वैलनेस
स्टोर

अपनी और अपनों की हेल्‍थ मॉनिटरिंग के लिए ये 4 टूल्‍स आपके घर में होने है बहुत जरूरी

Published on:16 May 2021, 09:00am IST
आप ऑक्‍सीजन सिलैंडर घर में स्‍टोर नहीं करना है, न ही आप अकेले कोरोनावायरस जैसी गंभीर बीमारी का इलाज कर सकते हैं। पर अपनी और अपने परिवार की स्‍वास्‍थ्‍य स्थिति जानने के लिए कुछ जरूरी डिवाइस आपके घर पर होने ही चाहिए।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 82 Likes
अपनी हेल्थ की देखरेख करने के लिए आपके पास ये टूल्स होना बेहद ज़रूरी है. चित्र : शटरस्टॉक

खुद को स्वस्थ रखने के लिए सिर्फ पौष्टिक आहार लेना और एक्सरसाइज करना ही काफी नहीं है! बल्कि अपनी मेडिकल कंडीशन के बारे में अवगत रहने के लिए भी आपके पास सही जानकारी और टूल्स होना बेहद महत्वपूर्ण है। घर पर सही हेल्थ टूल्स उपलब्ध होने से आप किसी गंभीर समस्या को पहचानकर उसका तुरंत इलाज कर पाएंगी।

अपनी हेल्थ की देखरेख करने के लिए आपके पास ये टूल्स होना बेहद ज़रूरी है

1. कोविड – 19 के मरीजों के लिए ऑक्सीमीटर:

ऑक्सीमीटर का उपयोग ऑक्सीजन के स्तर और हृदय की दर को मापने के लिए किया जाता है। ये कोरोनो वायरस रोगियों के लिए बेहद उपयोगी है, जो कई मामलों में ऑक्सीजन के स्तर में गिरावट के कारण सांस की तकलीफ से जूझते हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार, हर छह घंटे में ऑक्सीजन के स्तर पर नजर रखने की जरूरत है। बेसलाइन सैचुरेशन 94 प्रतिशत से नीचे नहीं होनी चाहिए। यदि यह 94 प्रतिशत से कम है, तो डॉक्टर से संपर्क करने की आवश्यकता हो सकती है।

अगर आपके पास ऑक्सीमीटर है तो इस्‍तेमाल करने से पहले इन बातों का विशेष ध्यान रखें-

-ध्यान रहे कि आपके नाखूनों पर नेल पॉलिश न लगी हो और न ही आपके हाथ झूठे या गीले हों।
-माप लेने से पहले, कम से कम पांच मिनट के लिए आराम करना चाहिए।

2. स्टीमर :

स्टीम इनहेलेशन सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल किए जाने वाले घरेलू उपचारों में से एक है, जो बंद नाक को ठीक करने और ठंड या साइनस संक्रमण के लक्षणों से राहत पाने में मदद करता है। विशेषज्ञों की सलाह है कि स्टीम लेने से श्वसन संबंधी समस्याओं को कम करने में मदद मिल सकती है।

भाप लेना आपके श्वसन तंत्र के लिए फायदेमंद है। चित्र: शटरस्‍टॉक

आजकल कोरोना वायरस से बचने के लिए लोग स्टीमर का काफी इस्तेमाल कर रहे हैं, क्योंकि यह बंद नाक, गले की सूजन और श्वास नली में किसी भी तरह की रुकावट को ठीक कर सकता है। इसलिए, आपके पास स्टीमर होना ज़रूरी है।

3. ब्‍लड प्रेशर मशीन:

जो लोग ब्लड प्रेशर के मरीज़ हैं उन्हें अपने पास एक डिजिटल ब्लड प्रेशर मशीन ज़रूर रखनी चाहिए। घर में ब्लड प्रेशर की मशीन रखने से आप कभी भी अपने बीपी की जांच कर सकती हैं। इससे आपको सही स्थिति की जानकारी रहेगी और आप किसी भी अनहोनी का पता लगा पाएंगी।

अमेरिकन नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के अनुसार – ब्लड प्रेशर हमेशा 5 से 10 मिनट आराम करने के बाद नापना चाहिये। इसके अलावा अगर आप डिजिटल मशीन का इस्तेमाल कर रही हैं तो रीडिंग हमेशा 2 बार लें और तनाव में इसे लेने से बचें।

4. ब्लड शुगर मशीन :

यदि आप या आपके घर का कोई सदस्‍य डायबिटीज से पीड़ित हैं, तो घर पर ब्लड शुगर मशीन रखना काफी महत्वपूर्ण हो जाता है। ऐसे में अगर आपको टाइप 2 मधुमेह है, तो आपका डॉक्टर आपको ब्लड शुगर जांचने का सही समय और अंतराल बताएंगे जिसे ध्यान रखना ज़रूर है।

ब्‍लड शुगर मशीन। चित्र: शटरस्‍टॉक

इस्तेमाल करने का तरीका :

शुरू करने से पहले, संक्रमण को रोकने के लिए अपने हाथों को अच्छी तरह से धो लें।

मीटर में एक परीक्षण पट्टी डालें। रक्त की एक छोटी बूंद पाने के लिए लैंसेट के साथ अपनी उंगली को चुभोएं। उंगली की तकलीफ को कम करने के लिए टिप के बजाय उंगलियों के किनारों का उपयोग करें।

रक्त आपके द्वारा मीटर में डाली गई टेस्ट स्ट्रिप पर जाएगा। आपका मॉनिटर रक्त का विश्लेषण करेगा और आपको ब्लड ग्लूकोज का स्तर डिजिटल डिस्प्ले पर एक मिनट के भीतर दिख जायेगा।

ये टूल्स आपको आपकी वर्तमान स्थिति के बारे में अवगत कराएंगे।

यह भी पढ़ें : Covid – 19 Treatment : जानिये स्टेरॉयड के बारे में और क्या सभी मरीजों को होती है इनकी ज़रुरत

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।