अपना ख्याल

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।